पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Dhonis Hummer Registered As Scorpio In Jharkhand

DB EXCLUSIVE: धोनी की हमर को ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट ने मान लिया स्कॉर्पियो?

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
धनबाद/रांची. धोनी की हमर को स्कॉर्पियो बताने वाला झारखंड स्टेट ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट उन पर फाइन लगाने और नोटिस देने की तैयारी कर रहा है। डिपार्टमेंट के मुताबिक, धोनी ने हमर का 2009 और 2010 में टैक्स भरा था। इसके बाद से टैक्स पेंडिंग है। बता दें कि धोनी की एसयूवी का गलत रजिस्ट्रेशन होने की खबर सबसे पहले 'भास्कर' ने ही दी थी। धोनी को भेजे जाएंगे दो नोटिस...
- रांची के डीटीओ नागेंद्र पासवान ने बताया ''धोनी की हमर पर जितना भी टैक्स होगा, उसपर पेनाल्टी के साथ नोटिस भेजा जाएगा। कानून सबके लिए एक है और नियम भी।''
- उन्होंने कहा, ''जिस वक्त धोनी ने हमर का रजिस्ट्रेशन कराया था उस वक्त सालाना टैक्स जमा करने का प्रोविजन था। 2011 से एकमुश्त 15 साल का टैक्स देना पड़ता है। इसलिए टैक्स पेंडिंग है।''
- उन्होंने यह भी बताया कि धोनी ने अभी तक अपनी हमर का इनवॉयस पेपर भी जमा नहीं किया है। जबतक पेपर जमा नहीं होगा, तब तक रजिस्ट्रेशन फीस नहीं ले सकते हैं। इस बारे में भी उन्हें नोटिस भेजा जाएगा।
हमर को स्कॉर्पियो बताने पर बोले- ये टाइपिंग की गलती

- धोनी के हमर गाड़ी का रजिस्ट्रेशन स्कॉर्पियों के नाम से क्यों हुआ? इस पर पासवान ने कहा कि ऑफिस रिकॉर्ड के मुताबिक उनके हमर गाड़ी का ही रजिस्ट्रेशन है।
- 2011 में ऑनलाइन प्रोसेस में गाड़ी के नाम के स्थान पर कोई ऑप्शन नहीं था। इसलिए वहां पर हमर के बदले स्कोर्पियो लिखा गया।
- उन्होंने कहा कि यह टाइपिंग की गलती है। क्योंकि एनआईसी के सॉफ्टवेयर में हमर गाड़ी का कोई नियम नहीं था। उन्होंने कहा कि यह विदेशी गाड़ी है। इसलिए ऐसा हुआ है।
'भास्कर' ने किया था खुलासा
- गुरुवार को ही 'भास्कर' ने बताया था कि धोनी की हमर को स्कॉर्पियो बताकर रजिस्ट्रेशन किया गया है।
- इस वजह से जिस हमर के रजिस्ट्रेशन पर डिपार्टमेंट को 4 लाख रुपए मिलते, स्कॉर्पियो का नाम लिखने से सिर्फ 53 हजार रुपए ही मिले।
- ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट की गलती का अनजाने में ही सही, फायदा धोनी को हो गया।
धोनी ने कब खरीदी थी हमर?

- धोनी ने 13 मई, 2009 को अमेरिकी कंपनी जनरल मोटर्स की हेवी एसयूवी हमर खरीदी थी।
- उन्होंने रजिस्ट्रेशन के लिए रांची डिस्ट्रिक्ट ट्रांसपोर्ट ऑफिसर को एप्लिकेशन दी।
- हमर की कीमत थी करीब एक करोड़ रुपए। इस पर रजिस्ट्रेशन चार्ज लगता है चार फीसदी। यानी करीब चार लाख रुपए।
- लेकिन डिपार्टमेंट के सॉफ्टवेयर में हमर का नाम नहीं था। इसलिए वहां स्कॉर्पियो लिख दिया गया। इस हिसाब से रजिस्ट्रेशन हुआ करीब 53 हजार रुपए।
होना ये चाहिए था
- रांची रीजनल ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी को सेंट्रल ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट से विदेशी गाड़ियों की लिस्ट मांगकर वेबसाइट और रजिस्ट्रेशन सॉफ्टवेयर को अपडेट करना चाहिए था।
- लेकिन ऐसा किया नहीं गया। आनन-फानन में 30 अक्टूबर, 2009 को रजिस्ट्रेशन कर दिया गया।
- हमर का रजिस्ट्रेशन नंबर जेएच 01 एबी-7781 मिला। लेकिन मेकर और मॉडल के कॉलम में गाड़ी को स्कॉर्पियो बताया गया।
- मैन्युफैक्चर कॉलम में अमेरिकी कंपनी जनरल मोटर्स के बजाय महिंद्रा एंड महिंद्रा लिमिटेड लिख दिया।
रजिस्ट्रेशन पेपर में व्हीकल का कलर सही, बाकी कॉलम खाली छोड़े
- हमर के रजिस्ट्रेशन में व्हीकल ओनर का नाम-पता और कलर छोड़कर बाकी इन्फॉर्मेशन के कॉलम खाली छोड़े गए हैं।
- ओनर का नाम महेंद्र सिंह धोनी लिखा है। पिता का नाम पान सिंह लिखा है।
- पता ई-25 श्यामली कॉलोनी, डोरंडा, रांची भी सही है। लेकिन गाड़ी के चेसिस नंबर का जिक्र नहीं है।
- डीलर कॉलम में ‘other’ लिखा है। टायरों की इन्फॉर्मेशन वाले सभी कॉलम को भी खाली रखा गया है।
वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन पेपर अपलोड
- स्टेट ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट ने अपनी वेबसाइट पर भी धोनी की गाड़ी का रजिस्ट्रेशन पेपर अपलोड किया है।
- वेबसाइट में धोनी की गाड़ी के बारे में कई इन्फॉर्मेशन गलत दी गई हैं। कई कॉलम खाली छोड़े हुए हैं।
- डिपार्टमेंट की टेक्निकल टीम हर रोज वेबसाइट को अपडेट करती है। मंगलवार शाम 6 बजे आखिरी अपडेट किया गया था।
हरभजन, मीका, सुनील शेट्टी भी हैं हमर के मालिक
- हरभजन सिंह, मीका सिंह, सुनील शेट्टी समेत कई सेलिब्रिटीज और बड़े इंडस्ट्रियलिस्ट के पास भी हमर है।
- यह महज 8.2 सेकंड में 100 किमी/घंटा की रफ्तार पकड़ सकती है।
- इसका वजन 3247 किलोग्राम है। जानकारों का कहना है कि झारखंड में पहली हमर धोनी ने ही खरीदी थी।
नियम क्या कहता है?

- गाड़ी अगर फॉरेन कैटेगरी की हो तो गाड़ी के मॉडल और मैन्युफैक्चरर का नाम वास्तविक जाना चाहिए। एेसा नहीं होना चाहिए कि राज्य में वह गाड़ी इकलौती भी हो तो रजिस्ट्रेशन किसी और एसयूवी के नाम पर कर दिया जाए। इसकी जांच होगी।
अब आपके पास है मौका आगे बढ़कर महिलाओं के संघर्ष का सम्मान करने का। dainikbhaskar.com पर अभी शेयर करें हौसले की मिसाल बनी महिलाओं की कहानी Woman Pride Award के लिए। इसके लिए यहां क्लिक करें www.bhaskar.com/campaigns/womens-day-special/

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि वालों से अनुरोध है कि आज बाहरी गतिविधियों को स्थगित करके घर पर ही अपनी वित्तीय योजनाओं संबंधी कार्यों पर ध्यान केंद्रित रखें। आपके कार्य संपन्न होंगे। घर में भी एक खुशनुमा माहौल बना ...

और पढ़ें