• Hindi News
  • National
  • The Poster Girl Of The 'Girl Hoon' Campaign Was Cut Off, Said Was Asking For Money, Congress Is Engaged In Recovery

प्रियंका की टीम पर टिकट बेचने के आरोप:'लड़की हूं' कैंपेन की पोस्टर गर्ल का पत्ता कटा, बोलीं- पैसे मांग रहे थे, वसूली में लगी है कांग्रेस

लखनऊ10 दिन पहले

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी की टीम पर यूपी विधानसभा चुनाव के लिए टिकट बेचने के आरोप लगे हैं। और यह आरोप किसी और ने नहीं, 'लड़की हूं, लड़ सकती हूं' कैंपेन की पोस्टर गर्ल ने लगाए हैं। महिलाओं के लिए खास घोषणाएं करके सुर्खियों में रहा प्रियंका गांधी का चुनावी अभियान इस आरोप के बाद फिर से चर्चा में है।

प्रियंका के कैंपेन के पोस्टर के कतार में सबसे आगे खड़ी महिला टिकट की रेस में पीछे छूट गई। वजह बताई गई है कि वह टिकट खरीदने के लिए पैसे नहीं दे सकी। कांग्रेस के शक्ति विधान महिला घोषणा पत्र की पोस्टर गर्ल डॉ. प्रियंका मौर्या ने आरोप लगाया है कि घूस न दे पाने की वजह से लखनऊ की सरोजनीनगर विधानसभा सीट से उनका टिकट काटकर रुद्र दमन सिंह को दे दिया गया।

डॉ. प्रियंका मौर्या ने कहा कि घूस की रकम किसी और ने नहीं बल्कि प्रियंका गांधी के सचिव संदीप सिंह ने मांगी थी। बता दें कि संदीप प्रियंका और राहुल के लिए खास रणनीति बनाते आए हैं।

प्रियंका गांधी के प्रचार में शामिल डॉ. प्रियंका मौर्या ने आरोप लगाया है कि पैसे न दे पाने की वजह से सरोजनीनगर सीट से उनका टिकट कट गया।
प्रियंका गांधी के प्रचार में शामिल डॉ. प्रियंका मौर्या ने आरोप लगाया है कि पैसे न दे पाने की वजह से सरोजनीनगर सीट से उनका टिकट कट गया।

पोस्टर गर्ल ही हो गई चुनाव की रेस से बाहर

डॉ. प्रियंका मौर्या UP कांग्रेस की सक्रिय कार्यकर्ता रही रहैं। वह लखनऊ की सरोजनीनगर सीट से टिकट की दावेदारी पेश कर रही थीं। प्रियंका गांधी के लड़की हूं, लड़ सकती हूं कैंपेन का भी वो अहम किरदार रहीं। इतना ही नही कांग्रेस ने शक्ति विधान टाइटल के साथ जो महिला घोषणा पत्र जारी किया प्रियंका मौर्या उसकी पोस्टर गर्ल भी थीं। स्थानीय राजनीतिक हलकों में उनका नाम आगे चल रहा था। कयास लगाए जा रहे थे कि उनको यहां से टिकट दिया जा एगा।

प्रियंका की थी पूरी तैयारी, पहली लिस्ट से कटा नाम
प्रियंका की टीम ने गुरुवार को 125 सीटों पर उम्मीदवारों की पहली सूची जारी की। इसमें वादे के मुताबिक 40 फीसदी महिलाओं को शामिल किया गया है। जिस सीट से प्रियंका मौर्या चुनाव लड़ने की तैयारी कर चुकी थीं वहां से रुद्र दमन सिंह का नाम फाइनल कर दिया गया। सूची जारी होने के कुछ घंटे बाद ही डॉ. प्रियंका मौर्या ने अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट करके कांग्रेस पार्टी में टिकटों की सौदेबाजी का आरोप लगाया। उन्होंने लिखा है कि प्रियंका गांधी के सचिव संदीप सिंह ने उनसे टिकट के एवज में रुपए के लिए किसी से फोन करवाया था। रुपए न देने पर उनकी जगह किसी और को टिकट दिया गया है।

मैराथन में भीड़ जुटाने के नाम पर हुई वसूली
टिकट कटने से नाराज डॉ. प्रियंका मौर्या का आरोप है कि कांग्रेस महिलाओं और युवाओं को आगे बढ़ाने की आड़ में वसूली कर रही है। उनका कहना है कि पहले उनसे लड़की हूं, लड़ सकती हूं मैराथन में भीड़ जुटाने के नाम पर वसूली हुई। इसके बाद प्रियंका गांधी के जन्मदिन पर रुपए की डिमांड की गई। जब चुनाव लड़ने की दावेदारी पेश की तो टिकट के लिए रुपए मांगे गए। उनका दावा है कि हर आरोप का उनके पास पुख्ता सबूत है, जिसे जल्द ही सार्वजनिक करेंगी। इन आरोपों के जवाब में कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता अशोक सिंह का कहना है कि उनको टिकट नहीं मिला है, इसलिए झूठे आरोप लगाए जा रहे हैं।