पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Mamata Banerjee TMC Party Election Manifesto | Promises In All India Trinamool Congress Manifesto For West Bengal Election 2021

ममता का मेनिफेस्टो:दिल्ली की तर्ज पर घर-घर राशन योजना का ऐलान, गरीबों को 6 हजार रुपए सालाना दिए जाएंगे

3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और TMC चीफ ममता बनर्जी ने बुधवार को विधानसभा चुनाव के लिए अपनी पार्टी का घोषणा पत्र जारी किया। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने लोगों को रोजगार दिया है। लोगों की आमदनी बढ़ी है। हम सभी को साथ लेकर चलना चाहते हैं। यह घोषणा पत्र मां, माटी और मानुष के लिए है। उन्होंने गरीबों को 6 हजार रुपए सालाना देने की घोषणा की।

ममता ने कहा कि हमने छोटे उद्योगों में सबसे ज्यादा नौकरियां पैदा कीं, जबकि देश भर में बेरोजगारी की दर बढ़ गई है। हमने किसानों के लिए काम किया। हमारी कोशिश है कि लोगों को गरीबी से बाहर निकाला जाए। उन्होंने दिल्ली सरकार की तर्ज पर घर-घर राशन योजना शुरू करने का ऐलान किया। साथ ही कहा कि विधवा महिलाओं को 1 हजार रुपए दिए जाएंगे।

दीदी के 10 बड़े वादे

  • हर साल रोजगार के 5 लाख मौके तैयार करना, पश्चिम बंगाल को देश की 5वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनाना
  • 1.6 करोड़ परिवारों की महिला मुखिया (सामान्य वर्ग) को 500 रुपए हर महीने, SC/ST परिवार को 1 हजार महीना
  • स्टूडेंट्स को 4% ब्याज पर 10 लाख रुपए लिमिट वाले क्रेडिट कार्ड
  • 1.5 करोड़ परिवारों को घर तक राशन पहुंचाने की योजना, 50 शहरों में 2500 कैंटीन में 5 रुपए में खाना
  • कृषक बंधु योजना के जरिए 68 लाख छोटे किसानों को एक एकड़ जमीन पर 10 हजार रुपए की मदद
  • अगले 5 साल में 5 लाख करोड़ का नया निवेश, 10 लाख छोटी और 2 हजार बड़ी फैक्ट्रियां लगाई जाएंगी
  • सभी 23 जिला मुख्यालयों में मेडिकल कॉलेज और सुपर स्पेशिलिटी हॉस्पिटल
  • हर ब्लाक में एक मॉडल आवासीय स्कूल, शिक्षा पर जीडीपी का 4% खर्च करने की योजना
  • गांवों में बांग्ला आवास योजना के तहत 25 लाख घर तैयार किए जाएंगे
  • सभी घरों में सातों दिन 24 घंटे बिजली, 47 लाख परिवारों तक पाइपलाइन से पीने का पानी पहुंचाना

दो बार टाली गई घोषणा पत्र की तारीख

सबसे पहले घोषणा पत्र 11 मार्च को जारी किया जाना था, लेकिन ममता के घायल होने के बाद इसे टाल दिया गया। दूसरी बार 14 मार्च को घोषणा का कार्यक्रम तय किया गया, लेकिन फिर तारीख को आगे बढ़ा दिया गया।

ममता को 10 मार्च को नंदीग्राम में चोट लगी थी
ममता 10 मार्च की शाम नंदीग्राम में घायल हुई थीं। उन्हें पैर में चोट लगी थी। इस घटना के बाद उन्हें कोलकाता के SSKM हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। घटना के दिन ही उन्होंने नंदीग्राम से नामांकन दाखिल किया था। घटना के बाद ममता ने आरोप लगाया था कि किसी ने उन्हें धक्का दिया, इसी वजह से पैर में चोट लगी।

चुनाव आयोग ने 14 मार्च को ममता पर हमले की बात को सिरे से नकार दिया था। आयोग ने ममता की सुरक्षा के लिए जिम्मेदार उनके सिक्योरिटी इंचार्ज विवेक सहाय को सस्पेंड कर दिया था। आयोग ने पूर्व मेदिनीपुर (इसी जिले में नंदीग्राम आता है) के SP प्रवीण प्रकाश और DM विभु गोयल हटा दिया था। आयोग ने पुलिस को मामले की जांच के आदेश दिए हैं। पुलिस से इसकी रिपोर्ट 31 मार्च तक मांगी है।

बंगाल में 8 फेज में चुनाव
पश्चिम बंगाल की 294 विधानसभा सीटों के लिए इस बार 8 फेज में वोटिंग होगी। 294 सीटों वाली विधानसभा के लिए वोटिंग 27 मार्च (30 सीट), 1 अप्रैल (30 सीट), 6 अप्रैल (31 सीट), 10 अप्रैल (44 सीट), 17 अप्रैल (45 सीट), 22 अप्रैल (43 सीट), 26 अप्रैल (36 सीट), 29 अप्रैल (35 सीट) को होनी है। काउंटिंग 2 मई को की जाएगी।