Hindi News »Chandigarh Zilla »Mohali »Kharar» हाल पूछकर एसएचओ बोेले-सुसाइड की कोशिश पर होता है 309 का केस

हाल पूछकर एसएचओ बोेले-सुसाइड की कोशिश पर होता है 309 का केस

प|ी के साथ झगड़े से परेशान मुंडी खरड़ निवासी पवन कुमार सुसाइड करने की नियत से शराब पीकर रेलवे स्टेशन खरड़ पहंुचा।...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 01, 2018, 02:00 AM IST

हाल पूछकर एसएचओ बोेले-सुसाइड की कोशिश पर होता है 309 का केस
प|ी के साथ झगड़े से परेशान मुंडी खरड़ निवासी पवन कुमार सुसाइड करने की नियत से शराब पीकर रेलवे स्टेशन खरड़ पहंुचा। वहां पर उसको सादे कपड़ांे में तैनात मुलाजिम राजिंदर कुमार ने वापिस घर जाने के लिए कहा तो इसको लेकर उनमें झगडा हो गया। इस झगड़े में पवन कुमार को काफी चोट लगी और उसने खुद को मुलाजिमांे द्वारा बंधक बनाकर पीटने का आरोप लगाया। घायल पवन कुमार फेज-6 स्थित सिविल अस्पताल में भर्ती है और उसका एक घुटना फ्रक्चर हो गया है। भास्कर में प्रकाशित खबर के बाद शनिवार को सरहंद रेलवे पुलिस स्टेशन के प्रभारी सुखविंदर सिंह घायल का हाल जानने के लिए सिविल अस्पताल फेज-6 पहंुचे। पीड़ित ने आरोप लगाया कि वह हाल जानने के बहाने बताने आए थे कि वह उस पर सुसाइड का प्रयास करने का केस दर्ज करने जा रहे हैं। हालांकि रेलवे मुलाजिम राजिंदर व उसके तीन अन्य साथियों द्वारा पवन की बेरहमी से मारपीट की शिकायत परिजनांे ने एसएसपी कुलदीप सिंह चहल को भी दी थी, लेकिन एसएसपी ने मामला रेलवे पुलिस का होने के चलते उनको रेलवे अधिकारियों को शिकायत देने का सुझाव दिया था। वहीं फेज-6 सिविल अस्पताल के डॉक्टरों ने बताया कि पीड़ित पवन कुमार के घुटने की सर्जरी की जाएगी और उसके घुटने में रॉड डलेगी। एक या दो दिन के बाद डॉक्टर पवन के घुटने की सर्जरी कर सकते हैं। रेलवे पुलिस ने पवन के खिलाफ शराब पीकर हंगामा करने का केस दर्ज किया था।

अस्पताल पहुंचे एसएचओ, जाते-जाते दे गए नसीहत

सिविल अस्पताल मोहाली में भर्ती पवन कुमार का हाल जानने पहुंचे एसएचओ सुखविंदर सिंह ने हाल पूछने के बाद जाते-जाते पवन से कहा कि सुसाइड की कोशिश करने पर धारा 309 के तहत केस दर्ज होता है।

हाल जानने नहीं बताने आए थे हो सकता है मामला दर्ज...पीड़ितपवन व उसके घरवालों ने आरोप लगाया कि एसएचअो रेलवे फेज-6 सिविल अस्पताल में पवन का हाल जानने के लिए नहीं, बल्कि यह बताने आए थे कि मुलाजिम राजिंदर ने तो उसको सुसाइड करने से रोका है और किसी की इंसानियत का यह सिला दिया गया है। इसी कारण लोगों का विश्वास किसी की सहायता करने से उठ गया है। यही नहीं, जाते-जाते एसएचओ यह भी बता गए कि सुसाइड का प्रयास करने वाले पर आईपीसी की धारा 309 का केस दर्ज होता है। इस बारे में एसएचओ से बात नहीं हो पाई।

प|ी से झगड़ा होने के बाद गया था रेलवे स्टेशन...पवनकुमार ने चंद दिनों पहले किसी कारण से जॉब छोड़ दी। इसको लेकर उसमें और उसकी प|ी में कहासुनी हुई और पवन शराब पीकर रेलवे स्टेशन खरड़ चला गया। वहां पर उसको मुलाजिम राजिंदर सिंह मिला और उसके साथ झगड़ा हो गया। पीड़ित ने आरोप लगाया की राजिंदर ने अपने साथियों के साथ मिलकर उसको बंधक बनाकर पीटा। इससे उसके घुटने में फ्रेक्चर हो गया था।

मामला मेरी नॉलेज में आ गया है। इंटरनल इंक्वायरी कर रहे हैं। पीड़ित परिवार शिकायत दे जाए। जिसकी गलती होगी उस पर बनती कार्रवाई जरूर की जाएगी। -गगनदीप सिंह, डीएसपी रेलवे पुलिस

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kharar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×