पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अदार पूनावाला को सिक्योरिटी:सीरम इंस्टीट्यूट के CEO को केंद्र ने Y श्रेणी सुरक्षा दी; कोवीशील्ड की कीमत को लेकर विवादों में आए थे

2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सीरम इंस्टीट्यूट के डायरेक्टर ने पूनावाला को खतरा बताते हुए केंद्र से सुरक्षा की मांग की थी।- फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
सीरम इंस्टीट्यूट के डायरेक्टर ने पूनावाला को खतरा बताते हुए केंद्र से सुरक्षा की मांग की थी।- फाइल फोटो।

कोवीशील्ड की कीमतों में को लेकर विवादों में आए सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) के CEO अदार पूनावाला को Y कैटेग्री सिक्योरिटी दी गई है। केंद्र सरकार के अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी दी। बताया गया है कि पूनावाला को खतरे की आशंका को देखते हुए उन्हें सिक्योरिटी दी गई है। अब सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स (CRPF) के 4-5 कमांडोज के साथ 11 सुरक्षाकर्मी हर वक्त पूनावाला के साथ रहेंगे। यह सिक्योरिटी कवर उन्हें पूरे देश में मिलेगा।

SII के डायरेक्टर (गवर्नमेंट एंड रेग्युलेटरी अफेयर्स) प्रकाश कुमार सिंह ने 16 अप्रैल को गृह मंत्री अमित शाह को चिट्ठी लिखी थी। इसमें पूनावाला को सिक्योरिटी देने की अपील की गई थी।

राज्यों के लिए वैक्सीन महंगी करने पर सवाल उठे थे
सीरम इंस्टीट्यूट कोरोना की वैक्सीन (कोवीशील्ड) बना रहा है। हाल ही में वैक्सीन की कीमत को लेकर इंस्टीट्यूट विवादों में आ गया था। इसने राज्यो को कोवीशील्ड 400 रुपए में देने का ऐलान किया था, जबकि केंद्र सरकार के लिए कीमत 150 रुपए ही रखी गई।

कई विपक्षी नेताओं ने इसे मुद्दा बनाया और सोशल मीडिया पर भी वन वैक्सीन वन प्राइस ट्रेंड होने लगा था। इसके बाद बुधवार को सीरम इंस्टीट्यूट ने राज्यों के लिए वैक्सीन की कीमत 25% घटाकर 300 रुपए करने ऐलान कर दिया।

केंद्रीय सुरक्षा का क्या स्तर है?
केंद्र सरकार से मिलने वाली सुरक्षा 6 स्तरों पर दी जाती है, यानी X, Y, Y+, Z और Z+ और एसपीजी कैटेगरी की सुरक्षा।

SPG: ब्यूरो ऑफ पुलिस रिसर्च और डेवलपमेंट की रिपोर्ट के अनुसार एसपीजी सिर्फ प्रधानमंत्री एवं अन्य वीआईपी को सुरक्षा देती है।
X: दो व्यक्तिगत सुरक्षा अधिकारी (पीएसओ) 24 घंटे सुरक्षा करते हैं। इसका मतलब है कि आठ-आठ घंटे की शिफ्ट में कुल छह पीएसओ तैनात होते हैं।
Y: दो पीएसओ और एक सशस्त्र गार्ड चौबीस घंटे सुरक्षा देता है। कुल 11 सुरक्षाकर्मी होते हैं। पांच स्टेटिक ड्यूटी पर और 6 व्यक्तिगत सुरक्षा के लिए।
Y+: इसमें भी Y कैटेगरी की सुरक्षा दी जाती है। इसमें 11 से 22 पीएसओ तैनात होंगे। अधिकारियों के मुताबिक कंगना के पीएसओ के लिए एक एस्कॉर्ट वाहन दिया जाएगा।
Z: 22 सुरक्षाकर्मी होते हैं इसमें 2 से 8 सशस्त्र गार्ड घर पर होते हैं। दो पीएसओ चौबीस घंटे रहते हैं। सड़क यात्रा पर एक से तीन सशस्त्र जवान एस्कॉर्ट में होते हैं।
Z+: Z कैटगरी की सुरक्षा के अलावा इस कैटेगरी में एक बुलेट प्रूफ कार, तीन शिफ्ट में एस्कॉर्ट और आवश्यकता पड़ने पर अतिरिक्त सुरक्षा मिलती है।

खबरें और भी हैं...