पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • TMC Leader Compared Finance Minister Nirmala Sitharaman To Venomous Snake

तृणमूल नेता का विवादास्पद बयान:कल्याण बनर्जी ने सीतारमण की तुलना सांप से की, कहा- जैसे जहरीली नागिन के काटने से लोग मरते हैं, वैसे ही इनकी वजह से मर रहे

नई दिल्लीएक महीने पहले
टीएमसी नेता कल्याण बनर्जी ने शनिवार को प. बंगाल के बांकुरा में कहा कि वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने देश की अर्थव्यवस्था को बर्बाद कर दिया है।
  • तृणमूल नेता ने वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण से तत्काल इस्तीफे की मांग की
  • भाजपा ने दर्ज कराया विरोध, कहा- तुरंत माफी मांगें तृणमूल नेता

पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस नेता कल्याण बनर्जी ने शनिवार को केंद्रीय वित्तमंत्री को लेकर एक विवादित बयान दिया। बनर्जी ने वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण की तुलना जहरीले सांप से की। उन्होंने कहा कि जैसे काली नागिन (जहरीला सांप) के काटने से लोगों की मौत हो जाती है, वैसे ही वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण की वजह से भी लोगों की जान जा रही है।

वित्तमंत्री की वजह से देश आर्थिक मोर्चे पर कमजोर हुआ
पश्चिम बंगाल के नेता ने कहा कि वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने देश की अर्थव्यवस्था को बर्बाद कर दिया है। उन्होंने यहां तक कह दिया कि वित्तमंत्री को शर्म आनी चाहिए और उन्हें तत्काल अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। निर्मला सीतारमण देश की अब तक की सबसे खराब वित्तमंत्री हैं।

भाजपा ने जताया विरोध
भाजपा ने तृणमूल कांग्रेस नेता के बयान पर नाराजगी जताई है। भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि कल्याण बनर्जी को अपने बयान के लिए माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने कहा कि काली मां की पूजा करने वाले लोगों के राज्य के एक नेता से ऐसे बयान की उम्मीद नहीं की जा सकती। पात्रा ने कहा कि ये बयान न सिर्फ नस्लवादी है, बल्कि दिखाता है कि यह भी कि वो महिलाओं से कितनी नफरत करते हैं।

यह खबरें भी पढ़ सकते हैं...

1. मेगा राहत पैकेज का ब्लू प्रिंट, वित्त मंत्री के 15 ऐलान

2. ममता ने 12 महीने तक फ्री राशन देंगी, कहा- क्वालिटी केंद्र से अच्छी होगी

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज पिछली कुछ कमियों से सीख लेकर अपनी दिनचर्या में और बेहतर सुधार लाने की कोशिश करेंगे। जिसमें आप सफल भी होंगे। और इस तरह की कोशिश से लोगों के साथ संबंधों में आश्चर्यजनक सुधार आएगा। नेगेटिव-...

और पढ़ें