आफताब का 18 अक्टूबर का CCTV फुटेज मिला:सुबह 4 बजे 3 बार बैग ले जाते दिखा; महरौली फ्लैट से श्रद्धा के कपड़े बरामद

नई दिल्ली3 महीने पहले
CCTV फुटेज में आफताब बैग ले जाते हुए 3 बार देखा गया। पुलिस को शक है कि वह श्रद्धा के बॉडी के टुकड़ों को फेंकने गया था।

श्रद्धा मर्डर केस में लगातार नए खुलासे हो रहे हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, पुलिस के हाथ 18 अक्टूबर का CCTV फुटेज लगा है। इसमें सुबह चार बजे आफताब बैग ले जाते हुए देखा गया। पुलिस को शक है कि वह श्रद्धा के बॉडी के टुकड़ों को फेंकने गया था। क्लिप में दिख रहा है कि आफताब ने उस रात तीन चक्कर लगाए थे।

वहीं, दिल्ली पुलिस ने महरौली वाले फ्लैट से सारे कपड़ों को जब्त कर लिया है। इनमें श्रद्धा के कपड़े भी शामिल हैं। इन्हें फॉरेंसिक जांच के लिए भेजा जाएगा। हालांकि, पुलिस ने कहा कि वारदात वाले दिन दोनों ले जो कपड़े पहने थे, वो अभी तक नहीं मिल पाए हैं।

श्रद्धा मर्डर केस के आज के अपडेट्स...

  • सबूतों का पता लगाने के लिए महरौली के जंगल में दिल्ली पुलिस का तलाशी अभियान लगातार छठे दिन भी जारी है।
  • आज आफताब का नार्को टेस्ट किया जाएगा।
  • दिल्ली पुलिस ने श्रद्धा के दोस्त राहुल और गॉडविन से मुंबई में पूछताछ की।
  • श्रद्धा के कपड़े, मोबाइल और मर्डर वेपन तलाशने के लिए दिल्ली पुलिस की एक टीम हिमाचल प्रदेश की पार्वती घाटी के तोष गांव गई है।
  • आफताब को लेकर दिल्ली पुलिस गुरुग्राम के DLF फेज 2 में पहुंची, जहां मेटल डिटेक्टर के जरिए छानबीन की गई।

श्रद्धा ने नवंबर 2020 में किया था आफताब पर केस
श्रद्धा के दोस्त गॉडविन से आज पुलिस ने पूछताछ की। पूछताछ के बाद गॉडविन ने मीडिया को बताया- आफताब ने नवंबर 2020 में श्रद्धा के साथ मारपीट की थी। श्रद्धा उस समय कॉल सेंटर में काम करती थी। मेरा भाई भी उसके साथ काम करता था। श्रद्धा ने बॉस को अपनी परेशानी बताई तो उन्होंने मेरे भाई से उसकी मदद करने को कहा। भाई के कहने पर मैं श्रद्धा को लेकर नालासोपारा के तुलिंज पुलिस स्टेशन गया था और आफताब के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी। इसके बाद आफताब ने ड्रामा किया कि श्रद्धा अगर शिकायत वापस नहीं लेगी तो वह आत्महत्या कर लेगा। इस पर श्रद्धा ने केस वापस ले लिया था।

श्रद्धा ने अपने पूर्व मैनेजर को बताया था- आफताब पीटता है
श्रद्धा की अपने पूर्व मैनेजर करण भक्की के साथ 2020 में की गई चैट भी सामने आई। इसमें श्रद्धा ने उसके साथ हुई मारपीट का जिक्र किया है। चैट में श्रद्धा कह रही है- इतनी चोट लगी है कि बिस्तर से उठने की ताकत नहीं है। आज मैं काम पर नहीं आ पाउंगी। मुझे लग रहा है कि मेरा ब्लड प्रेशर लो है और शरीर में दर्द हो रहा है। इसमें श्रद्धा एक व्यक्ति का जिक्र करते हुए कह रही है कि मुझे यह तय करने की जरूरत है कि वह आज यहां से चला जाए।

चैट के स्क्रीनशॉट्स

चैट में की गई बातें....

  • यह चैट 24 नवंबर, 2020- 3 दिसंबर, 2020 के बीच की है, जो डॉक्टर की उस रिपोर्ट के साथ भी मैच करती है, जिसमें बताया गया था कि श्रद्धा को दो साल पहले पीठ और गर्दन में दर्द के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया था।
  • 23 नवंबर, 2020 की चैट में वह उस समय जहां वह रह रही थी, वहां से बाहर जाने की चर्चा कर रही है। वह कहती है कि वह पुलिस स्टेशन जाएगी और 'महिला मंडल' से मिलेगी। इसके बाद जब को-वर्कर ने उससे अपनी फोटो शेयर करने के लिए कहा तो श्रद्धा ने अपने चेहरे पर चोटों के साथ तस्वीर भी भेजी और कहा कि वह इसे काम से छुट्टी लेने के लिए यूज करेगी।
  • एक अन्य टेक्स्ट में, श्रद्धा ने अपने दोस्तों से इस घटना के दौरान लगी चोटों के पीछे के कारण को छुपाया है। जब उसके दोस्तों ने उससे पूछा कि उनकी नाक को क्या हुआ, तो श्रद्धा ने जवाब दिया कि सीढ़ियां चढ़ते समय फिसलने से उसकी नाक टूट गई थी।

करण ने कहा- श्रद्धा आफताब को पति बताती थी
श्रद्धा के पूर्व मैनेजर करण ने कहा कि नवंबर 2020 में मुझे पहली बार डोमेस्टिक एब्यूज के बारे में पता चला। विश्वास नहीं हुआ कि कोई इतनी बुरी तरह से किसी को कैसे मार सकता है। करण ने बताया कि उसे श्रद्धा ने बताया था कि आफताब उसका पति है। उसने बताया कि इसके बाद श्रद्धा पुलिस के पास गई, लेकिन इस बीच आफताब ने धमकी दी कि अगर वह उसे छोड़ेगी तो वह अपने आप को कुछ कर लेगा। उसके बाद श्रद्धा ने पुलिस शिकायत दर्ज नहीं करने के बारे में सोचा।

करण ने बताया कि इस घटना के बाद उसने श्रद्धा की मदद करने की कोशिश की थी और कुछ हफ्तों तक उसकी निगरानी करता रहा कि वह सुरक्षित है या नहीं। उसने कहा- मुझे लग रहा था कि दोनों अब साथ नहीं है। मुझे नहीं पता कि वे बाद में फिर से कैसे मिले। मुझे तो यह भी नहीं पता था कि वह दिल्ली चली गई। जब यह सब खबरों में आया, तो मुझे पता चला।

आफताब ने 18 मई को किया था श्रद्धा का मर्डर
28 साल के आफताब ने 18 मई को श्रद्धा का मर्डर किया था और उसके 35 टुकड़े कर जंगल में फेंके थे। दोनों 2019 से रिलेशन में थे। आफताब ने पुलिस पूछताछ में कुबूल किया है कि उसने पहचान छिपाने के लिए श्रद्धा का चेहरा जला दिया था। पुलिस को अब तक 13 टुकड़े मिले हैं। इनकी फोरेंसिक और DNA जांच होगी।

श्रद्धा वालकर मर्डर केस से जुड़ी ये खबरें भी पढ़ें...

पीटने के 5 दिन बाद श्रद्धा को अस्पताल लाया आफताब

श्रद्धा वालकर मर्डर में आफताब अब भी पुलिस को गुमराह कर रहा है। दिल्ली पुलिस ने शुक्रवार को माना कि फिलहाल मामले में तफ्तीश जारी है और ठोस सबूत जुटाए जा रहे हैं। हालांकि, ऐसे सबूत और गवाह सामने आ रहे हैं, जो आफताब की बर्बरता की कहानी को साबित कर रहे हैं। ये सबूत कोर्ट में टिक पाएंगे, ये फिलहाल सबसे बड़ा सवाल है। पढ़ें पूरी खबर...

जिस रूम में लाश के टुकड़े रखे, वहीं सोता था; आरी से उसका भी हाथ कटा था

दिल्ली के श्रद्धा वॉकर मर्डर केस में रोज नए खुलासे हो रहे हैं। साथ ही हत्या के आरोपी आफताब की दरिंदगी और डरावने चेहरे की कहानी भी छनकर सामने आ रही है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक, आफताब ने जिस कमरे में श्रद्धा की डेड बॉडी के टुकड़े फ्रिज में रखे थे, वह उसी कमरे में लगातार 18 दिन सोता रहा। पूरी खबर पढ़ें...

श्रद्धा का मर्डर कब: पुलिस का दावा-18 मई को हत्या हुई, दोस्त बोला- जुलाई में बात की थी

श्रद्धा मर्डर केस में अब सवाल ये है कि आखिर उसका मर्डर कब हुआ? सवाल की वजह दो दावे हैं। पहला दावा पुलिस का है, जो कह रही है कि श्रद्धा का मर्डर मई में हुआ। दूसरा दावा दोस्त लक्ष्मण नडार का है, जो कह रहा है कि जुलाई में तो उसकी श्रद्धा से बातचीत हुई थी। लक्ष्मण बताया- जुलाई में श्रद्धा ने वॉट्सऐप से कॉन्टैक्ट किया था। तब श्रद्धा काफी डरी हुई थी। पढ़ें पूरी खबर...

11 सबूतों पर टिकी जांच, मर्डर वेपन नहीं मिला तो भी आफताब को होगी फांसी

आफताब अभी कस्टडी में है, लेकिन सवाल उठ रहे हैं कि अब तक पुलिस को न मर्डर वेपन मिला, न ही श्रद्धा की लाश का सिर। आफताब अपने कबूलनामे से पलट गया तो क्या होगा? पुलिस सूत्रों के मुताबिक अब तक केस से जुड़े 11 अहम सबूत और गवाह मिले हैं। UP के पूर्व DGP विक्रम सिंह कहते हैं कि आफताब को लगता है कि बॉडी को टुकड़ों में काटकर गायब करने और मर्डर वेपन छिपाने से वह बच जाएगा, तो वह गलतफहमी में है।पढ़िए पूरी खबर...

आफताब जैसे टॉक्सिक पार्टनर को कैसे पहचानें

श्रद्धा अकेली नहीं, जिसे प्यार के बदले 35 टुकड़ों में काट दिया गया। हमारे आसपास कई लोग हैं, जो टॉक्सिक रिश्ते में फंसे हैं। ऐसे लोग भी होंगे, जो खुद टॉक्सिक हैं और दूसरों की जिंदगी बर्बाद कर रहे हैं। जरूरत की खबर में जानें ऐसे रिश्ते से कैसे निकलें। पढ़ें पूरी खबर...

11 सबूतों पर टिकी श्रद्धा मर्डर केस की जांच

पूरी तैयारी से मर्डर करने वाले शख्स आफताब को कभी नहीं लगा था कि वो पकड़ा जाएगा। अब वो पकड़ा गया है, लेकिन सवाल उठ रहे हैं कि न मर्डर वेपन मिला, न ही श्रद्धा की लाश का सिर। आफताब अपने कुबूलनामे से पलट गया तो क्या होगा? जानने के लिए पढ़ें पूरी खबर...