योगी के हेलीकॉप्टर को पुरुलिया में उतरने की इजाजत नहीं, बोकारो से सड़क मार्ग से जाएंगे, आज सभा

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोलकाता में भी योगी आदित्यनाथ के हेलीकॉप्टर को उतरने नहीं दिया गया था
  • इस बार उनका हेलीकॉप्टर झारखंड-बंगाल के बॉर्डर चास के नगेन मोड़ में उतरेगा

रांची. उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को पश्चिम बंगाल के पुरुलिया में जनसभा को संबोधित किया। योगी के हेलिकॉप्टर को तृणमूल सरकार ने उतरने की इजाजत नहीं दी थी। इसके बाद योगी सड़क के रास्ते पुरुलिया पहुंचे। योगी ने कहा कि किसी मुख्यमंत्री का धरने पर बैठना लोकतंत्र में सबसे शर्मनाक घटना है।

 

 

योगी ने बालुरघाट में फोन से सभा को संबोधित किया था

मुख्यमंत्री योगी हेलिकॉप्टर से झारखंड-बंगाल के बॉर्डर नगेन मोड़ तक गए। वहां से सड़क मार्ग से बांगड़ा पहुंचे। इससे पहले 3 फरवरी को बालुरघाट में योगी की रैली थी, इसके लिए भी हेलिकॉप्टर लैंडिंग की अनुमति नहीं दी गई थी। इसके बाद योगी ने से फोन पर कार्यकर्ताओं को संबोधित किया था। भाजपा नेताओं ने चुनाव आयोग से ममता सरकार की शिकायत की। इसके बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा था कि योगी से अपना प्रदेश तो संभल नहीं रहा, वे खुद चुनाव हार जाएंगे इसीलिए बंगाल में घूम रहे हैं। 

 

योगी के मंत्री का ट्वीट- ममता जी...हाउ इज द खौफ?

योगी सरकार के मंत्री मोहसिन रजा ने ट्वीट किया- रोहिंग्या आ सकते हैं, आतंकवादी आ सकते हैं, विदेशी घुसपैठिए आ सकते हैं। मगर, एक मुख्यमंत्री, एक राष्ट्रीय अध्यक्ष और सीबीआई बंगाल नहीं जा सकती। सर्वोच्च न्यायालय का आदेश बंगाल में लागू नहीं हो सकता। राष्ट्रवादी कार्यकर्ताओं की बंगाल में हत्याएं करा दी जाती हैं। ममता जी...हाउ इज द खौफ?