• Hindi News
  • National
  • supreme court ask ex ranbaxy promoters to appraise on compliance of rs3500 cr arbitral award
विज्ञापन

दाइची सैंक्यो विवाद / सुप्रीम कोर्ट ने मलविंदर-शिविंदर से कहा- 3500 करोड़ रु के भुगतान की योजना बताएं

Dainik Bhaskar

Mar 14, 2019, 01:21 PM IST


शिविंदर सिंह (बाएं) और मलविंदर सिंह। शिविंदर सिंह (बाएं) और मलविंदर सिंह।
X
शिविंदर सिंह (बाएं) और मलविंदर सिंह।शिविंदर सिंह (बाएं) और मलविंदर सिंह।
  • comment

  • कोर्ट ने 28 मार्च तक प्लान मांगा, कहा- यह मामला देश की प्रतिष्ठा के लिए अच्छी बात नहीं
  • आप फार्मा इंडस्ट्री के अग्रणी थे लेकिन अब कोर्ट में पेश हो रहे, यह अच्छा नहीं: सुप्रीम कोर्ट
  • मलविंदर-शिविंदर रेनबैक्सी के पूर्व प्रमोटर, जापानी कंपनी दाइची उनके खिलाफ कोर्ट में लड़ रही

नई दिल्ली. रैनबैक्सी के पूर्व प्रमोटर भाई मलविंदर सिंह और शिविंदर सिंह दाइची सैंक्यो के आर्बिट्रेशन मामले में गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट में पेश हुए। अदालत ने दोनों से पूछा कि 3500 करोड़ रुपए के आर्बिट्रेशन अवॉर्ड के फैसले का वो कैसे पालन करेंगे। कोर्ट ने इस बारे में दोनों से ठोस योजना पेश करने को कहा है।

दाइची ने 2016 में सिंगापुर ट्रिब्यूनल में केस जीता था

  1. अमेरिकी दवा कंपनी दाइची सैंक्यो 3500 करोड़ रुपए के आर्बिट्रेशन अवॉर्ड को लागू करवाने के लिए कोर्ट में लड़ रही है। सिंगापुर ट्रिब्यूनल में उसने 2016 में मामला जीता था।

  2. सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को कहा कि यह मामला किसी की व्यक्तिगत प्रतिष्ठा का सवाल नहीं बल्कि देश की प्रतिष्ठा के लिए भी अच्छा नहीं है। आप किसी समय फार्मा इंडस्ट्री के अग्रणी थे। अब आप कोर्ट में पेश हो रहे हैं, यह अच्छी बात नहीं है।

  3. सुप्रीम कोर्ट ने शिविंदर और मलविंदर से 28 मार्च को पेश होकर योजना देने के निर्देश दिए हैं। साथ ही कहा कि- उम्मीद करते हैं कि यह आखिरी बार होगा जब आप कोर्ट में पेश होंगे।

COMMENT
Astrology
Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन