• Hindi News
  • National
  • Today Is The Birthday Of Modi, The First Prime Minister Of The Country Who Was Born In Independent India, Became The Chief Minister After 16 Years Of Joining The BJP And Became The Prime Minister After 29 Years.

आज का इतिहास:आजाद भारत में जन्म लेने वाले देश के पहले प्रधानमंत्री मोदी का आज जन्मदिन, BJP में आने के 16 साल बाद CM और 29 साल बाद PM बने

एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्टेशन पर चाय बेचने से लेकर दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के मुखिया बनने तक का सफर तय किया है। 1950 में आज ही के दिन गुजरात के वडनगर में मोदी का जन्म हुआ था। उनके पिता दामोदरदास मोदी रेलवे स्टेशन पर चाय बेचा करते थे। इस काम में नरेंद्र मोदी अपने पिता की मदद किया करते थे।

8 साल की उम्र में ही मोदी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ यानी आरएसएस से जुड़ गए थे। 1971 में संघ का पूर्णकालिक कार्यकर्ता बनने के बाद उनकी राजनीतिक शिक्षा-दीक्षा शुरू हुई। 1975 में आपातकाल के दौरान छिपकर वक्त गुजारना पड़ा। 1985 में भाजपा में संगठन का काम मिला।

गुजरात के भुज में आए भूकंप के बाद प्रशासनिक व्यवस्थाएं चरमरा गई थीं, तब 2001 में मोदी को मुख्यमंत्री बनाया गया। गुजरात दंगों को लेकर आरोपों से घिरे, लेकिन गुजरात के विकास मॉडल को बेस बनाकर केंद्र की राजनीति में आए और 2014 में प्रधानमंत्री पद के प्रत्याशी के तौर पर पहली बार किसी गैर-कांग्रेसी पार्टी यानी भाजपा की पूर्ण बहुमत वाली सरकार बनाई। 2019 में पहले से बेहतर प्रदर्शन कर लगातार दूसरी बार सत्ता में लौटे।

2014 का चुनाव जीतने के बाद जब मोदी पहली बार संसद पहुंचे तो उन्होंने संसद की सीढ़ियों पर मत्था टेका था।
2014 का चुनाव जीतने के बाद जब मोदी पहली बार संसद पहुंचे तो उन्होंने संसद की सीढ़ियों पर मत्था टेका था।

हाल ही में टाइम मैगजीन ने 2021 के लिए दुनिया के सबसे प्रभावशाली लोगों की सूची में भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी रखा है। मैगजीन ने बताया है कि मोदी भारत की राजनीति में सबसे ज्यादा प्रभाव रखने वाली शख्सियत हैं। ये लगातार दूसरा साल है जब प्रधानमंत्री मोदी को टाइम ने अपनी लिस्ट में जगह दी है।

1948: भारत में हुआ था हैदराबाद रियासत का विलय

भारत की आजादी के बाद भी कुछ स्वतंत्र रियासतें ऐसी थीं, जो भारत का हिस्सा बनने को तैयार नहीं थी। इनमें भोपाल, हैदराबाद, जूनागढ़ की रियासतें मुख्य थीं। हैदराबाद के निजाम मीर उस्मान अली भी भारत में विलय को तैयार नहीं थे। रियासतों को भारत में मिलाने का जिम्मा सरदार पटेल को मिला था। जब लंबी बातचीत के बाद भी हैदराबाद विलय के लिए तैयार नहीं हुआ तो ऑपरेशन पोलो शुरू किया गया। ये पुलिस एक्शन के नाम पर सैन्य कार्रवाई थी।

सरदार पटेल और हैदराबाद के नवाब मीर उस्मान अली।
सरदार पटेल और हैदराबाद के नवाब मीर उस्मान अली।

13 सितंबर 1948 को यह पुलिस एक्शन शुरू हुआ। 3 दिन तक ये ऑपरेशन चला और 17 सितंबर को निजाम ने भारत में विलय को मंजूरी दे दी। इस तरह हैदराबाद भारत का हिस्सा बना।

1908: दुनिया का पहला हवाई हादसा

1903 में राइट ब्रदर्स ने दुनिया के सामने पहला विमान पेश किया था। दिसंबर में इसके सफल ट्रायल के साथ ही राइट ब्रदर्स पूरी दुनिया में प्रसिद्ध हो गए थे। वे अलग-अलग जगहों पर जाकर अपने विमान का प्रदर्शन करते थे और साथ ही उसमें सुधार भी किया करते थे।

1908 में US आर्मी सिग्नल कॉर्प्स ने 2-सीटर ऑब्जर्वेशन एयरक्राफ्ट के लिए टेंडर निकाला। कहा गया कि जो विमान आर्मी की जरूरतों पर खरा उतरेगा उसे आर्मी अपने कामकाज में इस्तेमाल करेगी। राइट ब्रदर्स ने भी अपने विमान को यूएस आर्मी के सामने पेश किया।

17 सितंबर 1908 को वर्जीनिया में राइट ब्रदर्स के बनाए विमान का ट्रायल हो रहा था। इस विमान को ओर्विल राइट उड़ा रहे थे और लेफ्टिनेंट थॉमस सेल्फ्रिज उनके साथ बैठे हुए थे, लेकिन हवा में ही विमान में कुछ खराबी आई और करीब 75 फीट की ऊंचाई से विमान जमीन पर आ गिरा।

लेफ्टिनेंट थॉमस सेल्फ्रिज।
लेफ्टिनेंट थॉमस सेल्फ्रिज।

हादसे में थॉमस को गंभीर चोटें आईं और उन्हें बेहोशी की हालत में हॉस्पिटल ले जाया गया। रात में ऑपरेशन के दौरान ही थॉमस की मौत हो गई। किसी विमान हादसे में हुई ये पहली मौत थी।

2011: 'वॉल स्ट्रीट पर कब्जा करो' आंदोलन

10 साल पहले आज ही के दिन ऑक्युपाई वॉल स्ट्रीट आंदोलन शुरू हुआ था। पूंजीवाद के विरोध में यह आंदोलन 2011 में न्यूयॉर्क के जुकोट्टी पार्क से शुरू होकर धीरे-धीरे यूरोप के देशों से होता हुआ दुनिया के 82 देशों में पहुंच गया था।

आंदोलन के दौरान प्रदर्शन करते लोग।
आंदोलन के दौरान प्रदर्शन करते लोग।

आंदोलन करने वाले ज्यादातर बेरोजगार लोग थे, जिनका रोजगार 2008 की वैश्विक मंदी ने छीन लिया था। यूरोप के कुछ देशों में कर्ज का संकट गहरा गया था।

17 सितंबर के दिन इतिहास में घटित हुईं कुछ अन्य महत्वपूर्ण राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय घटनाएं...

2017ः कोरिया ओपन सुपर सीरीज जीतने वाली पहली भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी बनीं पीवी सिंधु।

2009ः केन्द्रीय सतर्कता आयोग ने 123 भ्रष्ट सरकारी अधिकारियों के नाम वेबसाइट पर जारी किए।

2004ः यूरोपीय संसद ने मालदीव पर प्रतिबंध लगाने का प्रस्ताव पारित किया।

2002ः इराक ने संयुक्त राष्ट्र हथियार निरीक्षकों को बिना शर्त देश में आने की इजाजत दी।

2000ः जाफना प्रायद्वीप का चवाक छेड़ी शहर लिट्टे से मुक्त।

1999ः ओसामा बिन लादेन का भारत के विरुद्ध जेहाद का ऐलान।

1957ः मलेशिया संयुक्त राष्ट्र में शामिल हुआ।

1956ः भारतीय तेल एवं प्राकृतिक गैस आयोग का गठन।

1995ः हॉन्गकॉन्ग का शासन चीन को सौंपने से पहले ब्रिटिशर्स ने वहां पहली बार लेजिस्लेटिव काउंसिल के चुनाव कराए थे।

1986: भारतीय क्रिकेटर रविचंद्रन अश्विन का जन्म हुआ।

1982ः भारत और सिलोन (श्रीलंका) के बीच पहला क्रिकेट टेस्ट मैच खेला गया।

1974ः बांग्लादेश, ग्रेनेडा और गिनी बिसाऊ संयुक्त राष्ट्र संघ में शामिल।

1949ः दक्षिण भारतीय राजनीतिक दल द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (डीएमके) की स्थापना।

1915: मशहूर और विवादित पेंटर मकबूल फिदा हुसैन का जन्म हुआ।