• Hindi News
  • National
  • Uttar Pradesh Agra Lucoknw Noida Coronavirus Status By Districts Wise Latest Today News Updates | COVID 19 Cases In Lucknow Varanasi Lockdown Situation

यूपी: लॉकडाउन फेज 2 का 13वां दिन:केजीएमयू में कोरोना संक्रमित डॉक्टर को दी गई पहली प्लाज्मा थैरेपी; गोरखपुर पहुंचे पंजाब से 250 मजदूर, 14 दिन में क्वारैंटाइन में रहना होगा

लखनऊ2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
यह तस्वीर गोरखपुर की है। यहां सोमवार सुबह पंजाब से 10 बसें मजदूरों को लेकर पहुंची हैं। एक बस में 25 श्रमिक बैठे थे। सभी की स्क्रीनिंग की गई है। इन्हें 14 दिन क्वारैंटाइन में रहना होगा। - Dainik Bhaskar
यह तस्वीर गोरखपुर की है। यहां सोमवार सुबह पंजाब से 10 बसें मजदूरों को लेकर पहुंची हैं। एक बस में 25 श्रमिक बैठे थे। सभी की स्क्रीनिंग की गई है। इन्हें 14 दिन क्वारैंटाइन में रहना होगा।
  • राज्य में संक्रमितों का आंकड़ा 1880 पहुंचा, अब तक 31 मरीजों की जान गई
  • कोरोना से ठीक हुई डॉक्टर का प्लाज्मा केजीएमयू में भ्रर्ती संक्रमित डॉक्टर को चढ़ाया गया, फिलहाल उनकी हालत स्थिर है

दिल्ली के बाद अब उत्तर प्रदेश में भी प्लाज्मा थैरेपी से कोरोना संक्रमितों के इलाज की शुरुआत हो गई है। रविवार को किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी में भर्ती एक डॉक्टर की जान एक डॉक्टर ने प्लाज्मा डोनेट कर बचाई। इस बीच, दूसरे राज्यों से मजदूरों का वापस लौटना जारी है। उन्हें बसों से उनके गृह जनपद लाया जा रहा है।

शुक्रवार को उरई में तैनात एक एनेस्थीसिया विशेषज्ञ डॉक्टर को केजीएमयू में भर्ती किया गया। उनकी तबियत लगातार बिगड़ती जा रही थी। इस पर उन्हें प्लाज्मा थैरेपी देने की योजना बनाई गई। संक्रमित डॉक्टर का ब्लड ग्रुप ओ था। वहीं, इससे पहले कनाडा से लौटी एक महिला डॉक्टर में कोरोना की पुष्टि बीते 11 मार्च को हुई थी। यह लखनऊ की पहली मरीज थी। संयोग से इनका भी ब्लड ग्रुप ओ था। ऐसे में केजीएमयू के डॉक्टरों ने फोन कर उन्हें बुलाया। 

कोरोना संक्रमित डॉक्टर को प्लाज्मा थैरेपी दी गई

ब्लड ट्रांसफ्यूजन मेडिसिन विभाग की एचओडी डॉक्टर तूलिका चंद्रा ने महिला डॉक्टर का कोरोना टेस्ट के साथ अन्य जांचें कराई। इसक बाद उनके खून से प्लाज्मा निकालकर कोरोना संक्रमित डॉक्टर को चढ़ाया गया। अब डॉक्टरों को उनकी हालत में सुधार का इंतजार है। बता दें कि, इससे पहले दिल्ली में प्लाज्मा थैरेपी से संक्रमितों का इलाज करने की शुरुआत हुई थी। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल कोरोनावायरस के संक्रमण से ठीक हो चुके लोगों से प्लाज्मा डोनेट करने की अपील कर चुके हैं।

उत्तरप्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1800 के पार

इधर, प्रदेश में अब मरीजों का आंकड़ा 1880 पहुंच गया है। 1784 संदिग्ध मरीजों को विभिन्न अस्पतालों में भर्ती करवाया गया। अब तक 327 मरीज स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं। राज्य में सबसे अधिक 327 मरीज आगरा में हैं। दूसरे स्थान पर 207 मरीजों के साथ लखनऊ है। वहीं, कानपुर में बीते 24 घंटे में 26 मरीज मिलने के बाद अब वहां 191 संक्रमित हो गए हैं। 10 जिले कोरोना मुक्त हो चुके हैं।

कोरोना अपडेट्स

  • मुरादाबाद: जिले में एक पेट्रोल पंप ने कोरोनावायरस के प्रति जागरूकता के लिए अनोखी पहल शुरू की है। पेट्रोल पंप के मैनेजर संजय बिश्नोई ने बताया कि, लोगों को मास्क पहनने पर एक रुपए की छूट दी जा रही है। जबकि, स्वास्थ्य कर्मियों को दो रुपए की छूट दी जा रही है।
  • लखनऊ: रविवार की देर शाम पीजीआई में कोरोना पीड़ित 72 वर्षीय बुजुर्ग की मौत हो गई। वह श्रावस्ती जिले का रहने वाला था। उन्हें किडनी की समस्या थी। बेटे ने 22 अप्रैल को लखनऊ के चंदन अस्पताल में भर्ती कराया। यहां निजी लैब में वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि होने पर 24 अप्रैल को पीजीआई के कोविड अस्पताल में शिफ्ट करा दिया गया। लेकिन रविवार शाम उनकी मौत हो गई। पिता का इलाज कराने आए 30 वर्षीय बेटे में भी कोरोना की पुष्टि हुई है।
  • झांसी: मेडिकल कॉलेज से आई रिपोर्ट में 59 साल का एक शख्स संक्रमित मिला है। इसके बाद जिला प्रशासन ने ओरछा गेट एरिया को सील करते हुए इसे हॉटस्पॉट घोषित किया है। वहीं, लॉकडाउन के कारण पैदा हुई दुश्वारियों के बीच झांसी में बने सरकारी और गैर सरकारी 80 सामुदायिक रसोईघर लाखों लोगों के लिए राहत का सबब बन गए हैं। ये कम्युनिटी किचन अब तक चार लाख अस्सी हजार से ज्यादा लोगों की भूख मिटा चुके हैं। इनकी गुणवत्ता परखने के लिए स्वयं जिला अधिकारी अलग-अलग जगह जाकर खाना खाते हैं।
  • गोरखपुर: लॉकडाउन के बीच दूसरे राज्यों में फंसे श्रमिकों को योगी सरकार अपने घर पहुंचा रही है। इसी क्रम में सोमवार सुबह रोडवेज की दस बसों से करीब 250 मजदूर गोरखपुर पहुंचे। ये सभी पंजाब में मजदूरी करते थे। सीओ कैंपियरगंज की अगुवाई में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने सभी की जांच की। मजदूरों को जांच के बाद क्वारैंटाइन किया जा रहा है।
  • वाराणसी: जिले में कोरोनावायरस का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। रविवार देर शाम आयी रिपोर्ट में 3 नए पॉजिटिव मिले। जिसमें 1 सिगरा थाने की नगर निगम पुलिस चौकी का सिपाही है। अब जिले में 8 पुलिसकर्मी संक्रमित हो चुके हैं। जिले में 37 पॉजिटिव और 28 एक्टिव केस हो गए हैं। वहीं, सेवापुरी विकास खंड का ग्राम अर्जुनपुर 8वां हॉटस्पॉट हो गया है। 8 लोग स्वस्थ हुए हैं और 1 की मौत हो चुकी है। नए मिले दो लोग कोलकाता से ट्रक में छिपकर वाराणसी आए थे। ग्रामीणों ने सूझबूझ दिखाते हुए इन्हें गांव में घुसने नहीं दिया था। जिससे संक्रमण फैल नहीं सका।

24 घंटे 82 नए केस, 66 डिस्चार्ज हुए
उत्तर प्रदेश में बीते 24 घंटे में कोरोनावायरस के 82 नए केस सामने आए। इनमें लखनऊ, सहारनपुर व कानपुर में 21-21 वाराणसी में 11, हापुड़ में 7, गाजियाबाद में 5, नोएडा में 4, अलीगढ़ में दो और जालौन, बहराइच, श्रावस्ती, संभल, मुजफ्फरनगर, बदायूं, मथुरा, गोरखपुर, झांसी व आगरा में एक-एक मरीज मिला। इस दिन 66 मरीजों को अस्पतालों से डिस्चार्ज किया गया। यह प्रदेश में एक दिन में डिस्चार्ज होने वाले मरीजों का अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। वहीं, मेरठ, आगरा व लखनऊ में 1-1 रोगी की मौत भी हुई। 

ये फोटो मुरादाबाद के एक पेट्रोल पंप की है। कोरोना की जंग में लोगों को मास्क पहनने के लिए प्रेरित करने को एक रुपए की छूट दी जा रही है। वहीं स्वास्थ्य कर्मियों को दो रुपए की छूट मिली रही है।
ये फोटो मुरादाबाद के एक पेट्रोल पंप की है। कोरोना की जंग में लोगों को मास्क पहनने के लिए प्रेरित करने को एक रुपए की छूट दी जा रही है। वहीं स्वास्थ्य कर्मियों को दो रुपए की छूट मिली रही है।

अब तक 31 की गई जान: आगरा में 10, छह मुरादाबाद में, मेरठ में 5, कानपुर में 3, लखनऊ में दो और बस्ती, वाराणसी, बुलंदशहर, फिरोजाबाद, अलीगढ़ में एक-एक रोगी की कोरोना वायरस से जान गई है। अब तक 61799 सैंपल लैब भेजे जा चुके हैं। इनमें से 58,492 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। 984 लोगों की रिपोर्ट आना अभी बाकी है।