दिल्ली में AAP विधायक अमानतुल्लाह गिरफ्तार:ACB के छापे में बिना लाइसेंस की पिस्टल और 24 लाख कैश मिले; वक्फ बोर्ड केस में एक्शन

नई दिल्ली2 महीने पहले

आम आदमी पार्टी (AAP) के विधायक अमानतुल्लाह खान को गिरफ्तार कर लिया गया है। एंटी करप्शन ब्यूरो (ACB) ने शुक्रवार को उनके घर समेत पांच ठिकानों पर छापे मारे थे। अमानतुल्लाह के दो करीबियों के ठिकानों से 24 लाख रुपए कैश और दो पिस्टल बरामद की गई हैं।

इनमें एक पिस्टल विदेशी है, जिसका लाइसेंस नहीं है। वक्फ बोर्ड से जुड़े घोटाले के मामले में ACB ने विधायक के घर के अलावा जामिया, ओखला और गफूर नगर में पांच ठिकानों पर छापेमारी की थी। ACB की कार्रवाई पर अमानतुल्लाह ने कहा कि जांच करने वाले लोग कहते हैं कि ऊपर से प्रेशर है, लेकिन ये लोग CEO वक्फ बोर्ड की शिकायत पर ऐसा कर रहे हैं।

दिल्ली वक्फ बोर्ड भ्रष्टाचार केस में एंटी करप्शन ब्रांच ने दिल्ली के आप विधायक अमानतुल्लाह खान और उनके बिजनेस पार्टनर्स के 5 ठिकानों पर छापा मारा। अमानतुल्लाह के दो सहयोगियों से 24 लाख रुपए नकद, 2 अवैध पिस्टल और कुछ कारतूस बरामद किए गए।
दिल्ली वक्फ बोर्ड भ्रष्टाचार केस में एंटी करप्शन ब्रांच ने दिल्ली के आप विधायक अमानतुल्लाह खान और उनके बिजनेस पार्टनर्स के 5 ठिकानों पर छापा मारा। अमानतुल्लाह के दो सहयोगियों से 24 लाख रुपए नकद, 2 अवैध पिस्टल और कुछ कारतूस बरामद किए गए।

बोर्ड समिति ने योग्यता के आधार पर भर्ती की थी
अमानतुल्लाह ने कहा- मैंने केवल 125 स्थायी कर्मचारियों के लिए प्रस्ताव भेजा था, लेकिन वह मंजूर नहीं हुआ था। इस वजह से मुझे संविदा कर्मचारियों को नियुक्त करना पड़ा था। बोर्ड की समिति ने योग्यता के आधार पर भर्ती की थी। यह नहीं कह सकते कि मेरे रिश्तेदारों को वरीयता दी गई।

मुझसे पहले 24 लोगों को भर्ती किया गया। सभी को मेरिट बेस पर ही भर्ती किया गया था। उसी CEO ने इन लोगों की नियुक्ति की थी, जिसने शिकायत की है। ये 2022 के रिकॉर्ड मांग रहे हैं। मैंने सभी मानदंडों का पालन किया है। मेरे खिलाफ 23-24 FIR दर्ज हैं।

खान पर 33 आरोप हैं
मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक खान​​​ पर वक्फ बोर्ड के बैंक खाते में गड़बड़ी, बोर्ड की संपत्ति में किराए का निर्माण, वाहन खरीदना, भ्रष्टाचार, अपने करीबियों की नियुक्ति करने समेत 33 आरोप हैं। 2020 में ACB ने मामला दर्ज किया था।

खान पर 2018 से 2020 के बीच घोटाले के आरोप हैं। इसी साल अगस्त में ACB ने एलजी को पत्र लिखा था कि अमानतुल्लाह को वक्फ बोर्ड चेयरमैन पद से हटाया जाए क्योंकि उनका स्वभाव बहुत आक्रामक है और वो क्रिमिनल हैं।

7 मई को पंजाब में AAP विधायक के यहां रेड पड़ी थी

1 रुपया वेतन लेने का एफिडेविट दिखाते विधायक गज्जनमाजरा।
1 रुपया वेतन लेने का एफिडेविट दिखाते विधायक गज्जनमाजरा।

पंजाब में आम आदमी पार्टी (AAP) के विधायक जसवंत सिंह गज्जनमाजरा के यहां 7 मई को CBI की रेड पड़ी थी। यह रेड 40 करोड़ के बैंक फ्रॉड मामले में की गई थी। गज्जनमाजरा अमरगढ़ विधानसभा क्षेत्र से आप के विधायक हैं। यह रेड संगरूर के मालेरकोटला में 3 ठिकानों पर की गई थी। यह वही विधायक हैं जिन्होंने चुनाव जीतने के बाद एफिडेविट दिया था कि वह सिर्फ 1 रुपया वेतन लेंगे।