• Hindi News
  • National
  • Virat Kohli Restaurant Controversy; LGBTQIA Community Accused One8 Commune Of Not Giving Entry

कोहली के रेस्टोरेंट में समलैंगिकों की नो एंट्री!:लोग भड़के तो रेस्तरां ने सफाई में कहा- सरकारी नियमों के तहत लड़कों के अकेले आने पर रोक

नई दिल्ली6 महीने पहले

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली के वन8 कम्यून रेस्टोरेंट पर LGBTQ+ समुदाय के लोगों को एंट्री नहीं देने का आरोप लगा है। 'यस, वी एक्जिस्ट' नाम के इंस्टाग्राम अकाउंट से एक पोस्ट में यह दावा किया गया है। इसमें कहा गया, 'LGBTQ+ मेहमानों को विराट कोहली के रेस्टोरेंट में एंट्री नहीं है। कोहली पुणे, दिल्ली और कोलकाता में वन8 कम्यून नाम से रेस्टोरेंट चलाते हैं। उनकी जोमेटो लिस्टिंग में बताया गया है कि स्टैग के लिए रेस्टोरेंट में एंट्री नहीं है'।'

पोस्ट में कहा गया है कि कोहली के रेस्टोरेंट में समलैंगिक पुरुषों की एंट्री पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई है, जबकि समलैंगिक महिलाओं को ड्रेस के आधार पर एंट्री मिलती है। भारत में ऐसे फैंसी रेस्टोरेंट, बार और क्लबों में LGBTQ के साथ भेदभाव आम बात है। विराट कोहली भी तो यही कर रहे हैं।

इस पोस्ट के बाद से लोग भड़के हुए हैं। सोशल मीडिया पर विरोट कोहली के खिलाफ कड़ी प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। वहीं, कुछ लोग इस पोस्ट को ही फेक बता रहे हैं।

आरोपों पर वन8 कम्यून की सफाई
वन8 कम्यून ने इन आरोपों पर सफाई दी है। इंस्टाग्राम पर पोस्ट में कहा गया है, ‘हम बिना किसी भेदभाव के सभी लोगों का स्वागत और सम्मान करते हैं। जैसा कि हमारा नाम है... हम सेवा से जुड़े कार्यों में हमेशा आगे रहे हैं। इंडस्ट्री के चलन और सरकारी नियमों को देखते हुए हमारे यहां स्टैग एंट्री पर रोक है। इसका मतलब यह नहीं है कि हम किसी भी समुदाय के खिलाफ हैं या फिर किसी का अपमान कर रहे हैं।'

'ग्राहक ही हमारी प्राथमिकता'
दरअसल, ‘स्टैग के लिए रेस्टोरेंट में एंट्री नहीं है'।’ यानी, यहां कोई लड़का अकेले नहीं जा सकता, उसके साथ कोई फीमेल पार्टनर होना जरूरी है। पोस्ट में आगे कहा गया है कि इसके बावजूद अगर अनजाने में कोई घटना हुई है या फिर किसी तरह का मिस-कम्युनिकेशन हुआ है, तब हम चाहेंगे कि वह व्यक्ति हमसे मिले, ताकि इस विवाद को ठीक ढंग से निपटाया जा सके। हमारी प्राथमिकता हमारे ग्राहक ही हैं। ग्राहकों के साथ मजबूत और लंबे संबंध बनाना हमारे सिस्टम का हिस्सा है।