• Hindi News
  • National
  • Today History Aaj Ka Itihas 19 January | Indira Gandhi Was Elected The First Woman PM Of India

आज का इतिहास:इंदिरा गांधी भारत की पहली महिला PM चुनी गई थीं, मोरारजी का सपना तोड़ हासिल की थी कुर्सी

5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

भारतीय राजनीति के इतिहास में 19 जनवरी खास जगह रखता है। 1966 में आज ही दिन देश को पहली महिला प्रधानमंत्री मिली थी। दरअसल 11 जनवरी 1966 को ताशकंद समझौते की रात प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री का निधन हो गया। अगले दिन गुलजारी लाल नंदा एक बार फिर कार्यवाहक प्रधानमंत्री बने। दूसरी तरफ कांग्रेस में नेता चुनने की लड़ाई शुरू हुई। 7 दिन तक चली जद्दोजहद के बाद इंदिरा गांधी के नाम पर मुहर लग गई।

मोरारजी ने लिटिल गर्ल कहकर खारिज कर दिया था
मोरारजी देसाई कभी भी इंदिरा को नेहरू का उत्तराधिकारी नहीं मानते थे। देसाई ने उन्हें लिटिल गर्ल कहकर खारिज कर दिया था। लाल बहादुर शास्त्री के निधन के बाद सवाल उठने लगा कि देश का अगला प्रधानमंत्री कौन होगा?

इसकी जिम्मेदारी कांग्रेस अध्यक्ष के. कामराज के पास थी। प्रधानमंत्री की तलाश शुरू हुई और दो नाम सामने आए। पहला मोरारजी देसाई और दूसरा इंदिरा गांधी। इस दौड़ में एक और नाम शामिल था के. कामराज का। उस समय पार्टी में सिंडिकेट नेताओं का बोलबाला था और उसके प्रमुख कामराज ही थे, लेकिन उन्होंने प्रधानमंत्री बनने से मना कर दिया था।

इसके बाद कांग्रेस संसदीय दल का चुनाव हुआ। इसमें इंदिरा गांधी ने उस समय के मंझे हुए कांग्रेसी नेता मोरारजी देसाई को हराया था। इस दौरान इंदिरा गांधी को 355 वोट मिले थे, जबकि मोरारजी को मात्र 169 वोट मिले। यह दूसरा मौका था जब मोरारजी प्रधानमंत्री बनने से चूके थे। इससे पहले नेहरू के निधन के बाद भी वे प्रधानमंत्री पद की दौड़ में थे।

लगातार 3 कार्यकाल तक प्रधानमंत्री रहीं
इंदिरा गांधी ने 19 जनवरी 1966 को प्रधानमंत्री पद की शपथ ली। इसके बाद इंदिरा लगातार 3 कार्यकाल तक प्रधानमंत्री रहीं। 1980 में वे चौथी बार प्रधानमंत्री बनीं और 31 अक्टूबर 1984 को अपनी हत्या के दिन तक देश की प्रधानमंत्री रहीं। इंदिरा का जन्म 19 नवंबर 1917 को इलाहाबाद में हुआ था।

ओशो की मौत आज भी रहस्य बनी है
19 जनवरी 1990 को आचार्य रजनीश ओशो का पुणे में निधन हुआ था। उनकी मौत आज भी रहस्य बनी हुई है। उनका जन्म मध्य प्रदेश में रायसेन जिले के कुचवाड़ा गांव में हुआ था। भारत में उनके विचारों को सामाजिक मान्यताओं के खिलाफ माना जाता था। ऐसे में विरोध होने पर वे 1981 में अमेरिका चले गए। अमेरिका में उनके आश्रम में गैरकानूनी गतिविधियों में शामिल होने के आरोप लगे। 28 अक्टूबर 1985 को उन्हें नार्थ कैरोलिना से गिरफ्तार कर लिया गया। हालांकि, बाद में उन्हें रिहा कर दिया गया। इसके बाद वे भारत लौट आए। आरोप है कि उन्हें अमेरिका में स्लो पॉइजन दिया गया था।

भारत और दुनिया में 19 जनवरी की महत्वपूर्ण घटनाएं इस प्रकार हैंः

2006: नासा का न्यू होराइजन स्पेसक्राफ्ट लॉन्च हुआ। प्लूटो की जानकारी इकट्ठा करने के लिए इस मिशन को भेजा गया था।

2000: न्यूयॉर्क के टाइम स्क्वायर पर पहला WWF रेस्टोरेंट खुला था।

1987: नारायण दत्त ओझा सुप्रीम कोर्ट के जज बनने के दो घंटे बाद रिटायर हो गए थे।

1942: जापान की सेना ने बर्मा (म्यान्मार) की राजधानी रंगून (अब यंगून) से 235 मील दक्षिण पूर्व तिवोय बंदरगाह पर कब्जा कर लिया था।

1907: पहला फिल्म रिव्यू वैराइटी मैगजीन में छपा।

1905: हिन्दू दार्शनिक देवेन्द्रनाथ टैगोर का निधन हुआ था।

1883: नार्थ सी में जर्मन स्टीमर सिंब्रिया और ब्रिटिश स्टीमर सुल्तान के बीच टक्कर हुई थी। इस हादसे में 340 लोगों की मौत हो गई थी।

1597: मेवाड़ के राणा प्रताप सिंह का निधन हुआ था।