• Hindi News
  • Business
  • Seeing 'Oxygen' Written With The Name Of The Company, The Competition Of Investment, It Was Later Found Out That It Is A Finance Company; Circuit Fitted

नाम की गफलत:कंपनी के नाम के साथ ‘ऑक्सीजन’ लिखा देख निवेश की होड़, बाद में पता चला कि ये फाइनेंस कंपनी है; फिर शेयर में लोअर सर्किट लगा

मुंबई6 महीने पहले
  • नाम के फेर से बॉम्बे ऑक्सीजन का शेयर एक महीने में ही 133% चढ़ा

देश में कोरोनावायरस के बढ़ते केस के मद्देनजर ऑक्सीजन की मांग भी तेजी से बढ़ रही है। इसे देखते हुए निवेशकों ने भी शेयर बाजार में ऑक्सीजन नाम वाली कंपनियों में तेजी से निवेश करना शुरू कर दिया। यह देखे बिना कि जिस कंपनी वे निवेश कर रहे हैं, उसका ऑक्सीजन बनाने के कारोबार से कोई लेना-देना है भी या नहीं। ऐसा ही दिलचस्प किस्सा बॉम्बे ऑक्सीजन इन्वेस्टमेंट लिमिटेड के साथ देखने को मिला।

सोमवार को जैसे ही बाजार खुला, इस कंपनी का शेयर BSE की अपर सर्किट की सीमा 24,574.85 रुपए पर पहुंच गया। लेकिन मंगलवार को निवेशकों को जब पता चला कि कंपनी का ऑक्सीजन बनाने के कारोबार से कोई लेना-देना ही नहीं है, तो इसके शेयर तेजी से गिरने लगे। अंत में शेयर 5% के लोअर सर्किट के साथ 23,346.15 रुपए पर पहुंच गया। कंपनी के शेयर ने एक महीने से भी कम समय में 52 हफ्तों के उच्च स्तर पर 133% की उछाल दर्ज की। वैसे बॉम्बे ऑक्सीजन के शेयर में पिछले कुछ दिन में जबर्दस्त उछाल आया है।

मजबूत तिमाही नतीजों का भी असर
ब्रोकिंग कंपनी ट्रेडस्विफ्ट के डायरेक्टर संदीप जैन कहते हैं कि शेयर में तेजी की दूसरी वजह कंपनी का मजबूत तिमाही रिजल्ट भी रहा। कंपनी पिछली तीन तिमाहियों से मुनाफे में है और उसके पास कैश भी काफी है। ऐसे में जिन निवेशकों के पास शेयर है वे इसमें बने रहने यानी होल्ड की सलाह होगी।

ऑक्सीजन के कारोबार से जुड़ी कई कंपनियों के शेयर चढ़ने लगे
निवेशकों को गफलत केवल बॉम्बे ऑक्सीजन के नाम पर ही नहीं हुई। ऐसी कई कंपनियां हैं, जिसके नाम के आगे ऑक्सीजन लिखा है लेकिन वे इंडस्ट्रियल गैसों का भी उत्पादन करती हैं। बहरहाल, नेशनल ऑक्सीजन लि.,भगवती ऑक्सीजन लि. और गगन गैसेस समेत कई कंपनियां हैं, जिनका मुनाफा बढ़ा है। मार्केट एक्सपर्ट अविनाश गोराक्षकर कहते हैं कि इन शेयरों में नए निवेश से बचना चाहिए, क्योंकि ये पहले ही काफी ऊपर आ चुके हैं।

बॉम्बे ऑक्सीजन के शेयर की कीमत 25 मार्च के 10,000 रुपए से दोगुना से ज्यादा हो गई है। हालांकि, कंपनी की वेबसाइट पर साफ बताया गया है कि उसकी स्थापना 3 अक्टूबर, 1960 को बॉम्बे ऑक्सीजन कॉरपोरेशन लि. के रूप में हुई थी। लेकिन 3 अक्टूबर, 2018 से उसने अपना नाम बदलकर बॉम्बे इन्वेस्टमेंट्स लि. कर लिया था। कंपनी ने कहा है कि उसका मुख्य कारोबार इंडस्ट्रियल गैस के प्रोडक्शन और आपूर्ति का था, जो उसने अगस्त, 2019 से पूरी तरह बंद कर दिया है।

खबरें और भी हैं...