• Hindi News
  • एसिड अटैक झेलने वाली लक्ष्मी बनी मां, भास्कर के जरिये देश से साझा की अपनी खुशी

एसिड अटैक झेलने वाली लक्ष्मी बनी मां, भास्कर के जरिये देश से साझा की अपनी खुशी

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नई दिल्ली. आप और हम उस चेहरे को देखकर शायद सहम जाएं, पर पीहू नाम की बच्ची के लिए वो दुनिया का सबसे खूबसूरत चेहरा है। तेजाब हमले की शिकार लक्ष्मी अब मां बन गई हैं। पीहू उनकी बेटी है, जो अब सात महीने की हो गई है। और लक्ष्मी फिर से तेजाब हमले की शिकार लड़कियों की लड़ाई से जुड़ गई हैं। पहली बार उन्होंने बेटी की कहानी और फोटो दैनिक भास्कर के जरिए दुनिया से बांटी।
लिव-इन में हैं लक्ष्मी
लक्ष्मी और आलोक ढाई साल से लिव-इन रिलेशनशिप में हैं। दोनों ने शादी नहीं की, पर साथ रहने का फैसला किया। सात महीने पहले पीहू का जन्म हुआ। बर्थ सर्टिफिकेट बनवाने गए तो मुश्किल खड़ी हो गई। वहां माता-पिता दोनों का नाम देना होता है। आलोक कहते हैं, “पीहू की पूरी जिम्मेदारी लक्ष्मी उठाती है। ऐसे में, लड़कियों को अकेले पेरेंट बनने का हक मिलना चाहिए। हम पीहू को स्कूल नहीं भेजेंगे। उसकी परवरिश बिल्कुल अलग होगी।”
एसिड अटैक का शिकार बने चेहरों को देखकर नहीं डरती पीहू
अभी भी पीहू का ज्यादातर वक्त तेजाब पीड़ितों के लिए काम करने वाली संस्था ‘स्टॉप एसिड अटैक कैंपेन’ के ऑफिस ‘छांव’ में बीतता है। एसिड से जले चेहरों को देखकर वह बिल्कुल नहीं डरती। लक्ष्मी को देखे बिना उसका कोई काम होता ही नहीं। मुस्कुराहट भी मां को देखकर और रोने लगे तो चुप भी मां को ही देखकर होती है।
एक डर जो अब खुशी में बदल गया
आलोक कहते हैं, “प्रेग्नेंसी के दौरान लक्ष्मी डरती थी कि बच्चा उसका चेहरा देख डर तो नहीं जाएगा। रोती भी थी। उसे समझाया कि उनकी बेटी आम बच्चों जैसी नहीं है, जो तेजाब पीड़ितों को देख भूत-भूत चिल्लाए। वो गर्व करेगी कि उसकी मां लक्ष्मी हैं।” लक्ष्मी बताती हैं, "बेटी ने जरा भी दर्द नहीं दिया। डिलिवरी भी नॉर्मल हुई।" लक्ष्मी अभी लखनऊ में शुरू होने वाले शीरोज कैफे का प्रोजेक्ट देख रही हैं। इसे तेजाब पीड़ितों द्वारा चलाया जाएगा। अगले माह उद्घाटन होगा। पीहू भी हर प्रोजेक्ट पर मम्मी के साथ जाती है।
कौन हैं लक्ष्मी?
लक्ष्मी 16 साल की थीं, तब (2005 में) उन पर एसिड अटैक हुआ था। उन्हीं की अर्जी पर सुप्रीम कोर्ट ने एसिड की खुली बिक्री पर रोक लगाने का आदेश दिया। 2014 में मिशेल ओबामा ने लक्ष्मी को ‘इंटरनेशनल वुमन ऑफ करेज’अवॉर्ड से सम्मानित किया।
आगे की स्लाइड्स में देखें, लक्ष्मी और आलोक की फोटोज...