• Hindi News
  • National
  • West Bengal Governor attack on Trinamool on charges of adjournment of the house

बंगाल / सदन के स्थगित होने के आरोपों पर राज्यपाल का तृणमूल पर हमला- मैं न ही रबड़ स्टॉम्प, न ही पोस्ट ऑफिस

पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़। पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़।
X
पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़।पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़।

  • पश्चिम बंगाल विधानसभा 5 दिसंबर तक स्थगित, शीतकालीन सत्र 6 दिसंबर को सुबह 11 बजे फिर से शुरू होगा
  • तृणमूल ने विधानसभा को अचानक स्थगित करने के लिए राज्यपाल को दोषी ठहराया है

Dainik Bhaskar

Dec 04, 2019, 02:14 PM IST

कोलकाता. पश्चिम बंगाल विधानसभा के अचानक स्थगित किए जाने का आरोप तृणमूल ने राज्यपाल जगदीप धनखड़ पर लगाया है। इस पर राज्यपाल ने बुधवार को कहा कि वह न तो कोई रबड़ स्टॉम्प है न ही पोस्ट ऑफिस। सत्तारूढ़ पार्टी और राज्यपाल के बीच गतिरोध उस समय और नीचले स्तर पर पहुंच गया, जब मंगलवार को विधानसभा स्पीकर ने सदन दो दिनों के लिए स्थगित कर दिया।

सदन में कुछ जरूरी विधेयक भी पेश किए जाने थे, जिन्हें राज्यपाल की मंजूरी नहीं मिली थी। तृणमूल के आरोपों का राजभवन ने खंडन किया और उनके बयान को तथ्यात्मक रूप से अस्थिर बताया। धनखड़ ने ट्वीट किया- राज्यपाल के रूप में मैं संविधान का पालन करता हूं और आंख बंद कर फैसले नहीं ले सकता। मैं संविधान के आलोक में विधेयकों की जांच करने और बिना किसी देरी के काम करने के लिए बाध्य हूं। इस मामले में सरकार की ओर से देरी हुई है।

गुरुवार को विधानसभा का दौरा करेंगे धनखड़

राज्यपाल ने न्यूज एजेंसी से कहा कि आज और कल (5 दिसंबर) राज्य विधानसभा सत्र नहीं है। मैंने आज सुबह विधानसभा अध्यक्ष को लिखा है कि कल विधानसभा का दौरा करूंगा। इसका उद्देश्य भवन, लाइब्रेरी और अन्य सुविधाओं का निरीक्षण करना है।

‘विधेयकों को राज्यपाल की अनुमति नहीं मिली’

सदन 5 दिसंबर तक स्थगित रहेगा और शीतकालीन सत्र 6 दिसंबर को सुबह 11 बजे फिर से शुरू होगा। उधर, विधानसभा स्पीकर ने विधानसभा में कहा था कि जिन विधेयकों को सदन में पेश किया जाना था, उन्हें अब तक राज्यपाल की अनुमति नहीं मिली है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना