• Hindi News
  • National
  • The Divinity Of The Ganges; Trekking Started For The Origin Of Ganga, So Far 500 Tourists Reached Gangotri's Tapovan

विश्व पर्यटन दिवस आज:गंगाद्वार का देवत्व; गंगा के उद्गम स्थल के लिए ट्रैकिंग शुरू, गंगोत्री के तपोवन में अब तक 500 सैलानी पहुंचे

उत्तरकाशीएक महीने पहलेलेखक: तिलक सोनी
  • कॉपी लिंक
लगातार 5 दिन तक होने वाली ट्रैकिंग की शुरुआत गंगोत्री से होती है। - Dainik Bhaskar
लगातार 5 दिन तक होने वाली ट्रैकिंग की शुरुआत गंगोत्री से होती है।

गंगा नदी के उद्गम स्थल गौमुख की यह तस्वीर गंगोत्री नेशनल पार्क ने खासतौर पर भास्कर को उपलब्ध करवाई है। यहां 1 सितंबर से ट्रैकिंग की शुरुआत हो चुकी है। गौमुख-तपोवन ट्रैकिंग के लिए अब तक यहां करीब 500 सैलानी पहुंच चुके हैं। इनमें 10 विदेशी हैं। पिछले साल कोरोना के चलते एक महीने ही ट्रैकिंग हो पाई थी। इस साल सैलानियों के आने से गाइड, पॉटर्स और इनसे जुड़े स्थानीय लोगों का काम भी चल पड़ा है।

लगातार 5 दिन तक होने वाली ट्रैकिंग की शुरुआत गंगोत्री से होती है। यहां से 20 किलोमीटर आगे तपोवन है। पहला पड़ाव भोजबासा आता है। भोजबासा से तपोवन जाते वक्त रास्ते में गौमुख पड़ता है। भोजबासा से तपोवन का रास्ता चुनौतीपूर्ण है। गंगा का उद्गम स्थल होने से यहां का धार्मिक महत्व भी है।

2019 में यहां ट्रैकिंग के लिए 16 हजार से ज्यादा सैलानी पहुंचे थे। इस बार कोरोना को ध्यान में रखते हुए गंगोत्री मंदिर से पहले नया मार्ग खोला गया है, ताकि मंदिर के पास भीड़ न जमा हो।
2019 में यहां ट्रैकिंग के लिए 16 हजार से ज्यादा सैलानी पहुंचे थे। इस बार कोरोना को ध्यान में रखते हुए गंगोत्री मंदिर से पहले नया मार्ग खोला गया है, ताकि मंदिर के पास भीड़ न जमा हो।