--Advertisement--

महिला की लाश लेने आए पति, बेटा और भाई अस्पताल के गेट पर हादसे में जख्मी

देहरादून के बिजनेसमैन की पत्नी की मोहाली के अस्पताल में इलाज के दौरान हुई मौत।

Dainik Bhaskar

Dec 21, 2017, 04:29 AM IST
Husband, son and brother injured in an accident at the gate of the hospital

मोहाली. देहरादून में रहने वाले 59 साल के बिजनेसमैन अनिल कुमार की पत्नी का सेक्टर-71 स्थित आईवी अस्पताल में भर्ती थी। उनकी पत्नी मधुराणा की इलाज के दौरान मौत हो गई। उस समय अनिल देहरादून गए हुए थे और अस्पताल में उनके अन्य रिश्तेदार थे। पत्नी की मौत की खबर सुनते ही वे अपने बेटे के साथ शव लेने पहुंचे तभी हॉस्पिटल के गेट पर उनकी कार का एक्सीडेंट हो गया।

- पत्नी की मौत की खबर मिलते ही अनिल अपने बेटे आर्मी जवान अनीष राणा और मृतका के भाई 53 साल के विमल ठाकुर बहादुर के साथ देहरादून से अपनी कार में आईवी अस्पताल के लिए निकले। मंगलवार रात करीब 12 बजे जब तीनों मोहाली पहुंचे और अस्पताल के गेट के पास ट्रैफिक लाइटों से अस्पताल की तरफ मुड़ने लगे तो दूसरी तरफ से रही एक तेज रफ्तार कार ने उनकी कार को टक्कर मार दी। - यह टक्कर ड्राइवर के साथ वाली सीट की तरफ से लगी, जिससे उनकी गाड़ी काफी दूर जाकर गिरी। इस हादसे में टक्कर मारने वाला कार चालक फेज-1 निवासी सतवीर सिंह तुरंत अपनी गाड़ी छोड़कर अंधेरे में फरार हो गया, जबकि देहरादून निवासी अनिल कुमार, उनके बेटा अनीष और साले विमल को काफी चोटें आईं। उन्हें राहगीरों की सहायता से आईवी अस्पताल पहुंचाया गया।

- मटौर पुलिस ने विमल के बयानों पर टक्कर मारने वाले कार चालक सतवीर सिंह के खिलाफ आईपीसी की धारा 279, 337 और 427 के तहत केस दर्ज कर लिया है। हालांकि अभी तक आरोपी की गिरफ्तारी नहीं की गई है। पुलिस का कहना है कि अारोपी को जल्द ही िगरफ्तार कर लिया जाएगा।

टक्कर मारने वाले को भी आईं खरोंचें, भीड़ में हुआ गायब
आईओसुरजीत सिंह ने बताया कि अस्पताल से हादसे की सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर गई। अस्पताल स्टाफ ने बताया कि टक्कर मारने वाला कार चालक सतवीर सिंह वहीं पर था। उसे भी कुछ खरोंचे आईं, लेकिन जब लोग घायलों को कार से निकालने में जुट गए तो भीड़ का फायदा उठाते हुए वह कार छोड़कर फरार हो गया। पुलिस ने दोनों गाड़ियाें को कब्जे में लेकर कार्रवाई शुरू कर दी है।

राहगीरों और अस्पताल से स्टाफ ने घायलों को निकाला
- देहरादून से अनिल अपने बेटे साले के साथ मोहाली पहुंचे तो मंगलवार रात करीब 12 बजे आईवी अस्पताल से करीब 10 कदम दूर ट्रैफिक लाइटों पर दूसरी तरफ से रही तेज रफ्तार कार ने उनकी कार को टक्कर मार दी।

- टक्कर इतनी जोरदार थी कि उनकी गाड़ी काफी आगे तक खिसक गई। जोर की आवाज सुन अस्पताल का स्टाफ और वहां से गुजरने वाले लोग रुक गए और तीनों को क्षतिग्रस्त गाड़ी से बाहर निकलकर इसी अस्पताल में ले गए।

X
Husband, son and brother injured in an accident at the gate of the hospital
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..