पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • There Was Fierce Fighting Between The Security Officer Of Chief Minister Jai Ram Thakur And Kullu SP.

हिमाचल में गडकरी के सामने बवाल:मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के सिक्योरिटी ऑफिसर और कुल्लू SP के बीच जमकर चले लात-घूंसे

शिमला3 महीने पहले

हिमाचल प्रदेश में केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी के सामने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के पर्सनल सिक्योरिटी ऑफिसर (PSO) और कुल्लू SP के बीच जमकर बवाल हुआ। इस दौरान दोनों अफसरों के बीच लात-घूंसे चले।

बताया जा रहा है कि जब गडकरी और मुख्यमंत्री का काफिला मनाली की ओर निकला तो भुंतर एयरपोर्ट के बाहर फोरलेन प्रभावित किसानों ने उन्हें रोक दिया। इसी बात को लेकर CM के सिक्योरिटी ऑफिसर और कुल्लू SP के बीच झड़प हो गई। SP गौरव सिंह ने PSO बलवन्त सिंह को पहले थप्पड़ मारा, इसके बाद बलवंत ने भी एसपी को लात से दो-तीन बार मारा।

काफिला रोकने को लेकर दोनों अफसरों के बीच कहासुनी हुई।
काफिला रोकने को लेकर दोनों अफसरों के बीच कहासुनी हुई।

पूरे घटनाक्रम के दौरान सीएम का काफिला वहीं पर मौजूद था, जैसे ही दोनों अफसरों के बीच हाथापाई हुई प्रदर्शन कर रहे लोग सीएम के काफिले की तरफ बढ़ गए, इस दौरान अन्य पुलिसकर्मियों ने मामले को संभाला और प्रदर्शनकारियों को रोक कर सीएम के काफिले को आगे रवाना किया।

पूरे मामले पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि भुंतर में जिला कुल्लू पुलिस के कप्तान व सीएम सुरक्षा अधिकारी के बीच हुए मामले को लेकरजांच कमेटी बिठा दी गई है, वहीं मामले पर डीजीपी संजय कुंडू बोले- डीआईजी मौके पर गए हैं।

एसपी ने पीएसओ को थप्पड़ मार दिया, जिसके बाद पीएसओ ने भी लात चलाई।
एसपी ने पीएसओ को थप्पड़ मार दिया, जिसके बाद पीएसओ ने भी लात चलाई।

फोरलेन प्रभावित किसानों ने घेरा काफिला
केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के स्वागत के लिए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर भुंतर हवाई अड्डा पहुंचे थे। जैसे ही केंद्रीय मंत्री का काफिला एयरपोर्ट से बाहर निकलने लगा तो सड़क के किनारे फोरलेन प्रभावित किसानों ने उनके काफिले को घेर लिया।

लोगों को देख नितिन गडकरी ने अपनी गाड़ी को रोका और खुद उतर कर उनसे मिलने पहुंच गए। वहीं मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर भी अपने वाहन से उतरकर उन सभी लोगों से मिलने पहुंचे। प्रभावित लोगों ने आरोप लगाया कि राज्य सरकार हमारी मांगे नहीं सुन रही है। उन्हें काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है। इस पर गडकरी ने CM को जल्द से जल्द उनकी मांगों पर गौर करने का निर्देश दिया।

खबरें और भी हैं...