• Hindi News
  • National
  • Spicejet Pakistan | Spicejet Delhi Dubai Flight Emergency Landing In Pakistan Karachi

एक दिन में स्पाइसजेट के दो हादसे टले:कांडला-मुंबई फ्लाइट का हवा में विंडशील्ड टूटा, दुबई जाने वाले विमान की पाकिस्तान में लैंडिंग

नई दिल्लीएक महीने पहले

स्पाइसजेट विमान के साथ मंगलवार को एक के बाद एक दो हादसे होते-होते रह गए। पहला मामला सुबह का है जब दिल्ली से दुबई जा रहे विमान में तकनीकी खराबी की वजह से पाकिस्तान के कराची में लैंडिंग करानी पड़ी।

दूसरा मामला कांडला से मुंबई जा रहे विमान का है। यह विमान अभी उड़ा ही था कि हवा में करीब 23 हजार फीट की ऊंचाई पर इसके विंडशील्ड आउटर पेन में दरार आ गई। हालांकि, विमान को मुंबई में सुरक्षित उतार लिया गया। पिछले 17 दिनों में स्पाइसजेट के विमान में तकनीकी खराबी की यह सातवीं घटना है।

सातों घटनाओं की जांच करेगा DGCA
DGCA के मुताबिक स्पाइसजेट के क्यू-400 विमान में 23 हजार फीट ऊंचाई पर विंडशील्ड में दरार आ गई थी। इसके बाद तत्काल कांडला-मुंबई फ्लाइट को मुंबई एयरपोर्ट पर लैंड कराने का निर्णय लिया गया। पिछले 17 दिनों में स्पाइसजेट के विमान में तकनीकी खराबी की यह सातवीं घटना है। DGCA के मुताबिक अधिकारियों ने मंगलवार को हुई दोनों घटनाओं की जांच शुरू कर दी है। इसके अलावा पिछली पांच घटनाओं की जांच भी की जा रही है।

पहला मामला: दिल्ली-दुबई फ्लाइट का
मंगलवार सुबह दिल्ली से दुबई जा रहे स्पाइसजेट के विमान की पाकिस्तान के कराची में इमरजेंसी लैंडिंग करानी पड़ी। फ्लाइट में मौजूद सभी पैसेंजर सेफ हैं। एयरलाइन ने अपने बयान में कहा-स्पाइसजेट B737 की फ्लाइट नंबर SG-11 दिल्ली से दुबई जा रही थी।

इसी दौरान विमान के इंडिकेटर में खराबी का पता लगा। इसके बाद फ्लाइट को कराची डायवर्ट किया गया। हालांकि स्पाइसजेट ने इसे इमरजेंसी लैंडिंग नहीं माना है। वहीं स्पाइस जेट के ही एक और विमान की मुंबई में प्रायोरिटी लैंडिंग हुई है। इसकी विंडशील्ड हवा में क्रेक हो गई थी।

फ्यूल लीक का भी दावा
डायरेक्टोरेट जनरल ऑफ सिविल एविएशन (DGCA) के मुताबिक एयरक्राफ्ट के फ्यूल टैंक से लीकेज की भी आशंका है। NDTV ने DGCA के हवाले से कहा- फ्लाइट के दौरान क्रू ने महसूस किया कि एयरक्राफ्ट के फ्यूल टैंक का लेवल अचानक कम हो रहा है।

दूसरे शब्दों में कहें तो कॉकपिट में लगे इंडिकेटर पर दिखा कि फ्यूल नॉर्मल से कहीं ज्यादा तेजी से कम हो रहा है। इसी वजह से पायलट को कराची में लैंडिंग करानी पड़ी। इसे इमरजेंसी के बजाय प्रिकॉशनरी लैंडिंग (सावधानी के तौर पर की जाने वाली लैंडिंग) कहा जाना ज्यादा सही होगा।

दूसरी फ्लाइट भेजी गई
स्पाइसजेट के मुताबिक विमान में किसी भी खराबी की पहले से जानकारी नहीं थी। यात्रियों को रिफ्रेशमेंट दिया जा रहा है। दिल्ली से एक एयरक्राफ्ट कराची भेजा गया। इससे पैसेंजर्स दुबई जाएंगे।

दिल्ली-जबलपुर फ्लाइट से उठने लगा था धुंआ
इससे पहले शनिवार (2 जुलाई) को दिल्ली से जबलपुर जा रही स्पाइस जेट की फ्लाइट नंबर SG-2962 की दिल्ली में लैंडिंग कराई गई थी। दिल्ली-जबलपुर फ्लाइट के केबिन में जब धुआं दिखा, तब प्लेन 5 हजार फीट की ऊंचाई पर था। इस फ्लाइट ने दिल्ली एयरपोर्ट से सुबह 6:15 पर उड़ान भरी थी। कुछ मिनट में ही एयरक्राफ्ट में धुआं भरने लगा।

शनिवार को दिल्ली-जबलपुर स्पाइसजेट की फ्लाइट में किसी वजह से धुआं भरने लगा था। इस फ्लाइट को वापस दिल्ली लाया गया था।
शनिवार को दिल्ली-जबलपुर स्पाइसजेट की फ्लाइट में किसी वजह से धुआं भरने लगा था। इस फ्लाइट को वापस दिल्ली लाया गया था।

पटना में भी हुई थी इसी तरह की घटना
19 जून को पटना में भी स्पाइसजेट के विमान की लेफ्ट विंग में टेकऑफ के वक्त चिंगारी निकलने लगीं थीं। इसके बाद पटना में ही इसकी इमरजेंसी लैंडिंग कराई गई थी। शुरुआती जांच में बर्ड हिट का मामला सामने आया था। विमान में 185 यात्री सवार थे।

19 जून को पटना में इमरजेंसी लैंडिंग के वक्त विमान में 185 यात्री सवार थे।
19 जून को पटना में इमरजेंसी लैंडिंग के वक्त विमान में 185 यात्री सवार थे।

इसके अलावा 19 जून को ही दिल्ली से गुवाहाटी जा रहे स्पाइसजेट के विमान में तकनीकी खराबी के चलते दिल्ली में ही लैंडिग कराई गई थी। इस विमान में 165 यात्री सवार थे।

खबरें और भी हैं...