• Hindi News
  • National
  • Shraddha Aftab | Shraddha Body Parts Aftab Poonawalla Flat Case Latest Details

श्रद्धा को मारने के बाद आफताब ने देखा जॉनी-अम्बर ट्रायल:पुलिस को शक- पूछताछ में गुमराह करना यहीं से सीखा

नई दिल्ली2 महीने पहले

दिल्ली के श्रद्धा मर्डर केस में नया खुलासा हुआ है। दिल्ली पुलिस ने बताया है कि श्रद्धा का मर्डर करने के बाद आफताब ने हॉलीवुड सेलिब्रिटी जॉनी डेप और अम्बर हर्ड के मानहानि मुकदमे का लाइव ट्रायल देखा था, वो भी 100 घंटे से ज्यादा। आफताब की इंटरनेट सर्च हिस्ट्री से यह नई जानकारी सामने आई है।

पुलिस का कहना है कि आफताब ने इस ट्रायल का हर पहलू अच्छे से देखा और उसके बारे में पढ़ा। इसमें घरेलू हिंसा से लेकर उन सब तरह के झगड़ों की बात थी, जो अक्सर कपल्स के बीच होते हैं। पुलिस को शक है कि आफताब ने इस ट्रायल को देखकर ऐसी तरकीबें सीखीं जिनसे वह पूछताछ में खुद को संभाल पाया और पुलिस को गुमराह करता रहा।

हॉलीवुड के मशहूर एक्टर जॉनी डेप और उनकी पूर्व पत्नी अम्बर हर्ड के बीच 6 हफ्ते तक चले मानहानि केस में जॉनी डेप की जीत हुई थी।
हॉलीवुड के मशहूर एक्टर जॉनी डेप और उनकी पूर्व पत्नी अम्बर हर्ड के बीच 6 हफ्ते तक चले मानहानि केस में जॉनी डेप की जीत हुई थी।

आफताब ने पुलिस को बताया- 4 महीने तक फ्रिज में रखे श्रद्धा के टुकड़े
इससे पहले आफताब ने पुलिस को बताया था कि श्रद्धा के शरीर के 35 टुकड़े करने के बाद उसने करीब 4 महीने तक श्रद्धा के टुकड़े फ्रिज में रखे थे। श्रद्धा के मर्डर के बाद वह तय नहीं कर पा रहा था कि उसके टुकड़े को कैसे ठिकाने लगाया जाए। एक दिन अपने दोस्त के घर की छत पर टहलते हुए उसने छतरपुर जंगल देखा और शरीर के टुकड़े वहीं फेंकना तय किया। उसने कई दिनों में इस काम को अंजाम दिया।

इससे पहले तक पुलिस की जांच में यह बात सामने आई थी कि आफताब ने 18 मई को श्रद्धा का मर्डर करने के बाद करीब 3 हफ्ते तक उसके शरीर के 35 टुकड़ों काे फ्रिज में स्टोर किया था। इसके बाद उसने 16 दिनों तक इन टुकड़ों को शहर में अलग-अलग जगह डंप किया था।

महरौली स्थित इसी घर में आफताब और श्रद्धा लिव-इन में रहते थे। यहीं पर आफताब ने उसकी हत्या की और बाद में दूसरी लड़कियों को भी लेकर आया।
महरौली स्थित इसी घर में आफताब और श्रद्धा लिव-इन में रहते थे। यहीं पर आफताब ने उसकी हत्या की और बाद में दूसरी लड़कियों को भी लेकर आया।

12 नवंबर को हुई थी आफताब की गिरफ्तारी
पुलिस ने 12 नवंबर को आफताब को गिरफ्तार किया था। इसके बाद उसे 5 दिन की पुलिस कस्टडी में भेज दिया गया। 17 नवंबर को उसकी कस्टडी को पांच दिन और बढ़ा दिया गया। 26 नवंबर को कोर्ट ने उसे 13 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया। इस दौरान उसके पॉलीग्राफ और नार्को टेस्ट भी हुए।

आफताब को जेल में दी गई 'द ग्रेट रेलवे बाजार' किताब, अब तक हुए सभी टेस्ट में जवाब एक जैसे
इन दिनों तिहाड़ जेल में बंद आफताब ने अब तक हुए सभी टेस्ट में पूछे गए सवालों के एक जैसे ही जवाब दिए हैं। उसका इकबालिया बयान, पॉलीग्राफ और नार्को एनालिसिस टेस्ट के दौरान उससे पूछे गए सवालों के जवाब मैच करते हैं।

दोनों ही टेस्ट में उसने श्रद्धा की हत्या की बात कबूली है। आफताब ने तिहाड़ जेल प्रशासन से पढ़ने के लिए इंग्लिश नॉवेल और लिटरेचर बुक्स मांगी है। उसे जल्द ही ये बुक्स मुहैया कराई जाएंगी। पूरी खबर यहां पढ़ें...

श्रद्धा मर्डर केस से जुड़ीं ये खबरें भी पढ़ सकते हैं...आफताब की नई गर्लफ्रेंड ने बताया- दो बार उसके घर गई

श्रद्धा मर्डर केस में बीते दिनों आफताब की नई गर्लफ्रेंड सामने आई। उसने दावा किया कि श्रद्धा के मर्डर या उसके टुकड़ों से उसका कोई लेना-देना नहीं है। लड़की ने बताया कि जब वह आफताब से मिलने उसके घर आती थी, तो उसे अंदाजा भी नहीं था कि आफताब ने इसी घर में श्रद्धा की लाश के टुकड़े रखे थे।

मई में श्रद्धा के मर्डर के बाद आफताब ने इस नई लड़की को डेट करना शुरू किया था। दोनों की मुलाकात उसी बम्बल ऐप पर हुई थी, जिसके जरिए श्रद्धा और आफताब मिले थे। यह नई गर्लफ्रेंड अक्टूबर में दो बार आफताब के घर आई थी। उसने पुलिस को यह भी बताया कि आफताब ने उसे 12 अक्टूबर को एक आर्टिफिशियल रिंग दी थी। पुलिस ने उससे यह रिंग बरामद कर ली है और उसका बयान रिकॉर्ड कर लिया है। पूरी खबर यहां पढ़ें...

आफताब को ले जा रही वैन पर हमले की कोशिश

पुलिस अधिकारी ने हमलावरों को रोकने के लिए अपनी पिस्टल हवा में तान दी।
पुलिस अधिकारी ने हमलावरों को रोकने के लिए अपनी पिस्टल हवा में तान दी।

27 नवंबर को आफताब को ले जा रही वैन पर 4-5 लोगों ने हमले की कोशिश की गई। जैसे ही उसे पॉलीग्राफ टेस्ट के बाद फोरेंसिक साइंस लैब से ले जाया जा रहा था तभी इन लोगों ने वैन का पीछा किया। इनमें से 4-5 लोगों के हाथों में तलवारें थीं। पुलिस ने हमलावरों को काबू करने के लिए रिवॉल्वर निकाल ली। हालांकि फायरिंग नहीं की। दो हमलावर को हिरासत में ले लिया। पूरी खबर यहां पढ़ें...

खबरें और भी हैं...