• Hindi News
  • National
  • Spicejet China| SpiceJet Cargo Plane Technical Glitch; China bound Plane Returned To Kolkata

तीन एयरलाइंस में पैसेंजर सेफ्टी पर सवाल:विस्तारा प्लेन का इंजन फेल, स्पाइसजेट में 18 दिन में 8 बार गड़बड़ी; इंडिगो प्लेन में धुआं

कोलकाता7 महीने पहले

देश में ऑपरेट हो रहीं एयरलाइंस में पैसेंजर सेफ्टी को लेकर गंभीर सवाल उठ रहे हैं। देश की तीन प्रमुख एयरलाइन विस्तारा, स्पाइसजेट और इंडिगो के प्लेन्स में पिछले दो दिन में लगातार गड़बड़ियां मिली हैं। एक-एक करके इन पर नजर डालते हैं...

विस्तारा: बैंकॉक-दिल्ली फ्लाइट का इंजन फेल

विस्तारा की बैंकॉक-दिल्ली फ्लाइट के लिए एयरबस A-320 प्लेन का इस्तेमाल किया गया था, जिसका इंजन फेल हुआ।
विस्तारा की बैंकॉक-दिल्ली फ्लाइट के लिए एयरबस A-320 प्लेन का इस्तेमाल किया गया था, जिसका इंजन फेल हुआ।

विस्तारा एयरलाइन की बैंकॉक से दिल्ली आ रही फ्लाइट का बुधवार काे एक इंजन फेल हो गया। प्लेन ने दिल्ली के इंदिरा गांधी एयरपोर्ट पर एक इंजन के साथ ही लैंडिंग की। विस्तारा की VT-TNJ नंबर की फ्लाइट को एयरबस A-320 विमान से ऑपरेट किया जा रहा था। जानकारी के मुताबिक, प्लेन के इंजन के इलेक्ट्रिक सिस्टम में गड़बड़ी होने के बाद पूरा इंजन ही फेल हो गया। हालांकि, इस घटना में किसी पैसेंजर को चोट नहीं पहुंची।

इंडिगो: रायपुर-इंदौर फ्लाइट के केबिन में धुआं

इंडिगो की रायपुर-इंदौर फ्लाइट के लिए एयरबस A-320 नियो एयरक्राफ्ट का इस्तेमाल किया गया, जिसके केबिन में धुआं दिखा।
इंडिगो की रायपुर-इंदौर फ्लाइट के लिए एयरबस A-320 नियो एयरक्राफ्ट का इस्तेमाल किया गया, जिसके केबिन में धुआं दिखा।

इंडिगो एयरलाइन की रायपुर-इंदौर फ्लाइट में मंगलवार को धुआं नजर आया। DGCA के अधिकारियों ने जानकारी दी है कि विमान के क्रू ने इंदौर एयरपोर्ट पर लैंडिंग के बाद केबिन में धुआं देखा था। उस समय विमान टेक्सी बे पर था। इंडिगो की यह फ्लाइट एयरबस A-320 नियो एयरक्राफ्ट से संचालित की जा रही थी। इस घटना में भी किसी यात्री को नुकसान नहीं हुआ।

स्पाइसजेट: 18 दिन में तकनीकी खराबी के 8 केस

स्पाइसजेट लंबी उड़ानों के लिए बोइंग प्लेन इस्तेमाल करता है, चीन जा रहे B-737 प्लेन की कोलकाता में लैंडिग हुई थी।
स्पाइसजेट लंबी उड़ानों के लिए बोइंग प्लेन इस्तेमाल करता है, चीन जा रहे B-737 प्लेन की कोलकाता में लैंडिग हुई थी।

स्पाइस जेट के विमानों में कई दिनों से तकनीकी खामियां सामने आ रही हैं। पिछले 18 दिनों में ही कंपनी के विमानों में तकनीकी खराबी के 8 मामले सामने आ चुके हैं। तीन मामले अकेले मंगलवार के हैं। DGCA ने कंपनी के विमानों में लगातार आ रहीं सुरक्षा खामियों को देखते हुए शो कॉज नोटिस भेजा है। स्पाइस जेट से तीन हफ्ते में जवाब देने को कहा गया है।

स्पाइसजेट के लिए गड़बड़ियों का मंगलवार..

1. दिल्ली-दुबई फ्लाइट की कराची में लैंडिंग
मंगलवार को दिल्ली से दुबई जा रहे स्पाइसजेट के विमान के ऑयल इंडिकेटर में खराबी का पता लगा। इसके बाद फ्लाइट की पाकिस्तान के कराची में इमरजेंसी लैंडिंग करानी पड़ी। फ्लाइट में मौजूद सभी पैसेंजर सेफ थे। एयरलाइन ने अपने बयान में कहा-स्पाइसजेट B-737 की फ्लाइट नंबर SG-11 दिल्ली से दुबई जा रही थी। यात्रियों को दुबई ले जाने के लिए दूसरी फ्लाइट भेजी गई।

2. कांगड़ा-मुंबई फ्लाइट की विंडशील्ड टूटी
मंगलवार को ही कांगड़ा से मुंबई के लिए उड़ा स्पाइसजेट के एक दूसरे विमान की मुंबई में प्रायोरिटी लैंडिंग करानी पड़ी। DGCA के मुताबिक स्पाइसजेट के क्यू-400 विमान में 23 हजार फीट ऊंचाई पर विंडशील्ड में दरार आ गई थी। इसके बाद तत्काल कांडला-मुंबई फ्लाइट को मुंबई एयरपोर्ट पर लैंड कराने का निर्णय लिया गया।

3. चीन जा रहा कार्गो विमान कोलकाता में उतारा
मंगलवार को ही स्पाइसजेट के बोइंग 737 फ्रीटर कार्गो प्लेन के वेदर रडार ने काम करना बंद कर दिया। फ्लाइट कोलकाता से चीन के चोंगकिंग जा रही थी, लेकिन वेदर रडार खराब होने के बाद विमान को वापस कोलकाता भेजा गया। विमान की कोलकाता में सुरक्षित लैंडिंग हो गई। एयरलाइंस ने बुधवार को इसकी जानकारी दी।

अब कुछ पुरानी घटनाओं पर नजर डाल लीजिए...

दिल्ली-जबलपुर फ्लाइट से उठने लगा था धुंआ

शनिवार को दिल्ली-जबलपुर स्पाइसजेट की फ्लाइट में किसी वजह से धुआं भरने लगा था। इस फ्लाइट को वापस दिल्ली लाया गया था।
शनिवार को दिल्ली-जबलपुर स्पाइसजेट की फ्लाइट में किसी वजह से धुआं भरने लगा था। इस फ्लाइट को वापस दिल्ली लाया गया था।

इससे पहले, शनिवार (2 जुलाई) को दिल्ली से जबलपुर जा रही स्पाइस जेट की फ्लाइट नंबर SG-2962 की दिल्ली में लैंडिंग कराई गई थी। दिल्ली-जबलपुर फ्लाइट के केबिन में जब धुआं दिखा, तब प्लेन 5 हजार फीट की ऊंचाई पर था। इस फ्लाइट ने दिल्ली एयरपोर्ट से सुबह 6:15 पर उड़ान भरी थी। कुछ मिनट में ही एयरक्राफ्ट में धुआं भरने लगा।

पटना में भी हुई थी इसी तरह की घटना

19 जून को पटना में इमरजेंसी लैंडिंग के वक्त विमान में 185 यात्री सवार थे।
19 जून को पटना में इमरजेंसी लैंडिंग के वक्त विमान में 185 यात्री सवार थे।

19 जून को पटना में स्पाइसजेट के विमान के लेफ्ट विंग से टेकऑफ के वक्त चिंगारियां निकलने लगीं थीं। इसके बाद पटना में ही इसकी इमरजेंसी लैंडिंग कराई गई थी। शुरुआती जांच में बर्ड हिट का मामला सामने आया था। विमान में 185 यात्री सवार थे।

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा- पैसेंजर सुरक्षा सबसे अहम
इस मामले पर DGCA ने कहा कि स्पाइस जेट 1937 में बने एयरक्राफ्ट नियमों के तहत सुरक्षित, बेहतर और भरोसेमंद सेवाएं देने में फेल हुआ है। सितंबर 2021 में DGCA ने स्पाइस जेट का ऑडिट किया था, जिसमें सामने आया था कि कम्पोनेंट सप्लायर्स को समय पर भुगतान नहीं किया जा रहा है, जिसके चलते स्पेयर पार्ट्स की कमी हो रही है। DGCA के स्पाइस जेट को नोटिस भेजने के बाद एविएशन मिनिस्टर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि पैसेंजर सिक्योरिटी सबसे अहम है।