• Hindi News
  • National
  • West Bengal CM Mamata Banerjee on bjp for Durga Puja committees income tax notice

बंगाल / दुर्गा पूजा समितियों को आयकर का नोटिस, ममता बोलीं- कुछ दलों का चुनावी खर्च तो इस दायरे में नहीं आता



मुख्यमंत्री ममता बनर्जी। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी।
X
मुख्यमंत्री ममता बनर्जी।मुख्यमंत्री ममता बनर्जी।

  • मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा- चुनाव के दौरान भाजपा हिंदू धर्म की बात करने लगती है
  • ‘यह उनका प्रताड़ित करने का दूसरा तरीका, उन्होंने दुर्गा पूजा का अपमान किया’

Dainik Bhaskar

Jul 23, 2019, 10:27 AM IST

कोलकाता. पश्चिम बंगाल में दुर्गा पूजा समितियों को सोमवार को इनकम टैक्स का नोटिस मिलने पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भाजपा सरकार की आलोचना की। ममता ने कहा कि चुनाव आने के साथ ही भाजपा हिंदू-मुस्लिम की राजनीति शुरू कर देती है। उन्होंने कहा कि दुर्गा पूजा समिति को मिलने वाला चंदा इनकम टैक्स के दायरे में नहीं आता। यह लोगों के द्वारा दिया हुआ दान होता है। मैं सिर्फ इतना कहूंगी कि कुछ पार्टियां चुनाव के लिए फंड इस्तेमाल करती हैं, यह तो इनकम टैक्स के दायरे में नहीं आता।

 

ममता ने कहा, ‘‘पूजा समितियों को इनकम टैक्स के दायरे में लाने का फैसला सही नहीं है, मैं इसकी निंदा करती हूं। मुझे यह बताते हुए दुख हो रहा है कि प्रताड़ित करने का यह उनका दूसरा तरीका है। चुनाव के दौरान वे (भाजपा) हिंदू धर्म की बात करने के साथ दुर्गा पूजा समितियों से टैक्स वसूलने लगते हैं। दुर्गा पूजा हिंदूओं का बड़ा त्योहार है।’’

 

समितियों से आय-व्यय का ब्योरा मांगा

पिछले हफ्ते भी इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने दुर्गा पूजा समितियों को रिटर्न भरने के लिए नोटिस जारी किया था। डिपार्टमेंट ने समितियों से आय-व्यय का ब्योरा मांगा है। भाजपा ने दावा किया है कि वे (ममता) डरी हुई हैं, क्योंकि यह पैसा समितियों के माध्यम से चिटफंड कंपनियों से लिया जा रहा है। इन समितियों को तृणमूल के नेता ही चला रहे हैं। इन समितियों से खर्च का ब्योरा मांगना गलत नहीं है।

 

ममता ने कहा- यह सामाजिक त्योहार है न कि व्यापारिक लेन-देन

ममता ने कहा, ‘‘यह एक त्योहार है न कि व्यापारिक लेन-देन, जिस पर सरकार कोई सवाल उठाए। दुर्गा पूजा समितियों को आम लोगों से चंदा मिलता है। त्योहार के समय यह समितियां हजारों लोगों को रोजगार भी देती हैं। इनकम टैक्स डिपार्टमेंट का समितियों के साथ ऐसा व्यवहार निंदनीय है। यह दुर्गा पूजा की बेइज्जती है।’’

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना