UPA खत्म वाले बयान पर घिरीं ममता:सिब्बल बोले- कांग्रेस बिना UPA जैसे आत्मा बिना शरीर, महाराष्ट्र कांग्रेस ने भी दी हिदायत

नई दिल्ली2 महीने पहले

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के UPA खत्म वाले बयान पर सियासत गर्मा गई है। ममता ने बुधवार को महाराष्ट्र में राकांपा प्रमुख शरद पवार से मुलाकात के बाद कहा था कि UPA खत्म हो गया है। राहुल पर भी तंज कसते हुए कहा था कि कोई विदेश में रहता है, कुछ करता नहीं तो कैसे चलेगा।

अब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने UPA में कांग्रेस की जरूरत को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि कांग्रेस के बिना UPA ऐसा है, जैसे बिना आत्मा का शरीर। ममता बनर्जी के बयान पर उन्होंने कहा कि यही वक्त है, जब विपक्ष को अपनी एकता दिखानी चाहिए।

महाराष्ट्र कांग्रेस ने कहा- राहुल की आलोचना कर भाजपा से नहीं लड़ सकते
महाराष्ट्र के वरिष्ठ कांग्रेस नेता बाला साहब थोराट ने भी ममता के बयान पर ऐतराज जाहिर किया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने भाजपा के अन्याय के खिलाफ जो लड़ाई शुरू की है, उसे पूरा देश जानता है। राहुल गांधी की आलोचना कर कोई भी पार्टी भाजपा के खिलाफ लड़ाई नहीं लड़ सकती है। अगर कोई पार्टी अपने फायदे और कोई अपने व्यक्तिगत लाभ को देख रहा है तो ऐसा बिल्कुल नहीं कर सकता है। देश में लोकतंत्र का एकमात्र विकल्प कांग्रेस है।

अधीर रंजन ने कहा- क्या ममता नहीं जानती UPA क्या है?
कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने ममता के बयान पर तीखा जवाब दिया। उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी को क्या नहीं पता है कि UPA क्या है? ममता को लग रहा है कि पूरा देश उनका नाम जप रहा है। भारत का मतलब बंगाल नहीं है। बंगाल में ममता ने जो सांप्रदायिक खेल खेला था, अब वह उजागर हो रहा है।

पवार से एक घंटे ममता की मुलाकात, फिर आया बयान
शरद पवार और ममता के बीच बुधवार को मुंबई के सिल्वर ओक अपार्टमेन्ट में तकरीबन एक घंटे तक बातचीत हुई थी। इसके बाद ममता मीडिया के सामने आईं और युवराज राहुल गांधी पर दो टूक अंदाज में तंज कसा। उन्होंने कहा था कि UPA कोई गठबंधन नहीं है। यह खत्म हो चुका है। उन्होंने राहुल का नाम लिए बिना कहा कि अगर कोई कुछ करता नहीं है, विदेश में रहता है तो कैसे चलेगा। इसीलिए हमें कई दूसरे राज्यों में जाना पड़ा है।