• Hindi News
  • National
  • Union Minister Ram Vilas Paswan took action against the shopkeeper apple was coated with wax

दिल्ली / खाद्य मंत्री पासवान सलाद बनाने जा रहे थे, सेब पर मोम देख नाराज हुए; दुकानदार के खिलाफ कार्रवाई

Union Minister Ram Vilas Paswan took action against the shopkeeper apple was coated with wax
X
Union Minister Ram Vilas Paswan took action against the shopkeeper apple was coated with wax

  • केंद्रीय मंत्री ने दिल्ली के खान मार्केट से 420 रुपए प्रति किलो के भाव से सेब खरीदा था
  • सेब को तरोताजा रखने के लिए मोम लगाने की खुद सरकार देती है अनुमति

दैनिक भास्कर

Sep 18, 2019, 11:14 AM IST

नई दिल्ली. खाने-पीने के सामान में मिलावट की खबरें आम हैं। बड़ी तादाद में उपभोक्ता इसे लेकर शिकायत भी करते हैं। कुछ मामलों की सुनवाई होती है, तो कई अनसुनी रह जाती हैं। लेकिन, जब मामला देश के खाद्य आपूर्ति और उपभोक्ता मंत्री रामविलास पासवान से जुड़ा हो, तो अधिकारियों का एक्शन में आना लाजिमी है।

 

मंत्री ने मंगलवार को एक कार्यक्रम के दौरान बताया कि वे कुछ दिन पहले घर में रशियन सलाद बनाने जा रहे थे। इसके लिए जब उन्होंने सेब उठाया तो पता चला कि इस पर मोम की परत चढ़ाई हुई है। मंत्रीजी ने सेब को चाकू से खुरचा तो काफी मात्रा में मोम निकला। यह सेब दिल्ली का पॉश इलाका माने जाने वाले खान मार्केट से खरीदा था। इसकी कीमत 420 रुपए प्रति किलो थी। मंत्रीजी की नाराजगी के बाद बाद खाद्य और स्वास्थ्य से जुड़ी कई एजेंसियों ने दुकानदार के खिलाफ कार्रवाई की है।


सेब पर खाने योग्य मोम की तीन वेरायटी लगाते

सेब को काफी दिनों तक तरोताजा और उसकी चमक बनाए रखने को लेकर कुछ व्यापारी सेब पर मोम का लेप चढ़ाते हैं। खास बात यह है कि इसकी इजाजत खुद सरकार देती है। नियमों के मुताबिक, सेब पर खाने योग्य मोम की तीन वेरायटी का लेप लगाने की अनुमति है। बीजवैक्स, कार्नाउबा वैक्स और शेलैक वैक्स इसकी तीन वेरायटी हैं। हालांकि, अगर सेब पर इनका इस्तेमाल हुआ है तो इसकी जानकारी वैक्स के प्रकार के नाम के साथ लेबल के रूप में देना अनिवार्य है।

 

कई बार नियमों का पालन नहीं किया जाता

इसलिए कई बार आप सेब पर छोटा लेबल देखते होंगे। हालांकि, कई सेब सप्लायर या विक्रेता नियमों का पालन नहीं करते हैं। कई बार नॉन एडिबल वैक्स (गैर खाने योग्य मोम) का इस्तेमाल कर दिया जाता है। यह सेहत के लिए भी नुकसानदायक होता है। डॉक्टरों के मुताबिक नॉन एडिबल वैक्स खाने से किडनी में संक्रमण और नसों के कमजोर होने की आशंका होती है।


वैक्स से चमक बनी रहती है और सेब जल्द खराब नहीं होता
भारत में सेब की मुख्यत: कश्मीर और हिमाचल में पैदावार होती हैं। वहां, से इन्हें देश-विदेश सप्लाई किया जाता है। ऐसे में सेब को लंबे समय तक खराब होने से बचाने और चमक बरकरार रखने के लिए कई कारोबारी इस पर वैक्स यानी मोम की कोटिंग करते हैं।

 

DB Originals - DBApp

 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना