• Hindi News
  • National
  • स्टेचू ऑफ़ यूनिटी में क्रैक, सरदार पटेल, नो फेक न्यूज़ , नरेंद्र मोदी,No fake News: statue of unity cracks sardar patels statue claims a fake
--Advertisement--

दो हफ्ते के अंदर ही टूटने लगी है सरदार पटेल की मूर्ति?..इस तस्वीर के साथ वायरल हो रहा है मैसेज

मैसेज फॉरवर्ड करने से पहले जान लें, क्या है मूर्ति में दरार पड़ने का सच?

Dainik Bhaskar

Dec 04, 2018, 11:55 AM IST

नेशनल डेस्क। क्या 3,000 करोड़ रुपये की लागत से बनी दुनिया की सबसे लंबे कद की मूर्ति में एक महीने के अंदर ही दरार पड़ गई है? क्या सरदार पटेल की 182 मीटर ऊंची ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ टूटने लगी है? सोशल मीडिया पर मूर्ति के साथ ऐसे मैसेज वायरल हो रहे हैं। फोटो में सरदार पटेल के पैरों का हिस्सा दिखता है, जिसमें सफेद रंग की लकीरें दिखाई दे रही हैं। दावा किया जा रहा है कि ये सफेद लकीरें असल में दरारें हैं।

क्या है वायरल तस्वीर का सच : वायरल फोटो की सच्चाई जानने के लिए हम स्टैच्यू ऑफ यूनिटी से जुड़ी वेबसाइट पर गए। 31 अक्टूबर, 2018 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस मूर्ति का उद्घाटन किया था। इस मौके की कई तस्वीरें इस वेबसाइट पर डाली गईं थीं। वहां डाली गईं तस्वीरों में भी हमें मूर्ति पर सफेद लकीरें दिखीं। यानी सफेद रंग की ये लकीरें अभी नहीं बल्कि उद्घाटन के समय से ही हैं। लेकिन सवाल ये है कि ये लकीरें हैं क्या?

क्या हैं ये सफेद लकीरें : दरअसल स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को बनाने में खास तरह की वेल्डिंग का इस्तेमाल हुआ है। स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के सीईओ आईके पटेल ने बताया कि 182मीटर ऊंची प्रतिमा को एक पार्ट से तैयार करना संभव नहीं है। प्रतिमा में 8 एमएम की कांसे की प्लेटों को विशेष प्रकार की वेल्डिंग से परस्पर जोड़ कर जड़ी गईं हैं। प्लेटों को विशेष वेल्डिंग से जोड़ा गया है। इसलिए जहां ये जोड़ हैं, वहां वेल्डिंग है। जिसे देख कर स्वाभाविक रूप से दरार होने का आभास होता है लेकिन ये दरार नहीं स्टैच्यू बनाने के लिए इस्तेमाल की गई वेल्डिंग का एक भाग ही है। स्टैच्यू ऑफ यूनिटी में दरार आने की बात सिर्फ और सिर्फ अफवाह है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended