आईजीआई / यूएस जाने के लिए युवक 81 साल का बुजुर्ग बनकर पहुंचा; त्वचा से उम्र पता चलने पर गिरफ्तार

आरोपी जयेश पटेल की उम्र 32 साल है। उसने एक बुजुर्ग का रूप धारण किया। आरोपी जयेश पटेल की उम्र 32 साल है। उसने एक बुजुर्ग का रूप धारण किया।
X
आरोपी जयेश पटेल की उम्र 32 साल है। उसने एक बुजुर्ग का रूप धारण किया।आरोपी जयेश पटेल की उम्र 32 साल है। उसने एक बुजुर्ग का रूप धारण किया।

  • इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट का मामला, अहमदाबाद का रहने वाला है युवक
  • दलाल से एक बुजुर्ग का वीसा वाला पासपोर्ट खरीदा, व्हीलचेयर पर एयरपोर्ट पहुंचा

दैनिक भास्कर

Sep 10, 2019, 08:51 AM IST

नई दिल्ली. इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर 32 साल का एक युवक पकड़ा गया, जो 81 साल के बुजुर्ग के पासपोर्ट पर अमेरिका जाना चाहता था। उसने बुजुर्ग जैसा हुलिया बनाया। दाढ़ी और बालों को डाई से सफेद किया। चश्मा भी पहना और बुजुर्ग जैसे कपड़े भी। किसी को शक न हो, इसलिए व्हीलचेयर पर एयरपोर्ट पहुंचा। लेकिन, अपने चेहरे पर नकली झुर्रियां नहीं बना पाया। युवा त्वचा की वजह से पकड़ा गया।

 

  • आरोपी युवक रविवार रात करीब 8 बजे एयरपोर्ट के टर्मिनल-3 पर व्हीलचेयर के साथ पहुंचा था। वह रात 10:45 बजे न्यूयाॅर्क जाने वाली फ्लाइट में सवार होना चाहता था। सिक्युरिटी इंस्पेक्टर ने उसे मेटल डिटेक्टर डोर क्रॉस करने को कहा, लेकिन बुजुर्ग बोला कि चलना तो दूर, वह सीधा खड़ा तक नहीं हो सकता।
  • बातचीत के दौरान वह आवाज भारी करने की कोशिश करते हुए नजरें चुराने लगा। उसकी त्वचा से सिक्युरिटी स्टाफ को उसकी उम्र पर शक हुआ। क्योंकि, उसके चेहरे पर झुरियां नहीं थीं। फिर उसका पासपोर्ट चेक किया, जो बिल्कुल सही था। इसमें उसका नाम अमरीक सिंह और जन्मतिथि 1 फरवरी 1938 दर्ज थी।
  • पूछताछ के दौरान जब सिक्युरिटी स्टाफ को समझ में आ गया कि वह बुजुर्ग नहीं, बल्कि युवा है तो उसे सच बताना पड़ा। उसने बताया कि उसका असली नाम जयेश पटेल है। उम्र 32 साल और पता अहमदाबाद। उसके बाद उसे इमीग्रेशन के अफसरों के हवाले कर दिया गया।

 

दलाल से खरीदा था वीसा लगा पासपोर्ट, हूबहू हुलिया बनाया
जांच में सामने आया है कि जयेश पटेल किसी भी तरीके से बस अमेरिका जाना चाहता था। इसके लिए वह एक दलाल के संपर्क में आया। दलाल ने उसे एक 81 साल के व्यक्ति का असली पासपोर्ट दिया, जिस पर वीसा लगा हुआ था। पासपोर्ट में फोटो के आधार पर जयेश ने हुलिया बनाया और पगड़ी पहनकर एयरपोर्ट पहुंच गया।

 

मां को एयरपोर्ट के अंदर छोड़ने के लिए बेटे ने टिकट को एडिट किया
दूसरे मामले में दिल्ली एयरपोर्ट पर उबैद लाल नाम का एक व्यक्ति एडिट की गई टिकट के साथ पकड़ा गया। चेक-इन एरिया में अफसरों ने उसकी टिकट चेक की तो पता चला कि वह पुरानी है। उबैद लाल ने प्रिंटर के जरिए तारीख बदल दी थी। उसने बताया कि वह बस मां को प्लेन तक छोड़ना चाहता था। इसलिए टिकट से छेड़छाड़ की थी।

 

DBApp

 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना