आतंकियों की पत्नियों की मोदी से अपील- हम पाकिस्तानी हैं, हमें अपने वतन वापस भेजो

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • महिलाओं को परिवार समेत राज्य सरकार की पुनर्वास नीति के तहत रखा गया
  • उन्होंने भारतीय और पाकिस्तान सरकार से यात्रा दस्तावेज उपलब्ध कराने की अपील की

श्रीनगर. आत्मसमर्पण करने वाले कश्मीरी आतंकियों की पत्नियों ने अपने वतन पाकिस्तान लौटने के लिए शनिवार को प्रदर्शन किया। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील की है कि उन्हें पाकिस्तान लौटने की अनुमति और सर्टिफिकेट दिए जाएं। इन महिलाओं और उनके परिवार को जम्मू-कश्मीर सरकार की नीति के तहत पुनर्वास केंद्रों में रखा गया है।

1) महिलाओं ने कहा- अपराधियों की तरह बर्ताव हो रहा

कश्मीरी आतंकियों से शादी करने वाली पाकिस्तान की महिलाओं ने बैनर-पोस्टरों के साथ राज्य सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा, ''हम पाकिस्तानी हैं, हमें वापस भेज दो।''

महिलाओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और इमरान खान से अपील की है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने 2010 में पुनर्वास नीति के तहत उन्हें वापस पाकिस्तान भेजने का वादा किया था, लेकिन अब तक कुछ नहीं हुआ। न ही वादे के मुताबिक किसी प्रकार के अधिकार दिए गए।

महिलाओं ने कहा, ''हमारे साथ यहां अपराधियों की तरह बर्ताव किया जा रहा है। हम यहां अपनी मर्जी से घुसकर नहीं आए हैं, बल्कि राज्य सरकार हमें पुनर्वास नीति के तहत वादा करके लाई थी।''

एक महिला ने कहा, ''अब हम भारतीय और पाकिस्तानी सरकार से ही उम्मीद कर सकते हैं कि वे हमें यात्रा संबंधी दस्तावेज उपलब्ध कराएं, ताकि हम वापस अपने वतन लौट सकें।''

राज्य सरकार आतंकियों के समर्पण के बाद उन्हें पत्नी और परिवार के साथ पुनर्वास नीति के तहत श्रीनगर लाई थी। ताकि इन्हें सामान्य जीवन जीने का मौका मिल सके और वे हिंसा को पूरी तरह से त्याग दें।