पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • TMC Suvendu Adhikari BJP| TMC Leader Suvendu Adhikari May Join Bharatiya Janata Party (BJP) West Bengal Chief Minister Mamata Banerjee Hits Him Out.

भाजपा की नजर अब बंगाल पर:विजयवर्गीय बोले- जनवरी से CAA लागू हो सकता है, ममता को शरणार्थियों से हमदर्दी नहीं

कोलकाता6 महीने पहले

पश्चिम बंगाल में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं। इसको देखते हुए भाजपा ने रणनीति बनाना शुरू कर दिया है। पार्टी महासचिव और बंगाल के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने कहा है कि जनवरी तक सरकार नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) लागू कर सकती है। उन्होंने ममता बनर्जी सरकार पर आरोप लगाते हुए यह भी कहा कि उन्हें शरणार्थियों से सहानुभूति नहीं है। सरकार नेक इरादा दिखाते हुए पड़ोसी देशों से आए शरणार्थियों को नागरिकता देने के लिए CAA पास कर चुकी है।

इस पर तृणमूल कांग्रेस के मंत्री फरहद हकीम ने कहा कि भाजपा नागरिकता को लेकर मतलब क्या है? अगर मतुआ लोग नागरिक नहीं हैं तो वे विधानसभा चुनाव में वोट कैसे डाल सकते हैं। भाजपा को लोगों को मूर्ख बनाना बंद करना चाहिए।

ममता को लग सकता है झटका
पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार से इस्तीफा दे चुके पूर्व मंत्री सुवेंदु सरकार भाजपा में शामिल हो सकते हैं। भाजपा सांसद अर्जुन सिंह ने इसके संकेत दिए हैं। दूसरी तरफ, ममता बनर्जी ने भी इस मामले पर सख्त रुख अपनाया। ममता ने शनिवार शाम कहा- जो पार्टी छोड़कर जाना चाहता है, वो बिल्कुल जा सकता है। हम पार्टी विरोधी गतिविधियों को बिल्कुल सहन नहीं करेंगे। सुवेंदु पश्चिम बंगाल के प्रभावी नेता माने जाते हैं और उनका लंबे वक्त से पार्टी सुप्रीमो और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से विवाद चल रहा है।

गिर जाएगी ममता सरकार
भाजपा सांसद अर्जुन सिंह ने शनिवार को न्यूज एजेंसी से कहा- अगर सुवेंदु अधिकारी भाजपा में शामिल होते हैं तो ममता सरकार चुनाव के पहले ही गिर जाएी। इसका मतलब ये भी हुआ कि अब कई लोग तृणमूल कांग्रेस छोड़कर जा सकते हैं।

ममता का सख्त रुख
ममता बनर्जी ने शुक्रवार शाम सुवेंदु का नाम तो नहीं लिया, लेकिन इशारों-इशारों में पार्टी के असंतुष्ट नेताओं को कड़ा संदेश जरूर दे दिया। बनर्जी ने कहा- ऐसे लोग जो पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल हैं या दूसरी पार्टियों के संपर्क में हैं, उन्हें मैं साफ कहना चाहती हूं कि वे पार्टी छोड़कर जाने के लिए आजाद हैं। माना जा रहा है कि ममता ने सुवेंदु के पिता और कुछ दूसरे नेताओं से बातचीत भी की है। बनर्जी ने पार्टी नेताओं की मीटिंग में कहा कि अगर बातचीत से किसी की नाराजगी दूर की जा सकती है तो वे यह करने को तैयार हैं।

सुवेंदु के लिए दरवाजे बंद
सुवेंदु ने अब तक यह साफ नहीं किया है कि वे भाजपा में कब शामिल होंगे। लेकिन, टीएमसी यह मानकर चल रही है कि सुवेंदु अब पार्टी में नहीं हैं। सूत्रों के मुताबिक, पार्टी अब यह मानकर चल रही है कि टीएमसी में अधिकारी के लिए रास्ते बंद हो चुके हैं।

टीएमसी 11 दिसंबर से जनसंपर्क अभियान शुरू करने जा रही है। 24 दिसंबर तक पार्टी के नेता और कार्यकर्ता लोगों से सीधा संपर्क करेंगे। पश्चिम बंगाल में अगले साल अप्रैल और मई के बीच विधानसभा चुनाव होंगे। यहां कुल 294 विधानसभा सीटें हैं।

खबरें और भी हैं...