पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ये है 'शेर खान' का मकबरा, हुमायूं को हराकर जीती थी दिल्ली की सल्तनत

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
(सासाराम स्थित शेर शाह सूरी का मकबरा)
पटना/ सासाराम. 19 नवंबर से लेकर 25 नवंबर तक वर्ल्ड हेरिटेज वीक मनाया जा रहा है। इस मौके पर dainikbhaskar.com उन धरोहरों के बारें में बता रहा है जिनकी महत्वता ने उनका नाम इतिहास में दर्ज करा दिया। भारत में ऐसे कई किले, उद्यान और जगह हैं जिन्हें विश्व विरासत में जगह मिली है। वहीं कुछ ऐसे भी हैं जो इस सूची में शामिल होने की क्षमता रखते हैं। आज की कड़ी में हम आपको बिहार के सासाराम में स्थित 'शेर शाह सूरी का मकबरा' के बारे में बता रहे हैं।
अफगानी स्थापत्य कला का बेजोड़ नमूना शेरशाह का मकबरा अपने एतिहासिक मत्व के साथ ख़ूबसूरती के लिए प्रसिद्ध है। अपने शासनकाल (वर्ष 1540-1545 ईस्वी) में शेरशाह सूरी को समूचे भारतीय मध्ययुग के सबसे महत्वपूर्ण शासकों में गिना जाता है। महाराजा शेरशाह सूरी की याद में 15वीं सदी में सासाराम में एक तालाब के बीच मकबरा बनवाया गया था। शेर शाह सूरी को 'शेर खान' के नाम से भी जाना जाता है। 1540 में मुगल सल्तनत के बादशाह हुमायूं को पराजित कर शेर शाह दिल्ली की गद्दी पर बैठे थे।
कोलकाता से पेशावर तक ग्रैंट ट्रंक (जीटी) रोड बनवाने और भारतीय रुपये के प्रथम संस्करण 'रुपया' का चलन प्रारंभ करने, एक व्यवस्थित डाक व्यवस्था प्रारंभ करने के साथ-साथ कई ऐतिहासिक कार्य शुरू करने के लिए शेर शाह सूरी प्रख्यात है।
विश्व धरोहर की सूची में है शामिल
अफगान वास्तुकला का एक बेहतरीन नमूना होने के कारण संयुक्त राष्ट्र ने 1998 में इस मकबरे को विश्व धरोहरों की सूची में स्थान दिया। यह मकबरा 1130 फीट लंबे और 865 फीट चौड़े तालाब के मध्य में स्थित है। तालाब के मध्य में सैंड स्टोन के चबूतरे पर अष्टकोणीय मकबरा सैंडस्टोन तथा ईंट से बना है। इसका गोलाकार स्तूप 250 फीट चौड़ा तथा 150 फीट ऊंचा है। इसकी गुंबद की ऊंचाई ताजमहल से भी दस फीट अधिक है।
मकबरे में की गई है बारीक नक्काशी
मकबरे में ऊंचाई पर बनी बड़ी-बड़ी खिड़कियां मकबरे को हवादार और रोशनीयुक्त बनाती हैं। खिड़कियों पर की गई बारीक नक्काशी पर्यटकों को उस समय की कारीगरी की दाद देने को मजबूर कर देती हैं। कहा जाता है कि इस मकबरे में शेरशाह की कब्र के अतिरिक्त 24 और कब्रें हैं, जो उनके परिवार के सदस्यों, मित्रों और अधिकारियों के हैं। सभी पर कुरान की आयतें खुदी हुई हैं।
आगे की स्लाइड्स में देखें शेर शाह सूरी का मकबरा की PHOTOS...