पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Today History: Aaj Ka Itihas 2 March India World Update | Death Anniversary Of Sarojini Naidu

इतिहास में आज:भारत कोकिला सरोजिनी नायडू 12 साल की उम्र में कविताएं लिखने लगी थीं, प्लेग के दौरान किए काम के कारण मिला 'केसर-ए-हिंद' सम्मान

7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

वो देश की पहली महिला राज्यपाल थीं। वो पहली भारतीय महिला थीं जिन्होंने कांग्रेस की कमान संभाली। महज 12 साल की उम्र में उन्होंने कविताएं लिखना शुरू कर दिया था। हम बात कर रहे हैं भारत कोकिला यानी 'नाइटिंगेल ऑफ इंडिया' सरोजिनी नायडू की। आज उनकी पुण्यतिथि है। 13 फरवरी 1879 को जन्मीं सरोजिनी नायडू ने मद्रास यूनिवर्सिटी से मैट्रिक परीक्षा में टॉप किया था।

16 साल की उम्र में वो हायर एजुकेशन के लिए इंग्लैंड चली गईं। वहां उन्होंने किंग्स कॉलेज, लंदन और गिरटन कॉलेज में पढ़ाई की। 19 साल की उम्र में उनकी शादी डॉ. गोविंद राजालु नायडू से हो गई। 1914 में उनकी मुलाकात महात्मा गांधी से हुई। यहीं से वो देश की आजादी के आंदोलन से जुड़ गईं। गांधी के भारत आने से पहले उन्होंने गांधी जी के साथ दक्षिण अफ्रीका में भी काम किया। 1925 में उन्हें कांग्रेस का अध्यक्ष बनाया गया। वो पहली भारतीय महिला थीं जो कांग्रेस की अध्यक्ष बनीं। उनसे पहले एनी बेसेंट कांग्रेस की अध्यक्ष बनने वाली पहली महिला बनी थीं, लेकिन वो भारतीय नहीं थीं।

1928 में सरोजिनी नायडू को केसर-ए-हिंद से सम्मानित किया गया। यह मेडल उन्हें भारत में प्लेग की महामारी के दौरान किए उनके काम के लिए दिया गया था। 15 अगस्त 1947 को आजादी मिलने के बाद उन्हें यूनाइटेड प्रोविंस (अब उत्तर प्रदेश) का राज्यपाल चुना गया। सरोजिनी देश की पहली महिला राज्यपाल थीं। वो इस पद पर अपने निधन तक रहीं। 2 मार्च 1949 को लखनऊ में उन्हें हार्ट अटैक आया और उनका निधन हो गया। सरोजिनी नायडू की 135वीं जयंती पर यानी 13 फरवरी 2014 को भारत में राष्ट्रीय महिला दिवस मनाने की शुरुआत की गई।

श्रीलंका के रक्षा उपमंत्री की हत्या

आज ही के दिन 1991 में श्रीलंका की राजधानी कोलंबो में हुए एक कार बम धमाके में श्रीलंका के रक्षा उपमंत्री रंजन विजयरत्ने सहित 19 लोग मारे गए थे। मृतकों में विजयरत्ने के पांच बॉडीगार्ड भी शामिल थे। इस धमाके में 73 लोग घायल हुए, मगर किसी ने इसकी जिम्मेदारी नहीं ली। शक तमिल टाइगर विद्रोहियों लिबरेशन टाइगर्स ऑफ तमिल ईलम (LTTE) पर जताया गया। उस वक्त विजयरत्ने ने LTTE के खिलाफ अभियान चला रखा था।

दुनिया में शुरू हुई सीडी प्लेयर की बिक्री

1983 में आज ही के दिन अमेरिका समेत दुनिया के कई देशों में CD प्लेयर की बिक्री की शुरुआत हुई। इससे पहले CD प्लेयर सिर्फ जापान में बिका करते थे। इसी के साथ ही कैसेट वाले टेप के खत्म होने की शुरुआत हुई। CD प्लेयर की बिक्री की शुरुआत को डिजिटल ऑडियो रेवेल्यूशन के बड़े कदम के रूप में जाना जाता है।

देश-दुनिया के इतिहास में 2 मार्च की तारीख में दर्ज अन्य घटनाएं इस प्रकार हैं-

2009: पश्चिमी अफ्रीकी देश गिनी-बिसाउ के तीन बार के राष्ट्रपति जोआओ बर्नार्डो विएरा की सैनिकों ने हत्या कर दी। विएरा और गिनी की सेना के बीच जारी संघर्ष को इसका जिम्मेदार बताया गया।

1969: सुपरसोनिक विमान कॉनकॉर्ड ने पहली सफल उड़ान भरी। ये विमान टॉलूज (फ्रांस के शहर) से उड़ा था। 27 मिनट की अपनी उड़ान में विमान 10 हजार फीट की ऊंचाई तक गया। कहा जाता है कि ये विमान 2080 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार तक उड़ाया जा सकता था।

1968: जेम्स बॉन्ड फिल्म सीरीज के छठें जेम्स बॉन्ड यानी डेनियल क्रेग का इंग्लैंड के चेस्टर में जन्म हुआ।

1949: दुनिया की पहली ऑटोमैटिक स्ट्रीट लाइट अमेरिका में लगाई गई। ये ऐसा लाइटिंग सिस्टम था, जो अंधेरा होने पर ऑन हो जाता था और जरूरत नहीं होने पर ऑफ हो जाता था।

1933: मशहूर हॉलीवुड फिल्म 'किंग कॉन्ग' रिलीज हुई। विलिस ओ-ब्रयान के खास स्पेशल इफेक्ट्स की वजह से ये फिल्म आज भी याद की जाती है। इस फिल्म को एनिमेटेड कैरेक्टर की फिल्मों में एक मील के पत्थर के रूप में माना जाता है।

1931: सोवियत संघ के नेता मिखाइल गोर्बाचेव का जन्म हुआ। अमेरिका-सोवियत संघ के बीच शीत युद्ध को खत्म करने और सोवियत संघ में सुधारों की शुरुआत करने का श्रेय गोर्बाचेव को जाता है।

1917: दि जॉन्स एक्ट के प्रभावी होने के साथ ही पोर्टो रिको अमेरिका का हिस्सा बना।

1807: अमेरिका की संसद यानी कांग्रेस ने देश में गुलामों के आयात पर रोक लगाने का कानून पास किया। इसे दास प्रथा को खत्म करने के लिए उठाया गया अहम कदम माना जाता है।

1498: पुर्तगाली यात्री वास्को डी गामा और उसका बेड़ा भारत की तरफ अपनी पहली यात्रा के दौरान मोजाम्बीक द्वीप पहुंचा।