पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • Unites States President Donald Trump Held An Interaction With Indian Steel, Hospitality, Automobiles, Pharma And Information Technology Sector

अंबानी ने कहा- बगैर चीन की मदद के 5जी लॉन्च करूंगा, अमेरिकी राष्ट्रपति बोले- जब तक मैं हूं कोई चिंता की बात नहीं

6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने राष्ट्रपति ट्रम्प से सवाल पूछा।
  • राष्ट्रपति ट्रम्प ने भारत के टॉप-20 उद्योगपतियों से बड़े ही रोचक अंदाज में संवाद किया
  • बिड़ला ने कहा- एल्युमीनियम इंडस्ट्री में निवेश करूंगा, ट्रम्प बोले- अच्छी बात है, अगर मैं राष्ट्रपति नहीं बनता तो यह इंडस्ट्री ही बंद हो जाती
  • जुबिलैंट ग्रुप के को-चेयरमैन हरि भारतीया से ट्रम्प बोले- जब वे दोबारा अमेरिकी राष्ट्रपति चुने जाएंगे तो बाजार एक रॉकेट की तरह ऊपर जाएगा

नई दिल्ली. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने भारत यात्रा के आखिरी दिन मंगलवार को देश के टॉप-20 कंपनियों के सीईओ और चेयरमैन से रोचक अंदाज में चर्चा की। करीब आधे घंटे तक यह बातचीत चली। रिलायंस इंडस्ट्री के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने ट्रम्प को अमेरिका के ऊर्जा क्षेत्र में निवेश की जानकारी दी। बोले, मेरी कंपनी ने अमेरिका में करीब 50 हजार 126 करोड़ रुपये का निवेश किया है। आगे, इंडियन टेलीकॉम सेक्टर में रिलायंस की भूमिका भी बताई। इसपर ट्रम्प ने चौंकते हुए जवाब दिया। हां 7 बिलियन ! वाकई में बड़ा निवेश है। फिर अंबानी से सवाल करते हैं आपकी कंपनी 4 जी में काम कर रही है। क्या आप भी हुआवे (चाइनीज कंपनी) की तरह 5जी के क्षेत्र में जाएंगे? इसपर अंबानी जवाब देते हैं- हां... रिलायंस ग्रुप 5जी के क्षेत्र में बेहतर काम कर रहा है। हमारी इकलौती ऐसी कंपनी है जो चीन की मदद के बिना 5जी लॉन्च करेगी। ट्रम्प फिर से चौंकते हैं। कहते हैं, यह बड़ी उपलब्धि है। इसके बाद अंबानी ने हाल के कुछ वर्षों में अमेरिका में व्यापार में काफी सहूलियत मिलने की बात कही। ट्रम्प ने जवाब दिया- यह सहूलियतें तभी तक हैं जब तक मैं हूं। पेश है उद्योगपतियों के सवाल और ट्रम्प के जवाब...

मुकेश अंबानी से ट्रम्प ने कहा, अगर अमेरिका में गलत राष्ट्रपति आ गया तो यहां बेरोजगारी दर 10% तक बढ़ जाएगी
रिलायंस इंडस्ट्री के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने अमेरिका में अपने निवेश और वहां की कंपनियों के अधिग्रहण के बारे में जानकारी दी, तो ट्रम्प ने कहा- आप देख रहे होंगे कि पहले के मुकाबले अमेरिका में आप ये सब कितनी आसानी से कर पा रहे हैं। जब तक मैं हूं, यह चलता रहेगा। लेकिन अगर गलत राष्ट्रपति का चुनाव हो गया तो ये सब नहीं हो पाएगा। सारे विकास कार्यक्रमों में रुकावटें आएंगी। आपके यहां बेरोजगारी दर भी 8-10% तक बढ़ जाएगी। 

कुमार मंगलम बिड़ला, चेयरमैन टाटा संस : दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र भारत में आपका स्वागत है। अमेरिका में निवेश की काफी संभावनाएं हैं। आपकी सरकार ने काफी सहूलियतें दे रखी हैं। मैं जल्द ही अमेरिका के एल्युमीनियम इंडस्ट्री में निवेश करूंगा।

ट्रम्प : ज्यादातर एल्युमीनियम में ? कैसे करेंगे? हम आपकी इसमें काफी मदद कर सकते हैं। आगे सबको चौंकाते हुए... अगर मैं चुनाव नहीं जीता होता तो अमेरिका में एल्युमीनियम ही क्या स्टील इंडस्ट्री भी बंद हो गई होती।  'उन लोगों ने (अमेरिका में विपक्षी दल के नेता) स्टील इंडस्ट्री को पूरी तरह से ठप कर रखा था। यह अच्छी बात नहीं है। मेरे आने के बाद एल्युमीनियम बिजनेस की बड़ी वापसी हुई है।' फिर बोले, अगर दोबारा मैं चुनाव नहीं जीता तो अमेरिका में एल्युमीनियम और स्टील का बिजनेस पूरी तरह से खत्म हो जाएगा।'

लक्ष्मी मित्तल, चेयरमैन और सीईओ आर्सेलर मित्तल : अमेरिका के स्टील सेक्टर में मैंने काफी निवेश कर रखा है। स्टील के क्षेत्र में काफी काम करने का अमेरिका में मौका मिला। सरकार से सकारात्मक सहयोग मिलता है।

ट्रम्प : ये (लक्ष्मी मित्तल) बहुत बड़े इंसान हैं। बहुत बड़े खिलाड़ी हैं। मैं इनको  व्यक्तिगत तौर पर अच्छी तरह से जानता हूं। शानदार तरीके से आगे बढ़िए। कैसा चल रहा है आपका काम? 

लक्ष्मी मित्तल (मुस्कुराते हुए) : मैं आपको बधाई देना चाहता हूं। आपने अमेरिका में उद्योग और व्यापार के लिए अच्छा माहौल बना रखा है। 

ट्रम्प : जैसा की आप जानते हैं तीन साल पहले ठीक इसका उल्टा था। निवेश के लिहाज से काफी बर्बाद देश हो गया था। अमेरिका में व्यापार करना काफी मुश्किल था। आपको अनुमति नहीं मिल सकती थी आप कुछ भी नहीं कर सकते थे। मेरे देश में (अमेरिका) स्टील सेक्टर पूरी तरह से खत्म हो गया था। आप जैसे चंद उद्योगपतियों ने उसे संभाला। रक्षा उत्पादन के क्षेत्र में स्टील और एल्युमीनियम की जरूरत हमेशा रहेगी। आपका काम काफी सराहनीय है।  

मित्तल : हम अल्बामा (यूएस का एक राज्य) में कुछ बिलियन डॉलर का निवेश करने जा रहे हैं। 
ट्रम्प : अच्छी जगह है। आप मुझे बताइएगा। मैं भी आ जाऊंगा। अल्बामा में अच्छा प्लांट लग सकता है। जल्द ही मेरी सरकार टैक्स में कटौती का एलान करेगी। खासतौर पर मध्यमवर्गीय परिवार के लिए। जब उनके पास पैसे रहेंगे तो वह खरीददारी करेंगे और इससे व्यापार अच्छा होगा।    

एन चंद्रशेखरन, चेयरमैन टाटा संस : अमेरिका में निवेश की काफी संभावनाएं हैं। आपने टैक्स रेगुलेशन में काफी सुधार किया है। अगर कॉरपोरेट टैक्स में थोड़ी कटौती और हो जाए तो उद्योग लगाना काफी आसान हो जाएगा।

ट्रम्प : आप किसे महत्वपूर्ण मानते हैं? टैक्स में कटौती या फिर रेगुलेशन में सुधार ?
चंद्रशेखरन (हंसते हुए) : दोंनो- दोनों

ट्रम्प : मेरे पास आपके जैसी (एन चंद्रशेखरन) दुनिया की बड़ी कंपनियां चलाने वाले उद्योगपति आते हैं। वह टैक्स में कटौती को अहम मानते हैं लेकिन उससे भी ज्यादा जरूरत नियमों में ढील देने की मांग करते हैं। यह आपके लिए काफी जरूरी है।   

चंद्रशेखरन : जी हां, फिर... अमेरिका में टाटा संस के निवेश से जुड़ी जानकारी देते हैं। कहते हैं, 'हमारी कंपनी अमेरिकन युवाओं को प्रशिक्षित करने का काम कर रही है। आगे भी हम इसे जारी रखेंगे।'

ट्रम्प : 'आपकी कंपनी अमेरिका के 1.5 करोड़ युवाओं को प्रशिक्षित कर रही है। यह महान कार्य है। मुझे नहीं लगता है कि कोई भी सरकार इस तरह का काम कर सकती है। सरकार के पास सीमित संसाधन होते हैं। हम चाहे जितना धन इस तरह के प्रशिक्षण कार्यों पर खर्च कर दें, उसका कोई फायदा नहीं होता है। इस काम के लिए आपका शुक्रिया।'

आनंद महिंद्रा, चेयरमैन महिंद्रा ग्रुप : मेरी कंपनी ने अमेरिका में काफी निवेश कर रखा है। वहां पोस्टल सर्विस डिलिवरी वैन के उत्पादन के क्षेत्र में हम काम कर रहे हैं। दस लाख से अधिक वैन अभी तक तैयार किए जा चुके हैं। जल्द ही इसमें एक बिलियन डॉलर का और निवेश किया जाएगा।

ट्रम्प : ग्रेट.... आपको अभी से बधाई और अमेरिका में स्वागत है। 

हरि भारतीया, फाउंडर एंड को चेयरमैन जुबिलैंट भारतीय ग्रुप : फार्मेसी के क्षेत्र में काम कर रहा हूं। अमेरिका में अपनी फार्मास्युटिकल कंपनी का विस्तार करना चाहते हैं। कैसे किया जा सकता है?

ट्रम्प : स्वास्थ्य क्षेत्र में काम करने की काफी जरूरत है। इसपर कोई ध्यान नहीं देता है। रिपब्लिकन पार्टी के लिए हेल्थ केयर सेक्टर काफी महत्व रखता है। डमोक्रेट्स के ओबामाकेयर प्रोग्राम को हमने बेहतर तरीके से चलाया लेकिन अब हम अमेरिका में और बेहतर हेल्थ सर्विस मुहैया कराना चाहते हैं। अगर आप इस क्षेत्र में काम करेंगे तो काफी बेहतर रहेगा। हरि भारतीया से बातचीत के दौरान ही ट्रम्प ने यह भी कहा कि जब वे दोबारा अमेरिकी राष्ट्रपति चुने जाएंगे तो बाजार एक रॉकेट की तरह ऊपर जाएगा, क्योंकि वे बाजार की अच्छी समझ रखते हैं।  

ट्रम्प ने मोहन रेड्डी से कहा, जितने गैरजरुरी नियम हमने हटाए, उतने पहले कभी नहीं हटाए गए
इंजीनियरिंग, मैन्यूफैक्चरिंग और डेटा एनालिटिक्स फर्म सायंट के संस्थापक और चेयरमैन बीवीआर मोहन रेड्डी ने अमेरिका में निवेश के नियमों में राहत देने की बात कही। इस पर ट्रम्प का जवाब था, कुछ नियम वैधानिक प्रक्रिया के तहत आते हैं। इनमें से कई नियम जो गैरजरूरी थे, उन्हें हमारी सरकार ने हटाया है। मैं यह भी मानता हूं कि कुछ नियम सुरक्षा और पर्यावरण के लिहाज से जरूरी भी होते हैं। हालांकि इसके बावजूद जितने नियम हमने हटाए हैं, उतने पहले किसी अमेरिकी राष्ट्रपति ने नहीं हटाए।



इंफोसिस सीईओ से बात करते हुए ओयो रूम्स के सीईओ रीतेश को कराया इंट्रोड्यूस
इंफोसिस के सीईओ सलिल पारेख से बातचीत के दौरान ट्रम्प का अलग अंदाज नजर आया। पारेख ने इंफोसिस के कामकाज और अमेरिका में निवेश की जानकारी दी। कहा कि वह इसे और बढ़ाने पर काम कर रहे हैं। 

ट्रम्प : शुक्रिया... मैं आपकी कंपनी को जानता हूं। अमेरिका में आपकी कंपनी काफी अच्छा काम कर रही है। आप अच्छी तरह से जानते हो कि पैसा कमाना आसान नहीं है। एप्पल का जिक्र करते हुए.... पहले उनके पास एक बिल्डिंग थी टेक्सास में। अब उन्होंने 350 बिलियन डॉलर कंपनी में लगाया और आज एक और बिल्डिंग खड़ी करने जा रहे हैं। कुछ देर इधर-उधर देखने के बाद फिर ओयो रूम्स के सीईओ रीतेश अग्रवाल की ओर इशारा करते हुए बोलते हैं... हमारे बीच एक और युवा बिजनेसमैन बैठा हुआ है। फिर सवाल करते हैं... अभी कितनी होटल्स हैं आपकी?

रीतेश  जवाब देते हैं :  दुनियाभर में 40 हजार। इस पर ट्रम्प ने कहा- बहुत अच्छे.. मैं आपकी कंपनी को अच्छे से जानता हूं।

कोरोना वायरस से घबराइए नहीं'
ट्रंप ने कोरोनावायरस से उद्योग जगत पर पड़ रहे प्रभाव पर भी अपनी बात रखी। कहा कि मैंने राष्ट्रपति (शी जिनपिंग) से बात की है। उनके सामने बड़ी कठिनाई है और फलिहाल ऐसा लगता है कि वे उसे लगातार काबू में कर रहे हैं...इसीलिए मुझे लगता है कि यह समस्या दूर होने जा रही है।' फिर अमेरिका को जोड़ते हुए... मेरे देश में स्थिति नियंत्रण में है। खतरनाक विषाणु से निपटने को लेकर करीब 2.5 अरब डॉलर खर्च करने की हमारी योजना है। अमेरिका अन्य देशों के साथ व्यापार करता है और चाहता है कि अन्य देश प्रसन्न, स्वस्थ और खुशहाल रहें।  

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- धार्मिक संस्थाओं में सेवा संबंधी कार्यों में आपका महत्वपूर्ण योगदान रहेगा। कहीं से मन मुताबिक पेमेंट आने से राहत महसूस होगी। सामाजिक दायरा बढ़ेगा और कई प्रकार की गतिविधियों में आज व्यस्तता बनी...

और पढ़ें