• Home
  • Chandigarh Zilla
  • Mohali
  • Kurali
  • कुराली में नगर काउंसिल की अनदेखी के कारण रैन बसेरा बना खंडहर
--Advertisement--

कुराली में नगर काउंसिल की अनदेखी के कारण रैन बसेरा बना खंडहर

सरकार की हिदायतों पर मुसाफिरों और जरूरतमंदो के लिए शहर में नगर काउंसिल की ओर से बनाया गया रैन बसेरा सरकारी बेरूखी...

Danik Bhaskar | Feb 02, 2018, 02:10 AM IST
सरकार की हिदायतों पर मुसाफिरों और जरूरतमंदो के लिए शहर में नगर काउंसिल की ओर से बनाया गया रैन बसेरा सरकारी बेरूखी का शिकार होकर रह गया है। लाखों रुपए खर्च करके बनाए गए रैन बसेरे की इमारत नगर काउंसिल द्वारा अनदेखी की जाने के कारण खंडहर का रूप धारण करती जा रही है। शहर निवासियों ने नगर काउंसिल और प्रशासन से इसकी खंडहर हालत को सुधारने की मांग की है।

काउंसिल लाखों रुपए खर्च करके बनाया था रैन बसेरा: लोगों की सुविधा के लिए नगर काउंसिल द्वारा कुछ समय पहले स्थानीय वार्ड नंबर-6 की सिसवां रोड पर ट्यूबवेल के पास लाखो रुपए खर्च करके रैन बसेरा स्थापित किया गया था। इसकी इमारत में मुसाफिरों के रहने और रात बिताने के लिए बैड, बिस्तरे, सर्दी और गर्मी के बचाव के लिए कई सुविधाओं के अलावा बाथरूम और अन्य सुविधाओं का प्रबंध किया गया था।

लेकिन कुछ समय पहले से रैन बसेरा केवल कागजों में ही रह गया है। जबकि रैन बसेरा दम तोड़ने की कगार पर पहुंच गया है। स्थानीय शहर के रैन बसेरा की इमारत खस्ता और सुविधाओं से वंचित है। रैन बसेरा की रसोई जैसे छोटे कमरे में गंदगी की भरमार है, जबकि इसके बरामदे में ईंटो के ढ़ेर लगे हैं। मुसाफिरों के रहने वाले कमरे में ताले लगे हुए हैं। इस रैन बसेरे की दीवार पर लटका रैन बसेरा का पोस्टर केवल इसका श्रृंगार बनकर रह गया है। कमरे के आगे कई पेड़ों की पुरानी काटी हुई लकड़ियों के ढेर लगे हुए हैं। रैन बसेरा के कमरे को ताले लगे हुए हैं लेकिन काउंसिल के किसी भी अधिकारी और कर्मचारी को इन तालों की चाबी की कोई जानकारी नहीं है। नगर काउंसिल के कार्यसाधक अफसर गुरदीप सिंह के साथ संपर्क किया तो उन्होंने रैण बसेरे की खस्ता हालत की पुष्टि करते हुए कहा कि शहर में नया रैण बसेरा बनाए जाने की योजना तैयार की जा रही है।

उन्होंंने कहा कि जल्दी ही नई जगह पर रैण बसेरा स्थापित किया जाएगा ताकि जरूरतमंदो और मुसाफिर लोगो को सुविधा मिल सके।

सरकार की अनदेखी

नगर काउंसिल ने वार्ड नंबर-6 की सिसवां रोड पर ट्यूबवेल के पास लाखों रुपए खर्च करके बनाया था रैन बसेरा, अब नहीं ली गई इसकी सुध

बाथरूमों और बिजली के प्रबंधों की हालत खस्ता

यहां लोगों की सुविधा के लिए बनाए गए रैन बसेरा में मुसाफिरों के लिए बनाए गए बाथरूमो में गंदगी की भरमार है। इसके अलावा निकासी प्रबंध बिल्कुल ठप्प हुए पड़े हैं। यही नहीं उनमें पानी का भी कोई प्रबंध नहीं है और गंदगी बदबू आ रही है। न जाने काउंसिल कब इसे ठीक करवाएगी।