पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Check up Of People Going From House To House Through Fever Survey, Medical Pest And Home Isolation Are Advised Immediately After Getting Symptoms.

तेलंगाना सरकार की अनोखी पहल:फीवर सर्वे के जरिए घर-घर जाकर लोगों का किया जा रहा चेकअप, लक्षण मिलने पर तुरंत दी जाती है मेडिकल किट और होम आइसोलेशन की सलाह

हैदराबाद3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डोर टू डोर सर्वेक्षण में एएनएम, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, आशा कार्यकर्ता और स्वच्छता कर्मचारी शामिल हैं। ये सभी घर-घर जाकर दौरा करते हैं। (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
डोर टू डोर सर्वेक्षण में एएनएम, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, आशा कार्यकर्ता और स्वच्छता कर्मचारी शामिल हैं। ये सभी घर-घर जाकर दौरा करते हैं। (फाइल फोटो)

देशभर में कोरोना के कहर को रोकने के लिए केंद्र और राज्य सरकारें कई कदम उठा रही हैं। इस बीच तेलंगाना सरकार ने राज्य में 'फीवर सर्वे' अभियान शुरू किया है। फीवर सर्वे अभियान देश में अपनी तरह का पहला सर्वेक्षण अभियान है। इसका उद्देश्य संक्रमित मरीजों का घर पर ही बुखार या कोरोना के लक्षण की पहचान करना है। जिससे अस्पतालों में लगने वाली भीड़ को रोका जा सके।

लक्षण मिलने पर तुरंत दी जाती है मेडिकल किट

  • डोर टू डोर सर्वेक्षण में एएनएम, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, आशा कार्यकर्ता और स्वच्छता कर्मचारी शामिल हैं। ये सभी घर-घर जाकर दौरा करते हैं और बुखार नापने के लिए थर्मल स्कैनर से परिवार के सभी सदस्यों का जांच करते हैं। साथ ही ये यह भी पता करते हैं कि परिवार में किसी सदस्य को कोविड-19 का कोई लक्षण तो नहीं है। अगर परिवार के किसी सदस्य को बुखार या कोरोना के लक्षण पाए जाते हैं, तो टीम उन्हें मौके पर ही दवाओं की एक किट देती है और घर में आइसोलेट होने की सलाह देती है।
  • टीम के सदस्य बुखार और कोविड लक्षणों वाले व्यक्तियों के इलाके में एंटी लार्वा का छिड़काव करते हैं। साथ ही टीम की तरफ से बुखार या कोरोना लक्षणों वाले व्यक्तियों को चेकअप के लिए प्राथमिक केंद्र ले जाया जाता है। इस बीच टीम के सदस्यों को मरीज के हेल्थ की निगरानी जारी रखनी होगी और मरीज के हालात बिगड़ने पर उसे नजदीकी अस्पताल में भर्ती करवाना होगा।

20 हजार से अधिक टीमें फीवर सर्वे में जुटी
विभाग के निदेशक जी. श्रीनिवास राव ने कहा, 20,955 टीमें राज्य में फीवर सर्वे में भाग ले रही हैं। उन्होंने कोविड लक्षणों वाले मरीज खोजने के लिए अब तक 11 लाख 22 हजार घरों का दौरा किया है। ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम में फीवर सर्वे पूरे जोरों पर चलाया जा रहा है। ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम में फीवर सर्वे में 700 से अधिक टीमें हिस्सा ले रही हैं और अब तक लगभग दो लाख घरों को कवर किया जा चुका है।

खबरें और भी हैं...