Hindi News »Delhi »New Delhi »Noida» Interview With Shaji Varghese Executive Director Of PNB Housing Finance

हर कस्टमर को सूट करते हैं हमारे होम लोन प्रोडक्ट : शाजी वर्गीस

dainikbhaskar.com | Last Modified - Feb 07, 2018, 02:02 PM IST

पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस (PNB Housing Finance) देश के हाउसिंग फाइनेंस के क्षेत्र में तेजी से बढ़ती कंपनियों में से एक है।
हर कस्टमर को सूट करते हैं हमारे होम लोन प्रोडक्ट : शाजी वर्गीस

नई दिल्ली।पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस (PNB Housing Finance) देश के हाउसिंग फाइनेंस के क्षेत्र में तेजी से बढ़ती कंपनियों में से एक है। बीते छह साल के दौरान यह टॉप 5 HFCs में स्थान बनाने में सफल रही है। पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस के ग्रोथ के पूरे सफर और भविष्य की प्लानिंग को लेकर हमने इसके एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर और बिजनेस हेड शाजी वर्गीससे बात की। पेश है बातचीत के मुख्य अंश :

सवाल : बीते सालों में पीएनबी हाउसिंग की ग्रोथ की बड़ी वजह क्या रही है?


शाजी वर्गीस :पीएनबी हाउसिंग की ग्रोथ में कई फैक्टर्स का हाथ रहा है। इनमें बीते 6 सालों के दौरान कंपनी में हुए गहन बदलाव भी शामिल हैं। इन सालों में पीएनबी हाउसिंग में इनोवेशन और टैलेंट मैनेजमेंट को स्थान दिया गया है। यही वजह है कि पीएनबी हाउसिंग देश में तेजी से बढ़ने वाली हाउसिंग फाइनेंस कंपनियों में शामिल है।

अस्थाई बाहरी वातावरण के बावजूद कंपनी ने काफी अच्छे रिजल्ट्स दिए हैं। बाजार में अस्थिरता का सामना करने के लिए कंपनी ने एक बहुत ही मजबूत आतंरिक सिस्टम और प्रोसेस का विकास किया है। हमने हाई असेट क्वालिटी को मेंटेन करने के साथ-साथ देश की तेजी से बढ़ती हाउसिंग फाइनेंस कंपनियों में अपने आप को बनाए रखा है। यह इस तथ्य से भी साफ होता है कि इंडस्ट्री में हमारा एनपीए का लेवल काफी कम है।

पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस ने कई फाइनेंशिय प्रोडक्ट्स जोड़े हैं और अंडरराइटिंग एक्सपरटाइज को मजबूत किया है। हम ऐसी कंपनी के विकास पर फोकस कर रहे हैं जो अपने समकालीन ग्राहकों की आवास संबंधी जरूरतों को पूरा करने के प्रति कमिटेड हो। जहां तक जियोग्राफी का सवाल है, हम पूरे पैन इंडिया में एक बैलेंस्ड डिस्ट्रीब्यूशन नेटवर्क बनाने में सफल रहे हैं।

इन सभी वजहों से पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस देश के टॉप 5 HFCs में स्थान बनाने में सफल रही है। पिछले पांच साल के दौरान इसका नेट प्रॉफिट 54% CAGR की दर से बढ़ता जा रहा है। इसी अवधि में लोन पोर्टफोलियो भी 55% CAGR की दर से पांच गुना तक बढ़ गया है।

सवाल : ऐसे कौन-से फैक्टर्स हैं जो लोन ग्रोथ में मदद कर सकते हैं?


शाजी वर्गीस :सरकार द्वारा हाउसिंग सेक्टर में उठाए गए कदमों के कारण एक हद तक ग्रोथ को बढ़ाने में मदद मिली है। इस सेक्टर में कुछ और भी प्रोत्साहन मिलने की उम्मीद है। हाउसिंग सेक्टर का जो एंड यूजर है, वह मकानों की उपलब्धता की ताजा बयार का आनंद ले रहा है। केंद्रीय बजट 2018 में अफोर्डेबल हाउसिंग को लेकर नए प्रस्ताव जैसे अफोर्डेबल हाउसिंग फंड (AHF) से रियल एस्टेट डेवलपर कम्युनिटी और घर खरीदने वाले लोगों में उत्साह आना चाहिए। इसके अलावा घर खरीदने पर जीएसटी दर को 12 प्रतिशत से घटाकर 8 प्रतिशत करने से भी फायदा मिलेगा। मौजूदा नीतिगत प्रावधानों जैसे रेरा और जीएसटी से रियल एस्टेट सेक्टर में अनुशासन और पारदर्शिता आएगी और कस्टमर सर्विस स्टैंडर्ड्स बेहतर होंगे। कुल मिलाकर कह सकते हैं कि मौजूदा परिदृश्य हाउसिंग सेक्टर के लिए एक बेहतर तस्वीर पेश कर रहा है।

सवाल : इस समय देश में कई होम लोन प्रोवाइडर्स हैं। तो किसी को क्यों पीएनबी हाउसिंग को चुनना चाहिए?


शाजी वर्गीस : होम लोन मार्केट में बैंकों और हाउसिंग फाइनेंस कंपनियों के प्रोडक्ट्स की भरमार है। पीएनबी हाउसिंग मौजूदा समय में हाउसिंग फाइनेंस के सेक्टर में पोर्टफोलियो के साइज के मामले में पांचवें स्थान पर और डिपोजिट साइज के मामले में दूसरे स्थान पर है। हालांकि हम रैंकिंग और बैलेंस शीट से ज्यादा फोकस सेंसिबल और एथिकल बिजनेस पर कर रहे हैं। पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस पिछले तीन दशकों से अपने उपभोक्ताओं को अनपैरेलल सर्विस उपलबध करवा रहा है। इसके अलावा घर खरीदने के इच्छुक लोगों को उनकी जरूरत के अनुसार होम लोन सॉल्यूशन ऑफर कर रहा है। हमने इस बात की पूरी स्टडी की है कि आज का कस्टमर क्या चाहता है। उसके अनुकूल ही हमने अपने प्रोडक्ट्स को इस तरह से तैयार किया कि वे समकालीन होम बायर्स को सूट करें।

हमारी ऑफरिंग्स कई फीचर्स से लेस हैं जैसे डोरस्टेप सर्विस, मल्टीपल टच पाइंट्स जैसे ब्रांचेस, वेबसाइट, ई-मेल, टोल फ्री नंबर्स। इसके अलावा हमारी प्रतिबद्ध कस्टमर सर्विस टीम है। इससे प्री और पोस्ट डिस्बर्समेंट चरणों में लोन बॉरोविंग प्रोसेस कस्टमर के लिए अधिक सुविधाजनक बन जाती है। हम सभी चरणों में कोशिश करते हैं कि हमारे कस्टमर्स को होम लोन के बेनिफिट्स मिलने के साथ-साथ स्मूद अनुभव मिले।

सवाल : साल 2018 के लिए ब्याज दरों को लेकर आपका क्या नजरिया है?


शाजी वर्गीस :ब्याज दरों में लगातार कमी हो रही है। होम लोन एक अंकीय ब्याज दर पर उपलब्ध है। मेरा ऐसा मानना है कि ब्याज दर अपने न्यूनतम स्तर पर पहंच गई है और अब हम इसमें बढ़ोतरी का ट्रेंड देख रहे हैं। हां, फिर भी मेरा मानना है कि निकट भविष्य में ब्याज दरें एक अंक में बनी रहेंगी। इसलिए कस्टमस्र को इस स्थिति को पूरा फायदा उठाना चाहिए।

सवाल : होम लोन सेगमेंट में क्या आप 2018 में कोई यूनिक या इनोवेटिव प्रोडक्ट लाने का प्लान कर रहे हैं?


शाजी वर्गीस : पीएनबी हाउसिंग में हम लगातार इनोवेशन करते आए हैं। ग्राहकों की जरूरत के अनुसार हम अपने प्रोडक्ट्स में लगातार बदलाव भी करते आए हैं। हमने जो असली अंतर पैदा किया है, वह यह है कि सेल्फ एम्पलायड कस्टमर्स की हाउसिंग जरूरतों को पूरा करने की कोशिश की है। अन्य फाइनेंशियल इंस्टीट्यूशन्स केवल नौकरीपेशा लोगों पर फोकस करते हैं, हमने 30 फीसदी से भी अधिक होम लोन सेल्फ एम्पलायड कैटेगरी के लोगों को उपलब्ध करवाए हैं। मुझे लगता है कि यह एक बड़ा कदम है जिसके तहत हमने अपने टारगेट ग्रुप के बेस को बड़ा किया है।

सवाल : आज से 5 साल के बाद आप पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस को किस जगह पर देखते हैं?


शाजी वर्गीस : हमें यह कहने में बहुत खुशी हो रही है कि हम क्वालिटी पोर्टफोलियो को मेंटेन करने के साथ पिछले कई क्वार्टर्स से इंडस्ट्री की औसत ग्रोथ को पार करते आ रहे हैं। यह इसलिए संभव हो पाया क्योंकि बीते 6 साल के दौरान हम बहुत ही बारीकी से अपनी बिजनेस प्रोसेस को तैयार कर उसे अमल में लाए। उसी के फल अब हमें मिल रहे हैं।

भविष्य में हमारी अभिलाषा देश में ‘मोस्ट एडमायर्ड’ हाउसिंग फाइनेंसस कंपनी के रूप में खुद को स्थापित करने की है। हम भविष्य में केवल लाभदायक ही नहीं, बल्कि ऐसा सार्थक बिजनेस करना चाहते हैं जो सस्टेनेबल, एथिकल और ट्रांसपेरेंट हो।


हम चाहते हैं कि हमारे कस्टमर हमारे साथ होम लोन पार्टनर बनते समय गर्व महसूस करें।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: har kstmr ko sut karte hain hmaare hom loan prodkt : shaaji vrgais
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      रिजल्ट शेयर करें:

      More From Noida

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×