• Hindi News
  • National
  • Terrorists Gunned Down TV Actress Amrin Bhat, 10 year old Nephew Also Injured In Firing

जम्मू-कश्मीर में फिर टारगेट किलिंग:आतंकियों ने टीवी एक्ट्रेस अमरीन भट को गोलियों से भूना, फायरिंग में 10 साल का भतीजा भी घायल

श्रीनगरएक महीने पहले

जम्मू-कश्मीर के चादूरा में बुधवार को आतंकियों ने 35 साल की टीवी एक्ट्रेस अमरीन भट की गोली मारकर हत्या कर दी। उन्हें अस्पताल ले जाया गया। वहां इलाज के पहले ही उन्होंने दम तोड़ दिया। फायरिंग में अमरीन का 10 साल का भतीजा भी घायल हुआ है।

घर के बाहर गोली मारी
घटना बुधवार को बड़गाम जिले के चदूरा के हिशरू इलाके में हुई। TV एक्ट्रेस अमरीन अपने घर के बाहर 10 साल के भतीजे के साथ खड़ी थीं। तभी अचानक आए आतंकियों ने उन पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी।हमले के बाद दोनों की तुरंत नजदीकी अस्पताल ले जाया गया, जहां अमरीन ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।

उनके भतीजे को हाथ में गोली लगी है। भतीजे की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है। पुलिस ने बताया कि वारदात में आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के तीन आतंकी शामिल थे। उनकी तलाश की जा रही है।

अमरीन को घर के बाहर आतंकियों ने गोली मारी।
अमरीन को घर के बाहर आतंकियों ने गोली मारी।

एक दिन पहले की थी पुलिसकर्मी की हत्या
जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर के अनचार सौरा इलाके में मंगलवार को आतंकियों ने एक पुलिसकर्मी सैफुल्ला कादरी पिता मोहम्मद सैयद कादरी की गोली मारकर हत्या कर दी थी। वारदात में उनकी 9 साल की बेटी सफा कादरी भी गोली लगने से जख्मी हो गई थी। पुलिस ने बताया था कि आतंकियों ने पुलिसकर्मी के घर में घुसकर दोनों पर गोलियां चलाई। उन्हें इलाज के लिए पास की अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां सैफुल्ला ने दम तोड़ दिया। घटना सौरा के मलिक साब इलाके की थी। पढ़ें पूरी खबर...

घाटी में हाल में हुई टारगेट किलिंग

  • 12 मई को जम्मू-कश्मीर के बडगाम में आतंकियों ने चडूरा तहसीलदार ऑफिस के क्लर्क राहुल भट्ट को ऑफिस में घुसकर गोली मार दी थी। मौके पर मौजूद लोगों ने उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया। इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई।
  • 7 मई को श्रीनगर के अली जान रोड स्थित ऐवा ब्रिज पर आतंकियों ने पुलिसकर्मी गुलाम हसन डार को गोली मार दी थी।
  • 18 अप्रैल को पुलवामा में आतंकियों ने काकापोरा रेलवे स्टेशन के बाहर दुकान पर चाय पीने आए रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) के दो जवानों सब इंस्पेक्टर देवराज व हेड कांस्टेबल सुरिंदर सिंह को निशाना बनाकर ताबड़तोड़ गोलियां बरसाईं। अस्पताल में इलाज के दौरान दोनों ने दम तोड़ दिया।