• Hindi News
  • National
  • Today History Aaj Ka Itihas 8 December | Indian Navy Got The First Submarine Kalvari

आज का इतिहास:54 साल पहले नौसेना को मिली थी पहली पनडुब्बी कलवरी, 1971 की जंग में पाक को दिखाई थी ताकत

2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

8 दिसंबर 1967 को तत्कालीन सोवियत संघ के रीगा बंदरगाह पर पहली सबमरीन ‘कलवरी’ को भारतीय नौसेना में शामिल किया गया था। उस समय सोवियत संघ का हिस्सा रहा रीगा अब लात्विया की राजधानी है। जुलाई 1968 में "कलवरी" भारत के विशाखापट्टनम पहुंची। रीगा से विशाखापट्टनम पहुंचने में इस सबमरीन को तीन महीने लगे थे। इस दौरान इसने 30 हजार 500 किलोमीटर से ज्यादा का सफर किया।

जिस दौरान भारत की "कलवरी" रीगा से विशाखापत्तनम की यात्रा कर रही थी, उसी दौरान तीन ताकतवर देशों अमेरिका, ब्रिटेन और सोवियत संघ की तीन सबमरीन समुद्र में डूब गई थीं। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि उस दौर में सबमरीन का संचालन कितना कठिन था।

INS कलवरी पर 2017 में एक डाक टिकट जारी किया गया था
INS कलवरी पर 2017 में एक डाक टिकट जारी किया गया था

भारतीय नौसेना में शामिल होने के चार साल बाद ही इस सबमरीन ने 1971 में भारत-पाकिस्तान के युद्ध में अपने जौहर दिखाए। इस जंग में 8-9 दिसंबर की रात भारतीय नौसेना ने कराची बंदरगाह तबाह कर दिया था। इसे ऑपरेशन ट्राइडेंट नाम दिया गया था। इस ऑपरेशन में इस सबमरीन की अहम भूमिका थी।

करीब 30 साल देश की सेवा करने के बाद 31 मार्च 1996 को इसे नौसेना से रिटायर कर दिया गया। फ्रांस की मदद से देश में ही बनी स्कार्पीन श्रेणी की आधुनिकतम सबमरीन को 2018 में नौसेना में शामिल किया गया। इसका नाम भी ‘कलवरी’ ही रखा गया है।

1980: बीटल के लेनन की हत्या

1980 में आज ही के दिन म्यूजिक बैंड बीटल के सदस्य जॉन लेनन की न्यूयॉर्क में हत्या कर दी गई थी। लेनन बीटल के संस्थापकों में शामिल थे। 1960 के दशक में उनका बैंड हिट रहा, तो 1970 के दशक में उन्होंने बैंड से अलग भी अपनी पहचान बनाई। लेनन का हत्यारा फेमस होना चाहता था, इसलिए उसने एक लिस्ट बनाई। इस लिस्ट में एलिजाबेथ टेलर, रोनाल्ड रीगन जैसे दिग्गजों के नाम शामिल थे। 2000 में रिहा होने के बाद लेनन के हत्यारे चैपमेन ने कहा कि मैं मशहूर होना चाहता था। मुझे लगा कि लेनन को मारकर मैं फेमस हो जाऊंगा, मैं कुछ बनना चाहता था, लेकिन मैं हत्यारा बन गया और हत्यारे कुछ नहीं होते हैं।

1968 में भारत दौरे पर महर्षि महेश योगी के ऋषिकेश स्थित आश्रम में पहुंचे थे 'द बीटल्स' के सदस्य, जॉन लेनन (बाएं से तीसरे) (साभार: COLIN HARRISON)
1968 में भारत दौरे पर महर्षि महेश योगी के ऋषिकेश स्थित आश्रम में पहुंचे थे 'द बीटल्स' के सदस्य, जॉन लेनन (बाएं से तीसरे) (साभार: COLIN HARRISON)

2010: पहली निजी कंपनी ने अंतरिक्ष में अपना यान भेजा

2010 में आज ही के दिन अमेरिका की एयरोस्पेस कंपनी स्पेस-एक्स ने अपना यान अंतरिक्ष में भेजा। ऐसा करने वाली वह दुनिया की पहली निजी कंपनी बनी। यह यान कक्षा में सफलतापूर्वक छोड़ा गया और अपनी कार्य अवधि पूरी करने के बाद यह वापस लौट आया।

08 दिसंबर को विश्व और भारत के इतिहास की अन्य महत्वपूर्ण घटनाएं:

2019: दिल्ली में अनाज मंडी के रिहायशी इलाके में चल रही स्कूल बैग बनाने वाले फैक्ट्री में भीषण आग लगने से 43 लोगों की मौत हो गई।

2019: फिनलैंड की सना मारिन 34 साल की उम्र में दुनिया की सबसे युवा प्रधानमंत्री चुनी गईं। इससे पहले यूक्रेन के 35 साल के ओलेक्सी होन्चेरुक (Oleksiy HOncharuk) सबसे युवा प्रधानमंत्री थे।

2004 : पाकिस्तान ने 700 किमी मारक क्षमता से लैस शाहीन-1 मिसाइल का सफल परीक्षण किया।

1987 : अमेरिका के राष्ट्रपति रोनाल्ड रीगन और सोवियत नेता मिखाइल गोर्बाचेव ने परमाणु हथियारों में कटौती की संधि पर साइन किए।

1946: एक्ट्रेस शर्मिला टैगोर का जन्म।

1935: एक्टर और पूर्व सांसद धर्मेन्द्र का जन्म।

1927: पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल का जन्म हुआ।