• Hindi News
  • National
  • Vijay Mallya Cries Foul Says 13000crores Property Attached How Far Will It Go

माल्या बोला- 9000 करोड़ के बदले 13000 करोड़ की संपत्तियां अटैच, यह कब तक चलेगा

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • माल्या ने ट्वीट किया- भारतीय बैंकों ने वकीलों को मेरे खिलाफ मुकदमेबाजी का लाइसेंस दे दिया
  • भारत में लोन डिफॉल्ट का आरोपी माल्या लंदन में है, वहां की अदालत प्रत्यर्पण की मंजूरी दे चुकी

नई दिल्ली. भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या ने शुक्रवार को कहा कि उसके ग्रुप की 13,000 करोड़ की संपत्तियां अटैच की जा चुकी हैं। जबकि बैंकों का दावा सिर्फ 9,000 करोड़ रुपए का है। माल्या ने ट्वीट कर कहा कि रोज सुबह मैं जागता हूं तो पता चलता है कि ऋण वसूली प्राधिकरण ने एक और संपत्ति अटैच कर दी है। आखिर न्याय कहां है और यह सिलसिला कब तक चलेगा।

 

Every morning I wake up to yet another attachment by the DRT recovery officer. Value already crossed 13,000 crores. Banks claim dues including all interest of 9,000 crores which is subject to review. How far will this go and well beyond ? Justified ??

— Vijay Mallya (@TheVijayMallya) February 1, 2019

 

 

1) जनता का पैसा कोर्ट की फीस पर खर्च कर रहे बैंक: माल्या

माल्या का कहना है कि भारतीय बैंकों ने इंग्लैंड में अपने वकीलों को मेरे खिलाफ ओछी मुकदमेबाजी करने का लाइसेंस दे दिया है। जनता के पैसे को खुल्लमखुल्ला मुकदमेबाजी पर खर्च किया जा रहा है।

माल्या ने कहा कि भारत में यह दावा किया जाता है कि मैं 9,000 करोड़ रुपए लेकर भाग गया जिससे सरकारी बैंकों को नुकसान हुआ। लेकिन, यह बात सही नहीं है।

लंदन की वेस्टमिंस्टर अदालत दिसंबर में विजय माल्या के प्रत्यर्पण की मंजूरी दे चुकी है। वहां की सरकार इस पर आखिरी फैसला लेगी। माल्या को प्रत्यर्पण के फैसले के खिलाफ अपील का अधिकार होगा।

माल्या पर भारतीय बैंकों का 9000 करोड़ रुपए का लोन बकाया है। मार्च 2016 में वह लंदन भाग गया था। पिछले महीने मुंबई की विशेष अदालत ने उसे भगोड़ा आर्थिक अपराधी कानून के तहत पहला भगोड़ा घोषित किया था।

खबरें और भी हैं...