पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • So Far, Only 20 Lakh Donations, People Who Are Reluctant To Be Exempted From Tax; The Map Of The Mosque Could Not Be Passed Even After 16 Months

अयोध्या में मस्जिद निर्माण:अब तक सिर्फ 20 लाख का दान, टैक्स में छूट न होने से हिचक रहे लोग; 16 महीने बाद भी नहीं पास हो सका मस्जिद का नक्शा

लखनऊ4 महीने पहलेलेखक: विजय उपाध्याय
  • कॉपी लिंक
  • मस्जिद के साथ 200 बेड का अस्पताल, लाइब्रेरी व इंडोइस्लामिक संग्रहालय

सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर अयोध्या के धन्नीपुर में पांच एकड़ में बनने वाली मस्जिद के लिए अब तक 20 लाख रुपए का ही दान मिला है। इसके लिए गठित इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन की योजना यहां 200 बेड का अस्पताल, लाइब्रेरी व संग्राहलय बनाने की है।

9 नवंबर 2019 को सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या विवाद पर फैसला देते हुए मस्जिद के लिए पांच एकड़ भूमि देने का निर्देश दिया था। सुन्नी वक्फ बोर्ड ने फरवरी 2020 में फाउंडेशन का गठन किया। फाउंडेशन ने सहयोग राशि के लिए बैंक में खाता खोला।

असपताल बनाने में 100 करोड़ का खर्च आएगा : प्रवक्ता
फाउंडेशन के प्रवक्ता अतहर हुसैन ने बताया कि कम दान के पीछे वजह यह भी है कि हमें मिलने वाली राशि पर आयकर छूट नहीं मिल रही। 80-जी की छूट मिलने के बाद राशि बढ़ेगी। हमारा मुख्य उद्देश्य अस्पताल बनाना है, जिस पर करीब 100 करोड़ खर्च आएगा। हम घर-घर जाकर सहयोग नहीं मांग रहे। लोग अस्पताल के लिए तैयार बैठे हैं। हमारे पास ‘कमिटमेंट’ है। आयकर छूट के बाद विदेशों से आर्थिक सहयोग की छूट लेने के लिए आवेदन करेंगे।

नए नक्शे के साथ फिर आवेदन करेंगे
वहीं, जमीन मिलने के 16 माह बाद भी मस्जिद कॉम्प्लेक्स का नक्शा पास नहीं हुआ है। एक वरिष्ठ मुस्लिम धर्मगुरु कहते हैं कि देश में पहली बार सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर कोई मस्जिद बनेगी। नक्शा अभी तक अयोध्या विकास प्राधिकरण से पास नहीं हुआ। इसके लिए फाउंडेशन ने पिछले महीने आवेदन किया था। प्राधिकरण ने अस्पताल के नक्शे में कुछ आपत्तियां बताई थीं। हुसैन ने बताया कि हम नए नक्शे के साथ आवेदन करेंगे।

खबरें और भी हैं...