--Advertisement--

सियासत / बहराइच से सांसद सावित्री फुले का भाजपा से इस्तीफा, कहा- दलित विरोधी है पार्टी



बहराइच सांसद सावित्रीबाई फुले। बहराइच सांसद सावित्रीबाई फुले।
X
बहराइच सांसद सावित्रीबाई फुले।बहराइच सांसद सावित्रीबाई फुले।

  • सांसद ने कहा- भाजपा धीरे-धीरे आरक्षण खत्म कर रही
  • सरकार पर आरोप लगाया कहा- मैं दलित सांसद इसलिए मेरी बातों को अनसुना किया गया

Dainik Bhaskar

Dec 06, 2018, 04:02 PM IST

लखनऊ.  अपने बयानों को लेकर चर्चा में रहने वालीं बहराइच से सांसद सावित्री बाई फुले ने गुरुवार को भाजपा की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया। उन्होंने इस मौके पर भाजपा पर भी निशाना साधा। फुले ने कहा कि भाजपा दलित और पिछड़ा विरोधी है।

 

गुरुवार को लखनऊ में बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की पुण्यतिथि के मौके पर फुले ने कहा कि भाजपा दलितों के साथ-साथ पिछड़ा और मुस्लिम विरोधी है। सरकार आरक्षण खत्म करने की साजिश रच रही है और देश को मनुस्मृति से चलाना चाहती है।

 

संविधान बदलने की कोशिश कर रही भाजपा- फुले

उन्होंने कहा- दलित सांसद होने की वजह से मेरी बातों को अनसुना किया गया। संविधान खत्म करने की साजिश के साथ ही दलित, पिछड़ों का आरक्षण बड़ी बारीकी से समाप्त किया जा रहा है। 

' मनुवादियों के खिलाफ थे हनुमानजी'
सावित्री ने कहा- मुख्यमंत्री योगी ने हनुमानजी को दलित बताया है। हनुमानजी दलित थे, लेकिन मनुवादियों के खिलाफ थे। हनुमानजी दलित थे, इसलिए राम ने उन्हें बंदर बना दिया। दलितों को मंदिर नहीं, संविधान चाहिए। 23 दिसंबर को रमाबाई मैदान में महारैली करूंगी। मैं सांसद हूं, जब तक कार्यकाल है, सांसद ही रहूंगी। मैं संविधान को पूरी तरह से पालन करूंगी।"

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..