पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • नक्सलियों से हुई मुठभेड़ में मप्र का एक जवान शहीद

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नक्सलियों से हुई मुठभेड़ में मप्र का एक जवान शहीद

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भोपाल। बिहार में नक्सलियों और कमांडोज के बीच चले एनकाउंटर में मप्र का एक जवान भी शहीद हुआ है। उल्लेखनीय है कि बिहार के औरंगाबाद-गया जिले के बॉर्डर पर सोनदाहा के जंगल में नक्सलियों ने सोमवार दोपहर लैडमाइन्स में ब्लास्ट कर दिया था। सर्च ऑपरेशन पर निकले कमांडोज ने इसके बाद नक्सलियों के साथ एनकाउंटर शुरू किया, जो देर रात तक चला। इस दौरान 10 जवान शहीद हो गए। इनमें मप्र के बैतूल जिले की मुलताई तहसील का रहने वाला जवान मनोज चोरे भी शहीद हो गया। जाबांज और हंसमुख था मनोज....
मनोज फेसबुक के जरिये अपने दोस्तों से संपर्क में रहता था। वह कर्म को सर्वोपरी मानता था। उसने 27 मई को अपनी पोस्ट में लिखा - 'ये जरूरी तो नहीं कि इंसान हर रोज मंदिर जाए। बल्कि कर्म ऐसे होने चाहिए कि इंसान जहां भी जाए, मंदिर वहीं बन जाए!'

यह है पूरा मामला...
बिहार के औरंगाबाद-गया जिले के बॉर्डर पर सोनदाहा के जंगल में नक्सलियों के साथ सोमवार रात तक चली मुठभेड़ में छह नक्सली भी मारे गए हैं। वहीं, घायल जवानों और कमांडोज को देर रात हेलिकॉप्टर के जरिए निकाला गया। पहली बार रात डेढ़ बजे पटना एयरपोर्ट खोला गया। वहां से घायलों को अस्पताल भेजा गया। इस मुठभेड़ में शहीद हुआ बैतूल जिले की मुलताई तहसील निवासी मनोज पुत्र रामदयाल चोरे CRPF की 205 कोबरा औरंगाबाद बटालियन का जवान था। किसान पिता की संतान मनोज की अभी शादी नहीं हुई थी, लेकिन घरवाले जल्द शादी का सपना संजोये बैठे थे। मनोज CRPF में 2009 में भर्ती हुआ था। पांच एकड़ की कृषि भूमि वाले किसान रामदयाल चौरे के शहीद पुत्र मनोज पर ही परिवार की जिम्मेदारी थी। गांव में रामदयाल और मनोज के छोटे भाई संजय खेती संभालते हैं। मनोज हाल ही में 26 जून को छुट्टी बिताकर गांव से ड्यूटी के लिए रवाना हुआ था। रामदयाल की अपने बेटे से दो दिन पहले ही बात हुई थी और उसने अपनी मां के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी भी ली थी। घर में मां कमलाबाई के अलावा एक छोटा भाई संजय और बहन कल्पना है। एक बहन बाली की शादी हो चुकी है। सभी मनोज के शहीद होने की खबर सुनकर जहां गमगीन हैं, वहीं उन्हें इस बात पर गर्व भी है कि, वो अपना फर्ज निभाते हुए शहीद हुआ। स्थानीय लोगों के मुताबिक, मनोज हंसमुख और मिलनसार व्यक्ति था।
- बरकतउल्ला विवि (भोपाल) से ग्रैजुएशन करने वाला मनोज अपनी ड्यूटी के बीच फुर्सत के पलों को फोटो के रूप में अकसर एफबी पर शेयर करता था। खतरों के बीच ड्यूटी करने के बावजूद उसका हर फोटो मुस्कराता नजर आता था।
अब यह जानें
-बता दें कि एक हफ्ते पहले ही नक्सलियों ने औरंगाबाद के एसपी बाबूराम को जान से मारने की धमकी दी थी।
-सोमवार दोपहर नक्सलियों की घेराबंदी के लिए सीआरपीएफ की इलीट कमांडो फोर्स कोबरा के जवान सोनदाहा पहुंचने वाले थे।
-नक्सलियों को इसकी भनक लग गई और उन्होंने सिक्युरिटी फोर्स पर हमला बोल दिया।
-जवानों ने भी जवाबी फायरिंग की। दोनों ओर से 500 राउंड से ज्यादा गोलियां चलीं।
-इस दौरान डुमरी के पास पहले से घात लगाए बैठे नक्सलियों ने लैंडमाइन्स ब्लास्ट कर दिया। आठ जवान शहीद हो गए।
- मूसलधार बारिश और अंधेरा होने से जवानों को ऑपरेशन में काफी मुश्किल भी हुई।

बड़ी साजिश के लिए मीटिंग कर रहे थे नक्सली
- पुलिस के मुताबिक, लगातार मात खा रहे नक्सली किसी बड़ी घटना को अंजाम देने के लिए सोमवार को जंगल में जमा हुए थे।
- नक्सलियों में पोलित ब्यूरो मेंबर संदीप यादव, जोनल कमांडर नवल भुइयां, रामप्रसाद यादव, अभय यादव और अभिजीत यादव शामिल थे।
- नक्सलियों के जुटने की इंटेलिजेंस इनपुट मिलते ही औरंगाबाद पुलिस, कोबरा 205 तथा सीआरपीएफ के सैकड़ों जवान पहाड़ियों की ओर चले गए।

जंगल में फंसे रहे कोबरा के 60 जवान
-50 से 60 जवान मंगलवार तक जंगल में फंसे रहे। सीआरपीएफ के डीआईजी कमल किशोर के मुताबिक, नक्सलियों के पास से भारी तादाद में एडवांस्ड वेपन्स और कारतूस मिले हैं।

जख्मी जवानों को लाया गया पटना
- तीन घायल जवानों को हेलिकॉप्टर से देर रात पटना लाया गया। दो जवानों को गया के एएनएमएमसीएच में भी भर्ती कराया गया है।
- घायल जवानों को लाने के लिए मौके पर लैंड कर रहे हेलिकॉप्टर को नक्सलियों ने निशाना बनाकर गिराने की भी कोशिश की।
अगली स्लाइड्स में देखें मनोज के कुछ PHOTOS

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- कुछ महत्वपूर्ण नए संपर्क स्थापित होंगे जो कि बहुत ही लाभदायक रहेंगे। अपने भविष्य संबंधी योजनाओं को मूर्तरूप देने का उचित समय है। कोई शुभ कार्य भी संपन्न होगा। इस समय आपको अपनी काबिलियत प्रदर्...

और पढ़ें