सेंसेक्स 146 अंक लुढ़का, लगातार 9वें सत्र में नुकसान; 8 साल में सबसे लंबी गिरावट

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • 7 फरवरी से अब तक सेंसेक्स में 1623 अंक का नुकसान
  • आईटी शेयरों में मंगलवार को ज्यादा बिकवाली, टीसीएस 3% गिरा
  • विदेशी निवेशक बाजार में लगातार बिकवाली कर रहे, सोमवार को 1240 करोड़ के शेयर बेचे

मुंबई. सेंसेक्स मंगलवार को 145.83 की गिरावट के साथ 35,352.61 पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह 35,287.16 के स्तर तक फिसल गया था। निफ्टी ने 36.60 प्वाइंट नीचे 10,604.35 पर कारोबार खत्म किया। इंट्रा-डे में इसने 10,585.65 का निचला स्तर छुआ था।

1) निफ्टी में लगातार 8वें सत्र में गिरावट

सेंसेक्स लगातार 9वें सत्र में नुकसान में रहा। यह 8 साल में गिरावट का सबसे लंबा दौर है। 9 सत्रों में सेंसेक्स को 1623 अंक (4.39%) का नुकसान हुआ है। इससे पहले मई 2011 में लगातार इतने दिन गिरावट आई थी। निफ्टी में गिरावट का मंगलवार को लगातार 8वां सत्र रहा। यह मार्च 2015 के बाद गिरावट का सबसे लंबा दौर है।

विदेशी निवेशकों की बिकवाली की वजह से बाजार में गिरावट आई। आईटी शेयरों में ज्यादा दबाव रहा। विश्लेषकों के मुताबिक, दूसरे एशियाई और यूरोपीय बाजारों से कमजोर संकेतों की वजह से भी भारतीय बाजार में बिकवाली बढ़ी।

हालांकि, बाजार की शुरुआत बढ़त के साथ हुई थी। कारोबार के दौरान सेंसेक्स में 278 अंक का उछाल आया था। यह 35,776.04 के स्तर तक चढ़ा, लेकिन ऊपरी स्तरों से बिकवाली हावी हो गई। सेंसेक्स का दिन का निचला स्तर 35,287.16 रहा।

शेयरगिरावट
विप्रो3.26%
टीसीएस3.18%
इंडसइंड बैंक2.79%
अडानी पोर्ट्स2.49%
एनटीपीसी2.44%
शेयरबढ़त
वेदांता3.34%
ग्रासिम3.02%
बीपीसीएल2.75%
जी एंटरटेनमेंट2.06%
जेएसडब्ल्यू स्टील1.78%

बीएसई पर शेयर 14.80% की बढ़त के साथ 407.60 रुपए पर बंद हुआ। इंट्रा-डे में 17.64% के उछाल के साथ 417.70 रुपए तक चढ़ा था। एनएसई पर 12.58% उछाल के साथ 407.50 रुपए पर क्लोजिंग हुई। ग्रुप के प्रमोटर के 10% शेयर बेचने की घोषणा से शेयर में तेजी आई। इमामी के प्रमोटरों ने करीब 1,600 करोड़ रुपए में हिस्सेदारी बेची है।

खबरें और भी हैं...