पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

पिकअप वैन में मवेशी लोड कर रहे थे तीन चोर, ग्रामीणों ने पीट-पीटकर की हत्या

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • वैन में एक मवेशी को चढ़ा दिया था, दूसरे मवेशी को चढ़ा रहे थे तभी ग्रामीणों की नींद खुल गई
  • गांव के लोगों ने चोरों को रंगेहाथ पकड़ा और बेरहमी से पिटाई कर दी

छपरा. बिहार के सारण जिले में गुरुवार रात गांववालों ने तीन युवकों की पीट-पीटकर मार डाला। आरोप है कि वे मवेशी चोरी करके पिकअप में ले जा रहे थे। इसी दौरान कुछ लोगों ने उन्हें पकड़ लिया। पिटाई से दो युवकों ने मौके पर दम तोड़ दिया, जबकि एक की मौत इलाज के दौरान हुई। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में मौत की वजह गंभीर चोट सामने आई है।

 

पुलिस के मुताबिक, मॉब लिंचिंग की यह घटना बनियापुर के पिठोरी नंदलाल गांव में हुई। मृतक राजू नट, विदेशी नट और नौशाद कुरैशी पड़ोस के गांवों के रहने वाले थे। शुक्रवार सुबह उनके परिजन और रिश्तेदारों ने प्रदर्शन किया। उनका कहना था कि तीनों युवक चोर नहीं थे, उन्हें साजिश के तहत मारा गया है। प्रदर्शन के दौरान लोगों की पुलिस से हाथापाई भी हुई। भीड़ को काबू पाने के लिए पुलिस को हल्का बल प्रयोग करना पड़ा।

 

हत्या के आरोपियों की तलाश में छापेमारी

एसपी हरि किशोर राय ने कहा कि शुरुआती जांच के मुताबिक, तीनों युवक मवेशी चोरी करने के लिए गांव में आए थे। एक मवेशी (भैंस) को पिकअप से बरामद किया गया। वहीं, दूसरा मवेशी पास में ही बंधा था। डीएसपी के नेतृत्व में पुलिस टीम आरोपियों की पहचान और गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है।

 

बैंक लूटरों को भीड़ ने पिटाई की, एक की मौत 
वैशाली के हाजीपुर में बैंक के ग्राहक सेवा केंद्र में लूटपाट करने आए तीन में से दो लुटेरों को लोगों ने पकड़ लिया और उनकी जमकर पिटाई कर दी। इलाज के दौरान एक की मौत हो गई, जबकि दूसरे की हालत गंभीर है। जानकारी के मुताबिक तीन बदमाश हथियारों से लैस होकर लूटपाट करने आए थे। लेकिन, एक बदमाश बाइक से भाग गया, जबकि दो बदमाश पैदल ही भागने लगे थे। इस दौरान भीड़ ने उन्हें पकड़ लिया और बुरी तरह से पिटाई कर दी।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय की गति आपके पक्ष में रहेगी। सामाजिक दायरा बढ़ेगा। पिछले कुछ समय से चल रही किसी समस्या का समाधान मिलने से राहत मिलेगी। कोई बड़ा निवेश करने के लिए समय उत्तम है। नेगेटिव- परंतु दोपहर बाद परिस...

और पढ़ें