पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • तत्काल के लिए रेलवे की ई टोकन व्यवस्था आज से

तत्काल के लिए रेलवे की ई-टोकन व्यवस्था आज से

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
सिटी रिपोर्टर.जोधपुर| ट्रेनके तत्काल टिकट के लिए रिजर्वेशन ऑफिस में सुबह जल्दी आकर कतार में खड़े होने की जरूरत नहीं होगा। रेलवे की वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन के बाद तत्काल टिकट के लिए काउंटर संख्या कतार में खड़े होने के क्रम का टोकन पहले ही मिल सकेगा। जोधपुर मंडल अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर इस नए सिस्टम को शुरू करने जा रहे है। पायलट प्रोजेक्ट के तहत इसकी शुरूआत महिला यात्रियों से होगी। महिला यात्री रविवार से इस सिस्टम में पंजीयन करवा सकेंगी। उन्हें सोमवार से टोकन दिए जाएंगे। आरक्षण केंद्र के अन्य काउंटर्स पर पहले की तरह तत्काल के टिकट जारी होंगे।

आरक्षणपर्ची में चार में से एक नाम महिला का होना जरूरी: मंडलरेल प्रबंधक राजीव शर्मा ने बताया कि तत्काल के लिए सुबह दस बजे काउंटर पर टिकट दिए जाते हैं। यह सुविधा उन्हीं महिला यात्रियों को मिलेगी जिनकी आरक्षण पर्ची में लिखे गए चार यात्रियों में से एक महिला होगी। यात्रियों के सुझाव इस प्रणाली की सफलता के बाद इसे वरिष्ठ नागरिकों आम यात्रियों के लिए शुरू किया जाएगा।



फिलहाल काउंटर नंबर तीन को ई-टोकन के लिए आरक्षित किया गया है। अन्य काउंटर पर पूर्व की तरह तत्काल के टिकट मिलते रहेंगे।



ऐसे समझें इलेक्ट्रॉनिक टोकन सिस्टम की प्रक्रिया:

1. पहले वेबसाइट पर करवाना होगा रजिस्ट्रेशन

यात्रियों को इलेक्‍ट्रॉनिक टोकन सिस्टम से जुड़ी वेबसाइट www.jodhpurrailsuvidha.com पर सबसे पहले वन टाइम रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। इसमें यात्री को अपना नाम, पता, उम्र, मोबाइल नंबर के साथ एक आईडी प्रूफ की जानकारी देनी होगी। मोबाइल पर आने वाले वेरिफिकेशन कोड को फीड करने के बाद रजिस्ट्रेशन हो जाएगा।

2. एक दिन पहले आवेदन, एसएमएस से टोकन नंबर

रजिस्टर्ड यात्री को तत्काल के लिए टिकट जारी होने के दिन से एक दिन पहले सुबह दस से शाम पांच बजे के दौरान टोकन के लिए आवेदन करना होगा। कम्प्यूटर रजिस्टर्ड यात्रियों में से दस का रेंडम प्रणाली से चयन करेगा। इन्हें एक से दस अंक के टोकन नंबर उसी दिन शाम को एसएमएस के माध्यम से भेज दिए जाएंगे।

3. टोकन और आईडी दिखा खड़े हो सकेंगे कतार में

तत्काल के लिए आरक्षण सुबह 10 बजे शुरू होता है। यात्री को सुबह 9:30 बजे आरक्षण केंद्र पहुंचकर वहां रेलकर्मी को एसएमएस में टोकन नंबर और आईडी प्रूफ दिखाना होगा। इसके बाद रेलकर्मी यात्री को आवंटित काउंटर पर लगी कतार में उसके क्रम पर खड़ा कर देगा। जिन्हें टोकन नंबर आवंटित नहीं होंगे उन्हें भी इसकी सूचना का एसएमएस भेजा जाएगा।