• Hindi News
  • National
  • Uttarakhand Helicopter Crash, Flood Updates: Captain Lal, Co pilot dead as Chopper carrying Flood Relief Material

उत्तराखंड / बाढ़ राहत में लगा निजी कंपनी का हेलिकॉप्टर क्रैश हुआ, पायलट समेत 3 की मौत



उत्तरकाशी में बुधवार दोपहर को हेलिकॉप्टर क्रैश हुआ। उत्तरकाशी में बुधवार दोपहर को हेलिकॉप्टर क्रैश हुआ।
हेलिकॉप्टर मोरी से मोल्दी जा रहा था। हेलिकॉप्टर मोरी से मोल्दी जा रहा था।
वायुसेना के दो हेलिकॉप्टर देहरादून के जॉली ग्रांट एयरपोर्ट से राहत सामग्री लेकर उत्तरकाशी जिले में पहुंचा रहे। वायुसेना के दो हेलिकॉप्टर देहरादून के जॉली ग्रांट एयरपोर्ट से राहत सामग्री लेकर उत्तरकाशी जिले में पहुंचा रहे।
Uttarakhand Helicopter Crash, Flood Updates: Captain Lal, Co-pilot dead as Chopper carrying Flood Relief Material
X
उत्तरकाशी में बुधवार दोपहर को हेलिकॉप्टर क्रैश हुआ।उत्तरकाशी में बुधवार दोपहर को हेलिकॉप्टर क्रैश हुआ।
हेलिकॉप्टर मोरी से मोल्दी जा रहा था।हेलिकॉप्टर मोरी से मोल्दी जा रहा था।
वायुसेना के दो हेलिकॉप्टर देहरादून के जॉली ग्रांट एयरपोर्ट से राहत सामग्री लेकर उत्तरकाशी जिले में पहुंचा रहे।वायुसेना के दो हेलिकॉप्टर देहरादून के जॉली ग्रांट एयरपोर्ट से राहत सामग्री लेकर उत्तरकाशी जिले में पहुंचा रहे।
Uttarakhand Helicopter Crash, Flood Updates: Captain Lal, Co-pilot dead as Chopper carrying Flood Relief Material

  • उत्तरकाशी में के अराकोट, माकुड़ी और तिकोची गांव में 17 अगस्त को बादल फटे थे
  • बादल फटने से 21 लोगों की मौत हुई, इलाके में नदियां उफान पर

Dainik Bhaskar

Aug 21, 2019, 10:37 PM IST

देहरादून. उत्तराखंड के उत्तरकाशी में बुधवार दोपहर एक हेलिकॉप्टर क्रैश हो गया। हादसे में पायलट समेत तीन लोगों की मौत हो गई। निजी कंपनी का यह हेलिकॉप्टर बाढ़-बारिश प्रभावित इलाकों में राहत सामग्री पहुंचाकर लौट रहा था।

 

आपदा प्रबंधन विभाग के अफसर देवेंद्र पटवाल ने न्यूज एजेंसी को बताया कि हेलिकॉप्टर मोरी से राहत सामग्री लेकर मोल्दी गया था। वहां से लौटते समय यह हादसा हुआ। बाढ़ राहत के काम में लगे भारत-तिब्बत सीमा पुलिस के जवानों ने हेलिकॉप्टर को क्रैश होते देखा और घटनास्थल पर पहुंचे। 

 

बारिश-बाढ़ से नदियां उफान पर, अब तक 35 लोगों की मौत
उत्तरकाशी की मोरी तहसील के अराकोट, माकुड़ी और तिकोची गांव में 17 अगस्त की रात बादल फटे थे। इस हादसे में 21 लोगों की मौत हो गई। इस दौरान हुए भूस्खलन से 25 मकान दब गए थे। इलाके में बाढ़ जैसे हालात हैं और यहां कई लोग फंसे हुए हैं। राज्य में बारिश-बाढ़ से इस सीजन में 35 लोगों की मौत हो चुकी है। पिछले कुछ दिन से हो रही बारिश के बाद यहां ज्यादातर नदियां उफान पर हैं। मंगलवार को मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मोरी ब्लॉक का दौरा किया था। यहां 16 लोगों की मौत हुई है। 

 

DBApp

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना