पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Unlock Process Latest News Update | Kejriwal Government, Lockdown Extend In Delhi, Corona Cases In India, Corona Outbreak In India

हरियाणा में रियायतों के साथ लॉकडाउन बढ़ा:अब 7 जून तक पाबंदियां लागू रहेंगी; ऑड-ईवन फॉर्मूले पर खुलेंगी दुकानें; 15 जून तक शिक्षण संस्थान बंद रहेंगे

चंडीगढ़/नई दिल्ली22 दिन पहले

हरियाणा सरकार ने एक बार फिर लॉकडाउन बढ़ा दिया है। राज्य में अब 7 जून तक लॉकडाउन रहेगा। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बताया कि सुरक्षित हरियाणा को ध्यान में रखते हुए कुछ छूट के साथ पाबंदियों को एक हफ्ते के लिए बढ़ाया जा रहा है। दुकानें अब सुबह 9 बजे से दोपहर 3 बजे तक खुल सकती हैं।

उन्होंने बताया कि दुकानों को ऑड-ईवन फॉर्मूले पर खोला जाएगा। 15 जून तक शिक्षण संस्थान बंद रहेंगे। रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू जारी रहेगा। राज्य में 3 मई को लॉकडाउन की घोषणा की गई थी।

जोखिम नहीं उठाना चाहती सरकार
दिल्ली से सटे हरियाणा के जिलों में कोरोना संक्रमण के मामलों में तेजी से कमी आई है। इसके बावजूद हरियाणा सरकार किसी तरह का कोई जोखिम नहीं लेना चाहती है। यही वजह है कि गुरुग्राम, नया गुरुग्राम, फरीदाबाद, बल्लभगढ़, पलवल, सोनीपत, बहादुरगढ़, रोहतक, पानीपत, रेवाड़ी, महेंद्रगढ़ और नारनौल में लॉकडाउन 7 जून तक फिर से बढ़ा दिया गया है।

दिल्ली में भी एक हफ्ते के लिए बढ़ा कर्फ्यू
दिल्ली में कोरोना के मामले लगातार कम हो रहे हैं। इसीलिए सरकार पाबंदियों में छूट देने को लेकर अभी ऐहतियात बरत रही है। इसी के मद्देनजर यहां पाबंदियों को अब 7 जून सुबह 5 बजे तक के लिए बढ़ा दिया गया है। हालांकि, 31 मई से दिल्ली में अनलॉक की प्रक्रिया भी शुरू कर दी है। इसके तहत दो तरह की छूट दी गई है।

दिल्ली में भी सशर्त छूट दी गई

  • दिल्ली सरकार की ओर से शुक्रवार को जारी आदेश के मुताबिक, अनलॉक की प्रक्रिया के तहत इंडस्ट्रियल एरिया में चार दिवारी या परिसर में मैन्युफैक्चरिंग और प्रोडक्शन यूनिट को चलाने की इजाजत होगी। साथ ही वर्क साइट्स के अंदर कंस्ट्रक्शन एक्टिविटी की जा सकेगी। इसके लिए नियम और शर्तें भी रखी गई हैं।
  • दिल्ली डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी (DDMA) के मुताबिक, लॉकडाउन के दौरान दिल्ली में आवश्यक गतिविधियों को छोड़कर लोगों की आवाजाही पर रोक रहेगी। इसके अलावा कंटेनमेंट जोन के बाहर औद्योगिक क्षेत्रों में कंस्ट्रक्शन और मैन्युफैक्चरिंग इकाइयों को संचालन के लिए अनुमति दी गई है।

बीते दिन 956 केस आए
दिल्ली में 2 महीने बाद एक दिन में कोरोना के एक हजार से कम केस मिले हैं। यहां शनिवार को 956 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई। इससे पहले 22 मार्च को 888 केस मिले थे। इसके बाद से लगातार नए केस बढ़ते गए। यह संख्या 30 अप्रैल को 27 हजार तक पहुंच गई थी। इसके बाद से नए मामलों में कमी आ रही है।

पॉजिटिविटी रेट भी 1.19% हुआ
बीते 24 घंटों में यहां 122 लोगों की संक्रमण से मौत हो गई। पॉजिटिविटी रेट भी गिरकर 1.19% पर आ गया है। दूसरी लहर के पीक पर यह 32% तक पहुंच गया था। स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन में कहा गया है कि दिल्ली में कोरोना से मरने वालों की संख्या 24,073 हो गई है। गुरुवार को यहां 1,072 नए केस और 117 मौतें दर्ज की गई थीं।

केजरीवाल ने किया था ऐलान
पिछले दिनों मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि हम दिल्ली में लॉकडाउन को धीरे-धीरे खोलेंगे, सबसे पहले उन लोगों का ध्यान रखना है जो समाज का सबसे गरीब तबका है, मजदूर हैं, प्रवासी हैं। इसलिए हमने फैसला लिया है कि सोमवार से कंस्ट्रक्शन और फैक्ट्रियों की गतिविधियों को खोला जाएगा, अगले एक हफ्ते के लिए यह दोनों सेक्टर खुले रहेंगे।

इन नियमों का पालन करने की शर्त पर मिली छूट

  • थर्मल स्क्रीनिंग और सैनिटाइजर का इस्तेमाल करना अनिवार्य होगा। वर्क ऑवर्स अलग-अलग शिफ्ट में होंगे ताकि एक समय पर ज्यादा भीड़ न हो।
  • डीएम के जरिए रैंडम RT-PCR और रैपिड टेस्ट कराए जाएंगे। कोविड अप्रोप्रियेट बिहेवियर जैसे मास्क लगाना, सोशल डिस्टेंसिंग अनिवार्य होगी।
  • डीएम के अधीन स्पेशल टीम बनाई जाएंगी, जो समय-समय पर निरीक्षण करेंगी। वर्कर्स को ई-पास के जरिए मूवमेंट की इजाजत होगी।
  • मालिक, एम्प्लॉयर्स, कॉन्ट्रैक्टर्स पोर्टल पर डिटेल्स देकर अपने वर्कर्स और कर्मचारियों के लिए ई-पास आवेदन कर सकेंगे।
  • नियमों का उल्लंघन करने पर मैनुफैक्चरिंग यूनिट या कंस्ट्रक्शन साइट को बंद भी किया जा सकता है और DDMA एक्ट के तहत कार्रवाई भी की जाएगी।
खबरें और भी हैं...