--Advertisement--

आधार / यूआईडीएआई 53 शहरों में खोलेगा अपने सेवा केंद्र, 4 लाख लोगों को रोज करा सकेंगे अपडेशन



सिम्बॉलिक फोटो सिम्बॉलिक फोटो
X
सिम्बॉलिक फोटोसिम्बॉलिक फोटो
  • यूआईडीएआई की इस योजना में करीब 400 करोड़ रुपए खर्च होने का अनुमान
  • मेट्रो शहरों में ऐसे 4 और अन्य शहरों में 2 केंद्र खोले जाएंगे

Dainik Bhaskar

Oct 09, 2018, 07:01 PM IST

नई दिल्ली. यूनिक आइडेंटिफेकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (यूआईडीएआई) पासपोर्ट सेवा केंद्र की तर्ज पर आधार सेवा केंद्र खोलने की योजना बना रहा है। ये पूरी तरह से यूआईडीएआई के तहत काम करेंगे और यहां एनरोलमेंट, अपडेशन समेत आधार संबंधी सभी कार्य होंगे। अनुमान जाहिर किया गया है कि इन केंद्रों के खुलने के बाद रोजाना करीब 4 लाख लोगों का आधार अपडेशन और करीब एक लाख एनरोलमेंट हो सकेंगे।

लोगों की सुविधा को बढ़ाना केंद्रों का मकसद

  1. नाम ना जाहिर करने की शर्त पर एक अधिकारी ने न्यूज एजेंसी को बताया कि सेवा केंद्र खोलने का मकसद आधार एनरोलमेंट और अपडेट में लोगों की सुविधा को बढ़ाना है। इन सेवाओं के लिए लोग पहले से अप्वाइंटमेंट भी ले सकेंगे।

  2. अधिकारी ने कहा कि हर मेट्रो शहर में इस तरह के 4 केंद्र खोले जाएंगे। इसके अलावा अन्य शहरों में ऐसे केंद्रों की संख्या 2 होगी। अप्रैल 2019 तक 53 शहरों में ये केंद्र शुरू हो जाएंगे।

  3. सु्प्रीम कोर्ट ने 26 सितंबर को अपने आदेश में आधार की संवैधानिक वैधता को बरकरार रखा था। कोर्ट ने कहा था- सरकारी योजनाओं के लाभ के लिए अनिवार्य रहेगा। हालांकि, स्कूलों में एडमिशन और बैंक खाता खोलने के लिए यह जरूरी नहीं है।

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..