• Hindi News
  • National
  • Soldier, who crossed over into Pak, alleges harassment; Army calls him offender

विवाद / जवान का दावा- अफसरों के उत्पीड़न के चलते आर्मी छोड़नी पड़ी, सेना ने कहा- उसने लगातार गलतियां कीं

जवान चंदू चव्हाण। (फाइल फोटो) । जवान चंदू चव्हाण। (फाइल फोटो) ।
X
जवान चंदू चव्हाण। (फाइल फोटो) ।जवान चंदू चव्हाण। (फाइल फोटो) ।

  • जवान चंदू चव्हाण 2016 में सर्जिकल स्ट्राइक के बाद अनजाने में सीमा पार कर पाकिस्तान में दाखिल हो गया था
  • सेना ने कहा- अहमदनगर में ड्यूटी के दौरान चंदू नशे में पाया गया था, 3 अक्टूबर से वह बिना कोई सूचना दिए अनुपस्थित है
  • सेना ने उसे लापता घोषित कर दिया है, उस पर अनुशासनात्मक कार्रवाई भी चल रही है

दैनिक भास्कर

Oct 06, 2019, 09:47 AM IST

नई दिल्ली. सेना के जवान चंदू चव्हाण 2016 के सर्जिकल स्ट्राइक के बाद अनजाने में पाकिस्तान चला गया था। चार महीने तक वहां हिरासत में रहने के बाद वह भारत लौट आया था। अब जवान ने अपने सीनियर अधिकारियों पर उत्पीड़न का आरोप लगाया है। साथ ही सेना छोड़ने का फैसला किया है। वहीं, आरोपों पर प्रतिक्रिया देते हुए भारतीय सेना ने इसे अनुशासनहीनता करार दिया। साथ ही कहा कि वह कई मामलों में आरोपी है।

 

भारतीय सेना के सूत्रों ने शनिवार को कहा कि जवान के खिलाफ अनुशासनहीनता के 5 मामले चल रहे हैं। इसके अलावा, पिछले लोकसभा चुनाव में प्रचार के दौरान धुले में प्रशासन से भी इसके खिलाफ शिकायत मिली थी। इसे मीडिया में भी दिखाया गया था।

 

ड्यूटी के दौरान नशे में भी पाया गया था

सूत्रों ने बताया कि अहमदनगर में बख्तरबंद कोर सेंटर में तैनात चव्हाण यूनिट लाइन में नशे में पाया गया था। अनुशासनात्मक कार्यवाही के दौरान ही चंदू यूनिट परिसर से फरार हो गया था। उसे 3 अक्टूबर से लापता घोषित किया गया है।

 

सेना ने कहा- अनुशासनहीनता को स्वीकार नहीं किया जाएगा

सूत्रों के अनुसार, चंदू की काउंसलिंग करने की भी कोशिश की, लेकिन उसके रवैये के कारण कोई फायदा नहीं हुआ। सूत्रों ने यह भी स्पष्ट किया कि सेना किसी भी परिस्थिति में इस तरह की अनुशासनहीनता को स्वीकार नहीं किया जाएगा।

 

DBApp

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना