रिपोर्ट / गूगल ने प्ले स्टोर से टिकटॉक ऐप हटाया, मद्रास हाईकोर्ट ने आदेश दिया था



सिंबॉलिक इमेज। सिंबॉलिक इमेज।
X
सिंबॉलिक इमेज।सिंबॉलिक इमेज।

  • चाइनीज ऐप टिकटॉक पर पोर्नोग्राफी को बढ़ावा देने का आरोप
  • कोर्ट के आदेश के बाद सरकार ने गूगल और एपल को भेजे थे पत्र 
  • फरवरी तक भारत में टिकटॉक के 24 करोड़ यूजर थे

Dainik Bhaskar

Apr 17, 2019, 08:13 AM IST

नई दिल्ली. गूगल और एपल ने भारत में चाइनीज मोबाइल ऐप टिकटॉक को बैन कर दिया है। रॉयटर्स ने यह जानकारी दी है। मद्रास हाईकोर्ट ने 3 अप्रैल को केंद्र सरकार से कहा था कि टिकटॉक को बैन किया जाए क्योंकि इससे पोर्नोग्राफी और बच्चों के प्रति यौन हिंसा को बढ़ावा मिला है। ऐप को बैन करने के लिए एक जनहित याचिका दायर हुई थी।

टिकटॉक को सुप्रीम कोर्ट से भी नहीं मिली राहत

  1. टिकटॉक की पेरेंट कंपनी बाइटडांस टेक्नोलॉजी ने हाईकोर्ट के आदेश को पिछले हफ्ते सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी। सुप्रीम कोर्ट ने मामला वापस हाईकोर्ट को भेज दिया। मंगलवार को हाईकोर्ट ने टिकटॉक की अपील खारिज कर दी।

  2. सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के अधिकारी के मुताबिक केंद्र सरकार ने एपल और गूगल को पत्र भेजकर हाईकोर्ट के आदेश का पालन करने के लिए कहा था।

  3. रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक गूगल ने मंगलवार को प्ले स्टोर से टिकटॉक हटा लिया। बुधवार से एपल के प्लेटफॉर्म पर भी ऐप मौजूद नहीं है। गूगल ने कहा है कि वह इंडिविजुअल ऐप पर कमेंट नहीं कर सकता लेकिन स्थानीय कानून का पालन करता है। एपल की प्रतिक्रिया नहीं मिल पाई है।

  4. टिकटॉक के यूजर स्पेशल इफेक्ट के साथ वीडियो बनाकर शेयर कर सकते हैं। ऐप एनालिटिक्स फर्म सेंसर टावर के मुताबिक फरवरी तक भारत में 24 करोड़ लोग टिकटॉक डाउनलोड कर चुके थे।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना